लाइव टीवी

स्वाइन फ्लू की दस्तक: लक्षण, बचाव और उपाय, जानें सबकुछ

News18Hindi
Updated: November 5, 2019, 4:14 PM IST
स्वाइन फ्लू की दस्तक: लक्षण, बचाव और उपाय, जानें सबकुछ
स्वाइन फ्लू से अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है

स्वाइन फ्लू (Swine flu): आइए जानते हैं क्या हैं इस बीमारी के लक्षण, उपाय और बचाव...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2019, 4:14 PM IST
  • Share this:
स्वाइन फ्लू (Swine flu): स्वाइन फ्लू (Swine flu) एक बार फिर लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है. स्वाइन फ्लू का वायरस ठंड में ज्यादा सक्रिय होता है. इस साल यानि कि साल 2019 में इस बीमारी से अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं हॉस्पिटल के ब्लड टेस्ट में 397 लोगों को स्वाइन फ्लू (Swine flu) पॉजिटिव पाया गया. अबतक स्वाइन फ्लू (Swine flu) के करीब 400 मरीज सामने आ चुके हैं जोकि किसी खतरे की घंटी से कम नहीं है. दरअसल, जब वायरस सर्दियों के मौसम में ज्यादा प्रभावी होता है लेकिन अभी तो सर्दियों की शुरुआत ही है. आइए जानते हैं क्या हैं इस बीमारी के लक्षण, उपाय और बचाव...

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली एनसीआर में Pollution का असर होगा फेल, आज ही खाने में शामिल करें ये Superfoods

स्वाइन फ्लू (Swine flu) के लक्षण:
विशेषज्ञों के मुताबिक़ स्वाइन फ्लू की शुरुआत में बुखार आना, नाक बहना, भूख ना लगना, थकान महसूस होना, गले में खराश, खांसी, उल्टी और चक्कर आना या बेहोश होना स्वाइन फ्लू के प्रारंभिक लक्षण हैं. वहीं विशेषज्ञों ने स्वाइन फ्लू से बचने के लिए कुछ ऐहतियात बरतने की भी सलाह दी है. मसलन छींकते और खांसते वक्त नाक और मुंह ढक लें, मास्क ना हो तो कपड़ों का इस्तेमाल करें, सफाई का ख़ास ध्यान रखें, पूरी नींद लें और एक्सरसाइज करें. स्वाइन फ्लू के लक्षण आम बुखार-खांसी के वायरस जैसे हैं. लेकिन कुछ उपाय और कोशिशों से इसे फैलने से रोका जा सकता है. इस वायरस का शिकार सबसे पहले बच्चे, बुजुर्ग और वो लोग बनते हैं, जिनका लंबे असरे से इलाज चल रहा होता है. उनको ज्यादा इससे बचना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः  रेसिपी: दिल्ली एनसीआर के प्रदूषण से रक्षा करेगी ये Drink, सुबह पीकर ही बाहर निकलें

स्वाइन फ्लू का वायरसः आमतौर पर यह बीमारी एच1एन1 वायरस के सहारे फैलती है लेकिन सूअर में इस बीमारी के कुछ और वायरस (एच1एन2, एच3एन1, एच3 एन2) भी होते हैं. कई बार ऐसा होता है कि सूअर में एक साथ इनमें से कई वायरस सक्रिय होते हैं जिससे उनके जीन में गुणात्मक परिवर्तन हो जाते हैं. माना जाता है कि स्वाइन फ्लू का वायरस एच1एन1 उन वायरसों का पूर्ववर्ती है जिनके कारण वर्ष 1918-1919 में स्पेन में स्पेनिश फ्लू की महामारी फैली थी जिसमें भारी संख्या में लोगों की मौत हुई थी.

स्वाइन फ्लू से अब तक 5 मौतें हो चकी हैं
स्वाइन फ्लू के बारे में सबकुछ जानें (news 18)

Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 4:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...