सिजेरियन डिलीवरी के बाद क्या खाएं और क्या नहीं? जानें

सिजेरियन डिलीवरी के बाद डाइट का रखें खास ख्याल-Image/Shutterstock

वैसे तो मां बनने के बाद (After becoming mother) हर तरह से डाइट का ध्यान रखना ज़रूरी है. लेकिन अगर डिलीवरी सिजेरियन हुई हो तो ये जानना ज्यादा जरूरी होता है कि डिलीवरी के बाद (After cesarean delivery) क्या खाना चाहिए और क्या नहीं.

  • Share this:
    मां बनने से पहले (Before becoming a mother) गर्भवती स्त्री की डाइट का ध्यान रखना (Take care of diet) जितना ज़रूरी होता है, मां बनने के बाद (After becoming mother) भी उतना ही ज़रूरी है. क्योंकि इसका सीधा असर केवल मां पर नहीं बल्कि बच्चे की सेहत पर भी पड़ता है. मां बनने के बाद वैसे तो डाइट का ध्यान रखना दोनों ही मामलों में ज़रूरी है फिर चाहें डिलीवरी नार्मल हो या सिजेरियन. लेकिन सिजेरियन डिलीवरी में इसकी इम्पोर्टेंस इसलिए बढ़ जाती है क्योंकि माँ शारीरिक तौर पर कई तरह की दिक्कतों से गुज़र रही होती है और उसको जल्दी रिकवरी की ज़रूरत होती है. इस दौरान इस बात का ख्याल रखना जितना ज़रूरी होता है कि डाइट में किन चीजों को शामिल करना है. तो इस बात का भी ध्यान रखना होता है कि डाइट में किन चीजों को शामिल नहीं करना है. क्योंकि स्टिच लगने की वजह से उसको कई तरह की परेशानी होने का डर बना रहता है. आइये जानते हैं कि सिजेरियन डिलीवरी के बाद डाइट में किन चीजों को शामिल करने की ज़रूरत है और किनको अवॉइड करना जरूरी है.

    फाइबर से भरपूर डाइट लें

    आपको अपनी डाइट में फाइबर से भरपूर चीजों को शामिल करने की ज़रूरत है. इसके लिए आप राजमा, रेशे वाली सब्जियां, ब्राउन ब्रेड, ओटमील, मटर, मक्का, नाशपाती, सेब, ब्राउन राइस, केले, अनन्नास, संतरा, सिंघाड़ा, मूली-गाजर, आलू और शकरकंद जैसी चीजों का सेवन कर सकती हैं. ये इस दौरान होने वाली गैस और कब्ज़ की दिक्कत से आपको राहत देंगे और पेट साफ रखेंगे, जिससे स्टिच पर ज़ोर नहीं पड़ेगा और घाव जल्दी ठीक होगा.

    ये भी पढ़ें: जानें प्रेग्नेंसी के दौर में किन कामों को करने से बचें गर्भवती महिलाएं


    डाइट में प्रोटीन शामिल करें

    सिजेरियन डिलिवरी के बाद महिलाओं को प्रोटीन से भरपूर चीजें खानी चाहिए. इसके लिए टोंड मिल्क, सोया मिल्क, टोफू, योगर्ट, दलिया, अंडा, व्हाइट बींस, दालें और मीट जैसी चीजों को डाइट में शामिल करना चाहिए. प्रोटीन की मदद से नए टिश्यू सेल्स की ग्रोथ तेज होती है.

    कैल्शियम भी है डाइट में ज़रूरी

    कैल्शियम से भरपूर चीजों को भी डाइट में शामिल करने की ज़रूरत होती है. इसके लिए कीवी, नारियल, आम, अन्नानास, मुनक्का, बादाम, तरबूज, दही, बीन्स, सूखी हुई मटर, टोफू, हरी पत्तेदार सब्जियां, मछली, गेंहू, बाजरा, रागी, चना और सोयाबीन को डाइट में शामिल कर सकते हैं. कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायता करता है. साथ ही मांसपेशियों को भी आराम देता है.

    विटामिन्स से भरपूर हो डाइट

    जल्दी रिकवरी और बेहतर सेहत पाने के लिए आपको डाइट में विटामिन्स से भरपूर चीजों को भी शामिल करना चाहिए. इसके लिए आप जिन चीजों का सेवन कर सकती हैं उसमें गाजर, शकरकंद, सीताफल, हरी सब्ज़ियां, पालक, अनार, स्ट्राबेरी, ब्लूबेरी, आम, तरबूज़, संतरा और अंगूर जैसे चीजें शामिल हैं. इससे आपकी रिकवरी भी जल्दी होगी और इम्यूनिटी भी स्ट्रांग होगी, जिससे किसी भी तरह के इंफेक्शन का खतरा भी कम होगा.

    ये भी पढ़ें: पहले बच्चे को देने जा रही हैं जन्म, तो प्रेग्नेंसी में इन बातों का रखें ख्याल


    इन चीजों को डाइट में न करें शामिल

    सिजेरियन डिलीवरी के बाद आपको जिन चीजों को डाइट में शामिल नहीं करना चाहिए उनमें ज्यादा देशी घी, कैफीन युक्त पेय पदार्थ जैसे कॉफी और चाय, कार्बोनेटेड ड्रिंक्स, पत्ता गोभी, फूलगोभी, ब्रोकली, ज्यादा तेज मसालेदार खाना, तला-भुना भोजन, चावल, मिर्च और जंक फ़ूड जैसी चीजें शामिल हैं. उन चीजों को खासकर अवॉयड करना चाहिए जिनको खाने के बाद गैस बनती है. इससे पेट फूलने और स्टिच में दिक्कत होने की संभावना बनी रहती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
    Published by:Meenal Tingel
    First published: