Mohini Ekadashi 2019: इसलिये मनाई जाती है मोहिनी एकादशी, जानें शुभ मुहूर्त, महत्‍व और पूजन विधि!

mohini ekadashi 2019 timing shubh muhurat vrat parana timing importance

mohini ekadashi 2019 timing shubh muhurat vrat parana timing importance

समुद्र मंथन के दौरान जब अमृतकलश निकला तो देवताओं और असुरों में अमृत के बंटवारे को लेकर छीनाझपटी मच गई.

  • Share this:
Mohini Ekadashi 2019: हिंदू धर्म में एकादशी का काफी धार्मिक महत्व है. वैशाख शुक्ल की एकादशी तिथि को मोहिनी एकादशी मनाई जाती हो. आज 15 मई बुधवार को एकादशी मनाई जा रही है. मान्यता है कि इस दिन जो भक्त पवित्र मन से व्रत रखते हैं वो सांसारिक मोह-माया और बंधनों से ऊपर उठ जाते हैं और मृत्यु के बाद मोक्ष को प्राप्त करते हैं. आइए जानते हैं क्या है इस बार मोहिनी एकादशी का शुभ मुहूर्त और किस समय व्रत का पारण करना होगा.

वास्तु: कर्ज से छुटकारा पाने के लिए करना होगा बस ये काम!

मोहिनी एकादशी का शुभ मुहूर्त:



मोहिनी एकादशी 14 मई 2019 को दोपहर 12 बजकर 59 मिनट से शुरू हो जाएगी. 15 मई 2019 को सुबह 10 बजकर 35 मिनट पर एकादशी का शुभ मुहूर्त समाप्त हो जाएगा.
मोहिनी एकादशी के दिन जो भक्त उपवास रखेंगे वो 16 मई को द्वादशी समाप्त होने के समय सुबह 5 बजकर 34 मिनट से लेकर 8 बजकर 15 मिनट के शुभ मुहूर्त पर व्रत का पारण कर सकते हैं.

केदारनाथ के कपाट खुले, यहां नहीं टेका मत्था तो अधूरा है बाबा भोले का दर्शन!

मोहिनी एकादशी कथा:

विष्णु पुराण में इस बात का जिक्र है कि समुद्र मंथन के दौरान जब अमृतकलश निकला तो देवताओं और असुरों में अमृत के बंटवारे को लेकर छीनाझपटी मच गई. असुर देवताओं को अमृत नहीं देना चाहते थे जिस वजह से भगवान विष्णु ने एक बहुत रूपवती स्त्री मोहिनी का रूप धारण किया और असुरों को रिझा कर उनसे अमृतकलश लेकर देवताओं को अमृत बांट दिया. इसके बाद से सारे देवता अमर हो गए. यह घटनाक्रम वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को हुआ इसलिए इसे मोहिनी एकादशी कहा गया.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज