Home /News /lifestyle /

Kumbh 2019: जानिए क्या है नागाओं के शाही स्नान का शुभ मुहूर्त

Kumbh 2019: जानिए क्या है नागाओं के शाही स्नान का शुभ मुहूर्त

शाही स्नान

शाही स्नान

इस बार संगमनगरी प्रयागराज में कुंभ मेले का आयोजन होने जा रहा है.

    हिंदू धर्म में कुंभ मेले का विशेष महत्व है. इस मेले में भारतीयों के साथ कई विदेशी सैलानी भी भाग लेने के लिए दूर-दराज से आते हैं. इस बार संगमनगरी प्रयागराज में कुंभ मेले का आयोजन होने जा रहा है. कुंभ मेले का विशेष आकर्षण होता है नागा साधुओं का शाही स्नान. महाकुम्भ और कुंभ में नागा बाबाओं और साधुओं के 13 अखाड़े होते हैं. नियत तिथि और मुहूर्त पर ये नागा साधू पूरे गाजे-बाजे के साथ करने गंगा में शाही स्नान करते हैं. नागा साधुओं के स्नान के लिए प्रशासन एक ऐसा रास्ता बनाता है जो सिर्फ नागा साधुओं के लिए ही होता है.

    Isha Ambani Anand Piramal Wedding: ईशा ने शादी में पहनी इस दुकान की चूड़ियां, राजा-महाराजा भी करते हैं यहां शॉपिंग

    कई देशी और विदेशी फोटोग्राफर शाही स्नान के लिए नागाओं और सोने चांदी के सिंघासन पर सवार साधुओं की यात्रा को तस्वीरों में भी कैद करते हैं ताकि कुंभ के यादगार पलों की एक झलक दुनिया के सामने पेश कर सकें. आइए जानते हैं 2019 में पड़ने वाले कुंभ मेले में शाही स्नान का शुभ मुहूर्त क्या है.

    Google पर सर्च करें 'Idiot' तो आएगी डोनाल्‍ड ट्रंप की तस्वीर, सुंदर पिचाई ने बताई ये वजह

    शाही स्नान का शुभ मुहूर्त:
    पहला शाही स्नान- मकर संक्रांति (15-01-2019/मंगलवार)
    दूसरा शाही स्नान- मौनी अमावस्या (04-02-2019/सोमवार
    तीसरा शाही स्नान बसंत पंचमी के दिन यानी कि 10 फ़रवरी 2019 रविवार को पड़ रहा है.

    शोमैन राज कपूर का जन्म हुआ था आज ही, जानिए इतिहास में किस तरह दर्ज है 14 दिसंबर

    कुंभ स्नान की प्रमुख तिथि इस तरह है:

    मकर संक्रांति (खिचड़ी) 15 जनवरी 2019 मंगलवार को पड़ रही है.
    पौष पूर्णिमा 21 जनवरी 2019 सोमवार को पड़ रही है.
    मौनी अमावस्या 04 फ़रवरी 2019 सोमवार को पड़ रही है.
    बसंत पंचमी 10 फ़रवरी 2019 रविवार को पड़ रही है.
    माघी पूर्णिमा 19 फ़रवरी 2019 मंगलवार को पड़ रही है.
    महाशिवरात्री 04 मार्च 2019 सोमवार के दिन पड़ रही है.

    Tags: Allahabad Kumbh Mela, Lifestyle, Religion

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर