Home /News /lifestyle /

Breakfast में मक्खन में डूबा कुलचा खाने का मन है तो चंद्र नगर में ‘ब्रेक फास्ट प्वाइंट’ पर आएं

Breakfast में मक्खन में डूबा कुलचा खाने का मन है तो चंद्र नगर में ‘ब्रेक फास्ट प्वाइंट’ पर आएं

इस दुकान की खासियत है कि यहां सिर्फ तंदूरी कुलचे ही सर्व किए जाते हैं.

इस दुकान की खासियत है कि यहां सिर्फ तंदूरी कुलचे ही सर्व किए जाते हैं.

Kulcha in Delhi: दिल्ली में छोले-कुलचे का नाम लेते ही नजर के सामने कोई न कोई दुकान आ जाएगी. यहां स्ट्रीट फूड के तौर पर मिलने वाली सबसे फेमस डिशेस में से एक छोले-कुलचे हैं. दिल्ली के मेन चंद्रनगर रोड पर सतनाम पार्क में ब्रेकफास्ट पाइंट पर आपको पंजाबी स्वाद से भरपूर मक्खन में डूबा हुआ कुलचा मिल जाएगा. इसे खास मसालों के साथ तैयार किया जाता है. इस दुकान की खासियत है कि यहां तंदूरी कुलचे के अलावा कुछ नहीं मिलता है. इस दुकान की शुरुआत 21 साल पहले साल 2000 में हुई थी. आप भी यहां आकर खास स्वाद ले सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

    Kulcha in Delhi: (डॉ. रामेश्वर दयाल) ब्रेक फास्ट का सीधा सा अर्थ है, सुबह का नाश्ता. कहा जाता है कि नाश्ता हमेशा भारी करना चाहिए क्योंकि हमने रात को भोजन किया था, उसके बाद एक तरह से शरीर ने कई घंटे तक Fast किया है. इसलिए उसे Break करने के लिए भारी-भरकम नाश्ता जरूरी है. बात तो व्यावहारिक है और शरीर के लिए उपयोगी भी. ऐसे में Break Fast में अगर मक्खन में डूबा अमृतसरी कुलचा (Kulcha) मिल जाए तो शरीर को भरपूर एनर्जी मिल जाए. तो चलिए आज हम आपको ऐसे ही नाश्ते वाले की दुकान पर लिए चलते हैं, जहां बेहद सादगी से मक्खन में तरबतर कुलचा मिलता है. सादगी हमने इसलिए कहा कि इनके साथ परोसे जाने वाले छोले बड़े ही सादे होते हैं.

    खास स्टफ के साथ बनाया जाता है तंदूरी कुलचा

    जहां हम आपको लिए चल रहे है, वह यमुनापार का व्यस्त इलाका है. मेन चंद्र नगर रोड पर सतनाम पार्क के पास पहुंचेगे तो ‘ब्रेक फास्ट प्वाइंट’ (Break Fast Point) आपको दिख जाएगा. असल में इस रेस्तरां को खोला तो सुबह के नाश्ते के लिए था. लेकिन यमुनापार में जब ठेठ अमृतसरी स्वाद का तंदूरी कुलचा मिलेगा तो वह लोगों को आकर्षित तो करेगा ही न. अब यह नाश्ते की दुकान शाम 5 बजे तक लोगों को अमृतसर का शाही स्वाद चखवा रही है.

    ब्रेकफास्ट पाइंट

    मेन चंद्र नगर रोड पर सतनाम पार्क के पास यह दुकान स्थित है.

    इस रेस्तरां की विशेषता यह है कि तंदूरी कुलचे के अलावा कुछ नहीं मिलता. ये तंदूरी कुलचा क्या बला है, पहले इसे समझ लें. पहले आलू को उबालकर उसमें कसूरी मेथी, जीरा, मिर्च, सौंफ व अन्य खास मसाले डालकर उसका स्टफ बनाया जाता है. इस स्टफ को आटे की बड़ी लोई में भरकर उसकी कुलचुनमा रोटी बनाकर धधकते तंदूर में चिपका दिया जाता है. हल्का लाल और कुरकुरा होने पर उसे तंदूर से निकाल लिया लाता है.

    उबले हुए छोलों में पड़ते हैं खास मसाले

    यह तो हुआ आलू कुलचा. इसी तरह तरह प्याज व पनीर का कुलचा भी बनाया जाता है. बस फर्क यह होता है कि उसमें आलू नहीं होता, बाकी सब कुछ रहेगा. जब कुलचा तंदूर से निकाल लिया गया तो एक बड़े से
    बर्तन में रखे मक्खन को चम्म्च से निकाला जाता है ओर उसे इस कुलचे पर इतना डाला जाता है कि वह मक्खन से तरबतर सा दिखने लगेगा. इसके साथ परोसे जाने वाले छोले अलग हैं लेकिन स्वाद लाजवाब है.
    इन छोलों को तैयार करते समय घी या तेल का प्रयोग बिल्कुल नहीं किया जाता. उबले हुए इन छोलों में खास मसाला मिला दिया जाता है. इसी मसाले से उनका स्वाद निखर जाता है. स्वाद को बढ़ाने के लिए इन छोलों में अदरक व लहसुन का प्रयोग नहीं होता. अब छोले-कुलचे होंगे तो चटनी भी होनी चाहिए. लेकिन वह नहीं मिलेगी. स्वाद को चटपटा बनाने के लिए इमली के शोरबे में बारीक कटी हुई प्याज दी जाती है.

    यहां सिर्फ तंदूरी कुलचा मिलता है.

    रेस्तरां में आलू का एक कुलचा 70 रुपये का मिलता है.

    इसका स्वाद इस अमृतसरी डिश को लाजवाब बना देता है. रेस्तरां में आलू का एक कुलचा 70 रुपये, प्याज का 90 रुपये और निखालिस पनीर का 100 रुपये में उपलब्ध है. इस अमृतसरी स्वाद को और रंगीन बनाना है तो साथ में 50 रुपये में गाढ़ी लस्सी का गिलास उपलब्ध है.

    साल 2000 से चल रहा रेस्तरां

    यमुनापार में इस रेस्तरां की शुरुआत वर्ष 2000 से हुई. इसे चलाने वाले दो भाई नीरज ओबेरॉय व मुकेश सेठ अमृतसर के ही निवासी हैं. उन्होंने यमुनापार के इस देसी इलाके में इस तरह की खास डिश का रेस्तरां
    खोलकर रिस्क उठाया. लेकिन लोगों को पसंद आ गया. पहले तो वे कहते थे कि क्या बिना घी-तेल के भी छोले बनते हैं, लेकिन कुलचों के साथ लोगों को छोले भी पसंद आने लगे. चूंकि ब्रेक फास्ट प्वाइंट है तो सुबह 9 बजे ही कुलचे खाने के लिए आ सकते हैं. खानपान का यह दौर शाम 5 बजे तक चलता है. कोई अवकाश नहीं है.

    नजदीकी मेट्रो स्टेशन: निर्माण विहार

    Tags: Food, Lifestyle, Street Food

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर