ये मिट्टियां है बेस्ट स्किन और हेयर प्रोडक्ट, ऐसे करें इस्तेमाल

जानें उन मिट्टियों के बारे में जो ब्यूटी निखारती हैं-Image/news18

These Clay Will Groom Your Beauty- जानें, उन कई तरह की मिट्टी (Kind of many clay) के बारे में जो बहुत सारे नेचुरल कम्पाउंड से भरपूर (Naturally filled with lot of Compound) हैं. इनके इस्तेमाल से स्किन और बालों की सुंदरता तो निखरती ही है, कई तरह की दिक्कतों से भी निजात मिलती है.

  • Share this:
    These Clay Will Groom Your Beauty-  स्किन और बालों की सेहत और सुंदरता को निखारने के लिए (To enhance health and beauty of skin and hair) सबसे ज्यादा सेफ होता है नेचुरल चीजों का इस्तेमाल करना (Safe to use natural things) क्योंकि इनसे फायदे तो मिलते ही हैं साथ ही साइड इफेक्ट्स का कोई खतरा भी नहीं होता है. इसी के चलते लोग तरह-तरह की होम रेमेडीज़ स्किन और बालों पर आजमाते हैं. आज हम आपको उन कई तरह की मिट्टी (Kind of many clay) के बारे में बताएंगे जो प्राकर्तिक तौर पर बहुत तरह के कम्पाउंड से भरपूर हैं. इनके इस्तेमाल से आपका सौंदर्य तो निखरेगा ही साथ ही कई तरह की दिक्कतों से भी निजात मिलेगी. आइये जानते हैं इनके बारे में.

    रासौल क्ले

    रासौल क्ले के इस्तेमाल से स्किन में ग्लो तो आता ही है. ये स्किन की क्वालिटी में भी सुधार करती है. डेड सेल एक्सफोलिएट करती है और रिंकल्स को कम करने में भी मदद करती है. इसके इस्तेमाल से ब्लैकहेड्स और व्हाइटहैड्स से भी छुटकारा मिलता है और स्किन सॉफ्ट होती है. इतना ही नहीं ये बालों की चमक को बढ़ाती है. बालों से डेंड्रफ और बालों के टूटने-झड़ने की दिक्कत को कम करती है. इसका इस्तेमाल बाथ सोप, शैम्पू, बॉडी मास्क और फेशियल के लिए भी किया जा सकता है. इसमें पोटेशियम, कैल्शियम, सिलिका और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व होते हैं.

    काओलीन क्ले

    काओलीन क्ले को व्हाइट क्ले और चाइना क्ले के नाम से भी जाना जाता है. ये मिट्टी फेशियल, बाथ मास्क, बाथ सोप, शैम्पू और फेस पैक के तौर पर इस्तेमाल की जाती है. इसको मुहांसो को ठीक करने और ऑयली स्किन से एक्स्ट्रा ऑयल और गंदगी हटाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. साथ ही बालों से गंदगी, पसीना और अतरिक्त तेल हटाने के लिए शैम्पू या हेयर मास्क के तौर पर भी इस्तेमाल किया जाता है. ये मिट्टी कई कलर में आती है. इसमें एल्यूमीनियम ऑक्साइड और सिलिका जैसे कंपाउंड्स होते हैं जो स्किन और बालों को फायदा पहुंचाते हैं.

    ये भी पढ़ें: मुल्तानी मिट्टी से कम नहीं हैं बेंटोनाइट क्ले के फायदे, आप भी जानिए


    जीयोलाइट क्ले

    जीयोलाइट क्ले स्किन पर जमी गंदगी और एक्स्ट्रा ऑयल को आसानी के साथ हटाती और स्किन को एक्सफोलिएट करती हैं. ये स्किन पोर्स की गहराई से सफाई करती है. इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं. ये मिट्टी स्किन की महीन रेखाओं, झुर्रियों, डार्क सर्कल और सूजन को कम करने में भी मदद करती है. खुले पोर्स को कम, स्किन को टोन, टाइट, रिफाइन और क्लियर करती है. ब्लैकहेड्स और वाइटहैड्स से भी निजात दिलाती है.इस मिट्टी का इस्तेमाल बाथ सोप, फेस पैक और शैम्पू के तौर पर किया सकता है. साथ ही इसको टोनर और मॉइस्चराइज़र के साथ मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

    बेंटोनाइट क्ले
    बेंटोनाइट क्ले का इस्तेमाल स्किन और बालों की खूबसूरती निखारने के साथ ही इनको हेल्दी बनाने के लिए किया जाता है. ये मिट्टी स्किन पर जमी गंदगी, एक्स्ट्रा ऑयल और हानिकारक तत्वों को हटाकर इसको एक्सफोलिएट करती है. इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियमऔर सिलिकेट जैसे तत्व होते हैं. इसके इस्तेमाल से मुंहासे, स्किन की सूजन, स्किन एलर्जी, संक्रमण और एक्जिमा जैसी दिक्कतों दूर होती हैं. साथ ही बालों को मजबूती और चमक देकर डैमेज होने से भी ये मिट्टी बचाती है. इसको फेस पैक, सोप, शैम्पू और हेयर मास्क के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है.

    ये भी पढ़ें: चेहरे और बालों की खूबसूरती को निखारने के लिए ऐसे करें नारियल पानी का इस्तेमाल


    फुलर अर्थ क्ले यानी मुल्तानी मिट्टी

    फुलर अर्थ क्ले यानी मुल्तानी मिट्टी के बारे में तो ज्यादातर लोगों को पता ही है. जिनको जानकारी नहीं है उनको बता दें कि इस मिट्टी का इस्तेमाल भी स्किन और बालों की सेहत बेहतर बनाने के लिए किया जाता है. इसके इस्तेमाल से स्किन और बालों में मौजूद गंदगी, एक्स्ट्रा ऑयल, घमौरियों और दानों के साथ मुहांसों से भी निजात मिलती है. इस मिट्टी में आयरन, सिलिका, मैग्नीशियम, कैल्शियम, क्वार्टज, डोलोमाइट और कैलसिसाइट जैसे प्राकृतिक तत्व होते हैं इसको पानी के साथ तो इस्तेमाल किया ही जाता है. गुलाब जल, शहद, दूध और दही के साथ भी मिक्स करके फेस पैक, हेयर मास्क और बाथ सोप के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)