स्कूल-कॉलेज और ऑफिस में आलोचनाओं से कैसे बचें? जरूर पढ़ें

News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 11:26 AM IST
स्कूल-कॉलेज और ऑफिस में आलोचनाओं से कैसे बचें? जरूर पढ़ें
यदि आप आलोचनाओं से परेशान होने की बजाए उनसे सीख लेकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास करेंगे तो निश्चित तौर पर आप कामयाब होंगे.

यदि आप आलोचनाओं से परेशान होने की बजाए उनसे सीख लेकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास करेंगे तो निश्चित तौर पर आप कामयाब होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 30, 2019, 11:26 AM IST
  • Share this:
स्कूल, कॉलेज से लेकर ऑफिस लाइफ तक हमारे कई दोस्त और सहकर्मी बनते हैं. वहीं जिंदगी में कुछ ऐसे लोगों की भी एंट्री होती है जिनकी आलोचनाएं कई बार आपको काफी नेगेटिव कर देती हैं. इस नकारात्मकता से परेशान होकर आप कई बार गलत फैसले भी ले लेते हैं, जिनका एहसास आपको बाद में परेशान करता रहता है. आइए जानते हैं कि स्कूल-कॉलेज और ऑफिस में अपने आलोचकों से आप कैसे निपटें-

आलोचनाओं का स्वागत करें

जीवन में कामयाबी सिर्फ मेहनत और विश्वास के तर्ज पर ही नहीं मिलती, इसमें आलोचकों का भी काफी अहम रोल होता है. यदि आप आलोचनाओं से परेशान होने की बजाए उनसे सीख लेकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास करेंगे तो निश्चित तौर पर आप कामयाब होंगे. अपने आलोचकों की राय का हमेशा स्वागत करें.

दूसरों से सुनी बातों पर गौर न करें

अक्सर कॉलेज या ऑफिस में हमें दूसरों के जरिए कई तरह की बातें पता चलती हैं. हमें पता चलता है कि किसी तीसरे ने आपके बारे में क्या कहा है. इस तरह की बातें अफवाह भी हो सकती हैं या आपके सामने उसे तोड़-मरोड़कर भी पेश किया जा सकता है. इसलिए किसी की बातों में आकर जबरन अपने आलोचक पैदा करने से बचने की कोशिश करें.

गुटबाजी न करें

क्या आप जानते हैं कि किसी भी तरह की गुटबाजी का अंत में आपको बड़ा हर्जाना भुगतना पड़ सकता है. अक्सर कॉलेज और ऑफिस के लोग कई ग्रुप में बंटे होते हैं. ऐसे में किसी भी गुट में शामिल होने की बजाए सभी के साथ एक जैसा व्यवहार करें तो ज्यादा बेहतर होगा. गुटबाजी के जरिए आप खुद अपने आलोचकों को तंज कसने का निमंत्रण देंगे.
Loading...

आलोचनाओं की वजह को पहचाने

कई बार हमारे अच्छे दोस्त ही हमारे सबसे बड़े दुश्मन बन जाते हैं. इसके बाद आपको उनकी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ता है. ऐसे में संबंधित व्यक्ति से वाद-विवाद में उलझने की बजाय अपने अंदर छिपी कमी और सामने वाले के व्यवहार को परखने की कोशिश करें. ऐसा व्यक्ति भविष्य में आपके लिए ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 11:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...