Lockdown में लड़कियों ने छोड़ा शेम्पू-कंडीशनर, ले रही हैं #nohairwash चैलेंज

Lockdown में लड़कियों ने छोड़ा शेम्पू-कंडीशनर, ले रही हैं #nohairwash चैलेंज
इस चैलेंज में महिलाएं कई सप्ताह तक बालों को नहीं धो रही हैं.

लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया पर कई तरह के चैलेंज ट्रेंड कर रहे हैं. लोग कई तरह के चैलेंज अपने दोस्तों को दे रहे हैं. ऐसे में लड़कियों ने #nohairwash लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2020, 5:12 PM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन के बीच सोशल मीडिया पर कई तरह के चैलेंज ट्रेंड कर रहे हैं. लोग कई तरह के चैलेंज अपने दोस्तों को दे रहे हैं. ऐसे में लड़कियों ने #nohairwash लिया है. इस चैलेंज में कई लड़कियां लॉकडाउन में हफ्तों तक शेम्पू और कंडिशनर नहीं कर रही हैं और तस्वीरों को इंस्टाग्राम पर शेयर कर रही हैं.

ना बदबू और ना ही कोई समस्या

#nohairwash चैलेंज लेने वाली महिलाओं का कहना है कि ऐसा करने से न तो उनके बालों से किसी तरह की बदबू आ रही है और न ही किसी तरह की खुजली या अन्य समस्याएं हो रही है. इसके साथ ही लड़कियां सोशल मीडिया पर बाल धोने के नेचुरल ट्रिक्स को शेयर कर रही हैं.



ऐसे हुए चैलेंज की शुरुआत
इस चैलेंज की शुरुआत 57 साल की सुसान्नग ने की थी. उन्होंने 4 सप्ताह तक लगातार शेम्पू न करके इस चैलेंज की शुरुआत की है. अपने बालों की तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा, 'मैंने एक महीने से बालों में शैम्पू नहीं किया है. यह कोरोना वायरस से बचने के लिए नहीं किया है. इस चैलेंज का लक्ष्य शेम्पू या कंडीशनर की जगह बाल धोने के नेचुरल तरीकों को अपनाना है.



बताएं बालों पर शेम्पू करने के नुकसान

इस चैलेंज में एक यूजर ने तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा है कि शेम्पू बालों के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है. उन्होंने लिखा कि शेम्पू के अलावा हम कई तरह के बालों को क्लीन कर सकते हैं. बालों को नेचुरल तरीकों से क्लीन करने से बाल हेल्दी भी रहते हैं और बाल टूटने से भी बचते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज