Home /News /lifestyle /

विंटर में स्किन पर बढ़ने लगे हैं फाइन लाइन्‍स, तो प्रयोग करें कुंकुमादि ऑयल

विंटर में स्किन पर बढ़ने लगे हैं फाइन लाइन्‍स, तो प्रयोग करें कुंकुमादि ऑयल

कुंकुमादि तेल में सबसे अधिक केसर का प्रयोग किया जाता है. Image : shutterstock

कुंकुमादि तेल में सबसे अधिक केसर का प्रयोग किया जाता है. Image : shutterstock

Kumkumadi Oil benefits For skin : कुंकुमादी ऑयल (Kumkumadi Oil) आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को एक अद्भुत मिश्रण है जो हमारी स्किन (Skin) पर आ रही एजिंग (Aging) को दूर करने में जादू जैसा काम करता है. यह एक हर्बल तेल है जो स्किन को अंदर से हेल्‍दी बनाता है जिससे स्किन शाइनी और यूथफुल नजर आती है. कुंकुमादी ऑयल को कुंकुमादी तेलम भी कहते हैं. आयुर्वेद में इसका प्रयोग हजारों सालों से किया जा रहा है. इसकी सबसे बड़ी खासियत (benefits) है कि ये विंटर (Winter) में स्किन को तेजी से हाइड्रेट करती है जिससे स्किन नरिश होने के साथ साथ मॉइश्‍चराइज रहती है. इसका प्रयोग टोनर, क्‍लीनर, मॉश्‍चराइजर किसी भी तरह किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    Kumkumadi Oil benefits For skin : विंटर (Winter) के मौसम में ड्राइनेस (Dryness) की समस्‍या काफी तेजी से बढती है. अगर इसका सही समय पर देखभाल ना किया जाए तो स्किन (Skin) पर एजिंग (Aging), फाइनलाइन (Fine Lines), पिगमेंटेनेशन, स्किन डैमेज जैसी समस्‍या हो सकती है. इसके अलावा ये स्किन पर होने वाले इनफ्लामेशन को भी दूर करने का काम करता है. हेल्‍थशॉर्ट के मुताबिक, असल में कुंकुमादि तेलम या कुंकुमादी तेल (Kumkumadi Oil) आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का एक अद्भुत मिश्रण है जो त्वचा को पोषण देने में मदद करता है. बता दें कि कुंकुम शब्द क्रोकस सैटिवस पौधे (Crocus Sativus Plants) से जुड़ा है जिसे हम केसर के नाम से जानते हैं. कुंकुमादी ऑयल इसके पौधे, फूल, फल और दूध के अर्क का एक अद्भुत मिश्रण होता है जो सौंदर्य उत्पाद बनाने के काम आता है. यह तेल सभी तरह की स्किन के लिए परफेक्‍ट होता है.

    कुंकुमादी ऑयल के फायदे (Benefits)

    1.नेचुरल ग्‍लो बढाए

    कंकुमादि तेल में मौजूद रेड और गोल्‍ड केसर मुख्‍य इनग्रेडिएंट होते हैं जिसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट, एंटी बैक्‍टीरियल और एंटी इनफ्लमेंट्री गुण होते हैं. इसके प्रयोग से स्किन का ब्‍लड सर्कुलेशन अच्‍छा होता है और डैमेज हो चुके स्किन सेल्‍स हील होते हैं. जिससे नेचुरल ग्‍लो स्किन पर आता है और स्किन यंग और ब्राइट लगता है.

    इसे भी पढ़ें : बड़े काम के हैं ये होममेड डार्क सर्कल्स आई पैक, जानें इसे बनाने का तरीका और फायदे

    2.स्किन टोन को रखे ठीक

    अगर इससे रात में सोने से पहले रोज चेहरे पर मसाज किया जाए तो स्किन टोन बेहतर होता है और चेहरे पर पैची दाग ठीक हो जाते हैं. यह एजिंग साइन को भी कम करने का काम करता है.

    3.स्किन डैमेज को करे ठीक

    कुंकामादि ऑयल के प्रयोग से अगर स्किन पर पिंपल्‍स, एक्‍ने या खरोच आदि से दाग आदि लग गए हैं तो ये आसानी से ठीक हो सकता है. यह स्किन पर हुए हर तरह के डैमेज को हील करने में सक्षम है.

    4.पिगमेंटेशन, डार्कसर्कल को करे ठीक

    अगर इसका रेग्‍युलर प्रयोग किया जाए तो चेहरे पर आए पिगमेंटेशन और आंखों के नीचे डार्क सर्कल को ठीक किया जा सकता है.

    क्‍यों है ये खास

    1.केसर का प्रयोग

    कुंकुमादि तेल में सबसे अधिक केसर का प्रयोग किया जाता है जो त्वचा के रंग में सुधार लाने और ग्लोइंग स्किन टोन देने में सहायक है.

    2.मंजिष्ठा का प्रयोग

    इसमें मंजिष्ठा जड़ी-बूटी का प्रयोग किया जाता है जो रक्त को शुद्ध करने में मदद करती है. यह त्वचा को बेहतर पोषण देने में सक्षम होती है.

    इसे भी पढ़ें : मेकअप के बाद भी मनचाहा लुक नहीं मिलता तो जानें इसकी वजह, दोबारा कभी न करें ये गलतियां

    3.चंदन का प्रयोग

    कुंकुमादि तेल में चंदन तेल भी होता है जो स्किन को सॉफ्ट करने और उसके टेक्‍सचर में सुधार करने में मदद करता है. यह काले धब्बे को भी ठीक करता है.

    4.कमल का अर्क

    कुंकुमादि तेल में कमल केसर (नेलुम्बो न्यूसीफेरा) का अर्क होता है जो त्वचा रोगों के इलाज में काम आता है.

    Tags: Ayurvedic, Beauty Tips, Fashion, Lifestyle, Skin care, Skin care in winters

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर