• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • बारिश के मौसम में कभी न करवाएं पियर्सिंग, हो सकती हैं ये परेशानियां

बारिश के मौसम में कभी न करवाएं पियर्सिंग, हो सकती हैं ये परेशानियां

बारिश के मौसम में पियर्सिंग करवाने से इंफेक्शन हो सकता है-Image/pexels

Piercing Side Effects During Rainy Season: बारिश के मौसम (Rainy season) में किसी भी जगह की पियर्सिंग (Piercing) करवाने से आपको बचना चाहिए. क्योंकि इस मौसम में पियर्सिंग करवाने से आपको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

  • Share this:
    Piercing Side Effects During Rainy Season: कान और नाक की पियर्सिंग (Piercing) करवाने की परम्परा हिन्दू धर्म में वर्षों से चली आ रही है. इसी के तहत जहां लोग छोटे-छोटे बच्चों की पियर्सिंग करवा देते हैं. तो वहीं फैशन के चलते भी कुछ युवक-युवतियां कान, नाक, आईब्रोज़ और नाभि (Navel) के पास की पियर्सिंग करवा लेते हैं. फैशन को फॉलो करने की वजह से वह इस बात की परवाह नहीं करते कि जिस मौसम में वो पियर्सिंग करवा रहे हैं वह इसके अनुकूल है भी या नहीं. दरअसल बारिश के मौसम (Rainy season) में किसी भी जगह की पियर्सिंग करवाने से आपको बचना चाहिए. क्योंकि इस मौसम में पियर्सिंग करवाने से आपको कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. आइये जानते हैं कि बारिश के मौसम में पियर्सिंग करवाने से कौन सी दिक्कतें आपको परेशान कर सकती हैं.

    ये भी पढ़ें: स्किन की क्वालिटी को बेहतर बनाने के लिए करें चीकू का इस्तेमाल, ऐसे मिलेगा फायेदा
     सूजन हो सकती है



    बारिश के मौसम में पियर्सिंग करवाने से इंफेक्शन का खतरा काफी ज्यादा होता है. इन दिनों पियर्सिंग वाली जगह पर सूजन काफी ज्यादा बढ़ सकती है. जिसकी वजह से पियर्सिंग की वजह से होने वाला दर्द कई गुना बढ़ सकता है.

    खुजली और दाने हो सकते हैं

    मॉनसून में पियर्सिंग करवाने से पियर्सिंग वाली जगह पर खुजली और दाने निकलने की दिक्कत भी हो सकती है. जिसको बार-बार खुजलाने की वजह से उस जगह से ब्लड आने की परेशानी भी आपको हो सकती है.

    जलन और स्किन लाल हो सकती है

    बारिश के मौसम में पियर्सिंग करवाने से उस जगह लालिमा और जलन होने लगती है जिस जगह पियर्सिंग करवाई गयी है. जिसकी वजह से खुजली और दर्द जैसी दिक्कत भी काफी बढ़ सकती है.

    पस पड़ सकता है

    बारिश के मौसम में पियर्सिंग करवाने से पियर्सिंग वाला हिस्सा पक सकता है और उसमें पस पड़ सकता है. बारिश की वजह से वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया उस हिस्से को घाव में बदल सकते हैं जिससे परेशानी बड़ी हो सकती है.

    ये भी पढ़ें: स्किन की कई समस्याओं को दूर करने के लिए ट्राई करें सेब से बने ये फेस पैक
     ब्लड आ सकता है



    बारिश की वजह से वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया पियर्सिंग वाली जगह पर इंफेक्शन पैदा कर सकते हैं. जिसकी वजह से छोटा सा छेद बड़े घाव में बदल सकता है और उसमें ब्लड आने की दिक्कत भी हो सकती है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकरी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज