लाइव टीवी

अंजान और खतरनाक लोगों से बच्चों को रखें सावधान, सिखाएं ये 5 जरूरी बातें

News18Hindi
Updated: November 20, 2019, 2:46 PM IST
अंजान और खतरनाक लोगों से बच्चों को रखें सावधान, सिखाएं ये 5 जरूरी बातें
बच्चों को अच्छे से समझाएं कि हर वो अजनबी आपको नुकसान पहुंचा सकता है, जिसे आप नहीं जानते हैं.

बच्चों को सही-गलत की समझ नहीं होती है और लालच उनका प्राकृतिक स्वभाव होता है. इसलिए कोई अंजान अगर उन्हें खाने-पीने की चीजें देता है तो वह खा लेते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 20, 2019, 2:46 PM IST
  • Share this:
छोटे बच्चों के साथ कई तरह के अपराध के मामले हर रोज सामने आते रहते हैं. इन मामलों में कई अपराधी तो अंजान लोग होते हैं लेकिन कई बच्चों के आसपास मौजूद लोग ही होते हैं. अगर आप बच्चों को इन अंजान और खतरनाक लोगों से सावधान रहने के हिदायत देंगे तभी वह सतर्क रह पाएंगे. अपने बच्चों को इस तरह के लोगों से सुरक्षित रखने के कुछ अहम बातें सिखाना बहुत जरूरी होता है. आइए आपको बताते हैं कौन सी हैं वो बातें जो हर पैरेंट्स को अपने बच्चे को सिखाना चाहिए ताकि वह अंजान लोगों से सुरक्षित रह सके.

इसे भी पढ़ेंः खुश रहने के लिए बच्चों से सीखें ये 6 गुण, टेंशन हो जाएगी दूर

खाने-पीने का लालच न करें
बच्चों को सही-गलत की समझ नहीं होती है और लालच उनका प्राकृतिक स्वभाव होता है. इसलिए कोई अंजान अगर उन्हें खाने-पीने की चीजें देता है, तो वह आसानी से ले लेते हैं और खा लेते हैं. इसलिए बच्चों को ये बात जरूर समझाएं कि हर चॉकलेट देने वाले अंकल आंटी अच्छे नहीं होते हैं और उनकी बातों में भी नहीं आना चाहिए. कोई भी इंसान कुछ भी दे तो आसानी से न लें और न खाएं.

अंजान लोगों से सतर्क रहें
बच्चों को अच्छे से समझाएं कि हर वो अजनबी आपको नुकसान पहुंचा सकता है, जिसे आप नहीं जानते हैं. हर वो इंसान जिसे आपने नहीं देखा या कभी बात नहीं की. वैसे सारे अजनबी बुरे नहीं होते इसलिए कोशिश करें कि अपनी देखरेख में ही बाहर वालों से बच्चों को मिलवाएं, वरना बच्चा आगे जाकर किसी भी व्यक्ति से मिलने से डरने लगेगा. बच्चों को पड़ोस में रहने वालों से पहचान कराएं. पुलिसवालों की पहचान कराएं ताकि जरूरत पड़ने पर वह इन लोगों की मदद ले सके.

बच्चे को बच्चों के साथ ही खेलने भेजें
Loading...

कोशिश करें की आपके बच्चे दूसरे बच्चों के साथ ही खेलें. हालांकि बच्चों को एक दूसरे का साथ ही पसंद होता है. उनका सर्किल बड़ा होगा तो अजनबियों के साथ उनके जाने का खतरा कम होगा. ऐसे में वो अजनबियों की तरफ आकर्षित भी कम होगें. बच्चों के सभी दोस्तों से दोस्ती रखें, ताकि वो सारे बच्चें एक दूसरे के दोस्त ही नहीं जिम्मेदार भी बनें. उन्हें पता हो कि उनका दोस्त कहां जा रहा है, क्या कर रहा है. बच्चे को आप अजनबियों से होने वाले खतरे के बारे में बताएंगे, तो वह सोच समझकर अनजान लोगों से बात करेंगे.

बच्चों को गुड टच-बैड टच के बारे में बताएं
बच्चों को सही और गलत टच की जानकारी देना बहुत जरूरी होता है. ऐसा सिर्फ लड़कियों के लिए ही नहीं बल्कि लड़कों के लिए भी जरूरी होता है. बच्चों को समझाएं कि मां-बाप के अलावा किसी की भी गोद में जाकर न बैठें. ये बातें एक बार में आसानी से बच्चों को नहीं समझाई जा सकती हैं. इसके लिए आपको बच्चों से लगातार बात करनी पड़ेगी. दिनभर क्या हुआ, ये जानना होगा. उनकी बातों को थोड़ा गंभीरता से सुनें. बच्चों को मैनर्स, एटिकेट्स के साथ साथ कुछ बातों में न कहना सिखाना चाहिए. आप उनको टच करके समझा सकते हैं कि इन चीजों में उनको न कहना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः बच्चों में नजर आ रहा है चिड़चिड़ापन? पैरेंट्स इन 5 बातों का रखें ख्याल

सुनसान जगह पर न जाने दें
बच्चों को ये बताना भी जरूरी है कि अकेले सुनसान जगह पर न जाएं. ये उनके लिए परेशानी का कारण बन सकता है. उन्हें खेलने या घूमने के लिए सुनसान मकान, पार्किंग लॉट, अंधेरी गलियां और रास्ते आदि जगहों पर नहीं जाना चाहिए. बच्चों को उन रास्तों और जगहों की जानकारी भी दें जहां वो मदद के लिए जा सकें. जैसे पुलिस स्टेशन, स्कूल या किसी जानने वाले का घर. कोशिश करें कि बच्चों को उनके अपने घर का पता जितनी जल्दी हो याद करा दें. ये उनके लिए अच्छा रहेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 2:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...