• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • 'बच्चों के लिए डिजाइन करना सबसे मुश्किल होता है'

'बच्चों के लिए डिजाइन करना सबसे मुश्किल होता है'

FILE PHOTO OF MASABA GUPTA

FILE PHOTO OF MASABA GUPTA

हाल ही में बच्चों की एक कलेक्शन तैयार कर चुकीं फैशन डिजाइनर मसाबा गुप्ता ने बताया कि वयस्कों के लिए कपड़े तैयार करने से ज्यादा मुश्किल बच्चों के लिए कपड़े डिजाइन करना है.

  • Agencies
  • Last Updated :
  • Share this:
    हाल ही में बच्चों की एक कलेक्शन तैयार कर चुकीं फैशन डिजाइनर मसाबा गुप्ता ने बताया कि वयस्कों के लिए कपड़े तैयार करने से ज्यादा मुश्किल बच्चों के लिए कपड़े डिजाइन करना है.

    यह पूछे जाने पर कि बच्चों और वयस्कों में से किसके कपड़े डिजाइन करना ज्यादा मुश्किल है? इस पर मसाबा ने कहा, "निश्चित तौर पर बच्चों के लिए, यह ऐसा है जो इससे पहले मैंने कभी नहीं किया, इसलिए मुझे इस बारे में पता नहीं था."

    फैशन में बदलाव लाए जाने के बारे में मसाबा ने कहा, "बच्चों के लिए डिजाइन करना थोड़ा मुश्किल है, क्योंकि वो काफी मूडी होते हैं और वे वयस्कों की तुलना में अधिक नकचढ़े हैं."

    अपने परिधानों में रंगीन कलाकृतियों और प्रिंट्स का इस्तेमाल कर भारतीय बाजार में फैशन को नया आयाम देने वाली मसाबा गुप्ता का कहना है कि उनका फैशन समकालीन है और उनमें समय से आगे जाने का साहस नहीं है.

    मसाबा ने बताया, "मेरी मां निश्चित तौर पर अपने समय से कहीं आगे हैं. उन्होंने जिन विकल्पों को चुना है वे भी समय से आगे हैं, लेकिन अगर आप मुझसे मेरे फैशन के बारे में पूछते हैं तो मुझे नहीं मालूम है."

    उन्होंने आगे कहा, "मैं व्यक्तिगत रूप से महसूस करती हूं कि जब मेरे काम की बात आती है तो मैं समकालीन हूं. मैं समय से आगे जाने वाली बहादुर नहीं हूं."

    नीना गुप्ता और विवियन रिचर्ड्स की संतान मसाबा के मुताबिक, उनकी मां नीना गुप्ता कुछ नया करने की कोशिश से कभी नहीं डरती हैं. उनकी मां उनकी प्रेरणा हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज