लकड़ी के फर्नीचर की देखभाल कैसे करें, जानें कुछ खास टिप्स

अगर आपने फर्नीचर की उचित देखभाल नहीं की तो कुछ ही समय बाद आपका फर्नीचर पुराना और गंदा दिखाई देने लगता है.
अगर आपने फर्नीचर की उचित देखभाल नहीं की तो कुछ ही समय बाद आपका फर्नीचर पुराना और गंदा दिखाई देने लगता है.

कुछ ही समय बाद फर्नीचर (Furniture) में दीमक और खटमल अपना घर बनाने लगते है. फर्नीचर को इनसे बचाने के लिए गुनगुने पानी (Luke Warm Water) में थोड़ा सा डिटर्जेंट डालकर सफाई करते रहें. कीटनाशकों (Pesticides) का प्रयोग करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 1:51 PM IST
  • Share this:
लकड़ी (Wood) एक कार्बनिक पदार्थ है, जिसका उत्पादन वृक्षों के तने में परवर्धी जाइलम के रूप में होता है. मानव सभ्यता के आरंभ से ही लकड़ी का इस्तेमाल कई कामों जैसे कि ईंधन और निर्माण सामग्री के तौर पर हो रहा है. निर्माण सामग्री के रूप में इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से भवन, औजार, हथियार, फर्नीचर, पैकेजिंग, कलाकृतियां और कागज आदि बनाने में किया जाता है. बदलते समय के साथ लकड़ी का फर्नीचर (Wooden Furniture) अन्य सामग्रियों से बने फर्नीचर के साथ बदलते जा रहे हैं. लेकिन अपने अनोखे अंदाज के कारण लकड़ी का अपना स्थान है. आज जहां मानवीय जीवन पर फैशन का रंग हर तरफ दिखाई देता है वहीं फर्नीचर भी इस मामले में कम नहीं हैं. आज हर जगह घर-घर में, ऑफिसों में नित नए रंगों और नई-नई स्टाइल्स के फर्नीचर हर घर-ऑफिस की शोभा बढ़ा रहे हैं. अगर आपने फर्नीचर की उचित देखभाल नहीं की तो कुछ ही समय बाद आपका फर्नीचर पुराना और गंदा दिखाई देने लगता है. आप थोड़ी मेहनत और उचित देखभाल करके फर्नीचर को हमेशा नया और खूबसूरत बनाए रख सकते हैं. इसके लिए आपको निम्नलिखित उपाय करने होंगे.

हर महीने करें सफाई
कुछ ही समय बाद फर्नीचर में दीमक और खटमल अपना घर बनाने लगते है. फर्नीचर को इनसे बचाने के लिए गुनगुने पानी में थोड़ा सा डिटर्जेंट डालकर सफाई करते रहें. कीटनाशकों का प्रयोग करें. मिनरल ऑयल और नींबू लेकर इसे फर्नीचर पर लगाएं. इससे फर्नीचर पर लगी जमी धूल साफ हो जाती है और फर्नीचर चमकने लगता है. फर्नीचर को साफ करने के लिए गीले कपड़े का इस्तेमाल करने के बाद सूखे कपड़े से दोबारा पोंछना न भूलें. इससे जो भी पानी का दाग होगा वह सूखे कपड़े से साफ हो जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः Vastu Tips: घर में पॉजिटिव एनर्जी के लिए जरूर लगाएं ये पौधे, नहीं होगा स्ट्रेस
सुरक्षित जगह पर रखें


फर्नीचरों को तेज धूप, गर्मी, ठंड और सूखे वातावरण से हमेशा बचाएं. फर्नीचर को हमेशा सुरक्षित जगह पर रखें, जहां बारिश की बूंदे उन तक न पहुंच पाएं क्योंकि गीले होने की वजह से फर्नीचर फूल जाते हैं. फर्नीचर को दरवाजे व खिड़कियों से थोड़ा दूर ही रखें, जिससे की ये बारिश के पानी या दीवार में हो रहे लीकेज के संपर्क में न आ पाएं. बारिश के मौसम में नमी के कारण भी फर्नीचर फूलने लगता है. नमी को सूखाने के लिए सूखे नीम के पत्तों का इस्तेमाल करें.

पॉलिश या पेंट करवाएं
फर्नीचर पर कुछ सालों के अंतराल में पॉलिश या पेंट करवाते रहें. पॉलिश फर्नीचर को मजबूत, चमकदार व टिकाऊ बनाती है और साथ ही इससे फर्नीचर नमी से बचा रहता है. इसी तरह घर के खिड़की-दरवाजे लकड़ी के हैं तो समय-समय पर उन्हें ऑयलिंग करते रहें. ऐसा करने से उनमें किसी तरह का दीमक नहीं लगता.

वॉशर का इस्तेमाल करें
बरसात में फर्श की नमी के कारण फर्नीचर के पांव भी नमी के संपर्क में आ जाते है जिसके कारण फर्नीचर का निचला हिस्सा खराब होने लगता है. फर्नीचर के लेग यानी कि नीचले हिस्से को फर्श की नमी के संपर्क में आने से रोकने के लिए लेग के नीचे वॉशर लगाएं.

इसे भी पढ़ेंः Vastu Tips: घर में भूलकर भी नहीं रखने चाहिए सूखे या मुरझाए फूल, हो सकता है ऐसा नुकसान

गर्मी से बचाएं
फर्नीचर को तेज धुप या किसी भी गर्म वस्तु के संपर्क में न आने दें क्योंकि इससे ठंड और गर्म के कारण जो उतार-चढ़ाव होगा उससे फर्नीचर को नुकसान होगा. सूरज की किरणों से बचाव के लिए सुरक्षात्मक विंडो फिल्म का इस्तेमाल करें या फर्नीचर खिड़की के पास रखा हुआ हो तो अपनी खिड़कियों पर एक हल्‍का पर्दा टांगें, जिससे फर्नीचर पर तेज धूप न पड़े.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज