लाइव टीवी
Elec-widget

Navratri 2019: नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये 10 काम, रूठ जाएंगी देवी मां

News18Hindi
Updated: September 28, 2019, 11:06 AM IST
Navratri 2019: नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये 10 काम, रूठ जाएंगी देवी मां
मां दुर्गा की पूजा करते वक्त अगरबत्ती की जगह धूप जलाएं. इसे अच्छा माना जाता है.

नवरात्रि व्रत के दौरान कठोर अनुशासन का पालन करना होता है, साथ ही व्रत में संयम की भी जरूरत होती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2019, 11:06 AM IST
  • Share this:
शारदीय नवरात्रि 29 सितंबर यानी रविवार से शुरू होने वाली है. इस दुर्गा पूजा (Durga Puja) के नाम से भी जाना जाता है. नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा के सभी नौ रूपों की पूजा-अर्चना की जाती है. मान्यता है कि नवरात्रि के दिनों में मां के दर्शन और पूजन से विशेष फल मिलता है. इस समय मंदिर जाकर देवी मां के दर्शन करने से जीवन में सफलता मिलती है. सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है. इस मौके पर कई लोग घर में कलश स्थापित करते हैं और व्रत रखते हैं. साथ ही घर में मां के नाम की अखंड ज्योत भी जलाते हैं. नवरात्रि
व्रत के दौरान कठोर अनुशासन का पालन करना होता है, साथ ही व्रत में संयम की भी जरूरत होती है. आइए जानते हैं कि दुर्गा पूजा के दौरान हमें किन-किन बातों को ध्यान रखना चाहिए. अगर हम इन बातों का ध्यान नहीं रखते हैं तो व्रत के निष्फल हो जाने का डर बना रहता है.

इसे भी पढ़ेंः Navratri 2019: 29 सितंबर से नवरात्रि शुरू, जान लें कलश स्थापना, शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और व्रत के नियम

व्रत रखने से पहले इन बातों का जरूर रखें ध्यान-

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, नवरात्रि के समय मांसाहारी भोजन नहीं करना चाहिए. इसके अलावा लहसुन, प्याज और मदिरा के सेवन से भी बचना चाहिए.

नवरात्रि का व्रत रखने वाले व्यक्ति को चमड़े से बनी वस्तुओं का उपयोग नहीं करना चाहिए. इसमें बेल्ट, पर्स, बैग, चप्पल-जूते जैसी चीजें शामिल हैं.

नवरात्रि के व्रत में अनाज और नमक का सेवन वर्जित है, लेकिन कई जगहों पर सेंधा नमक का इस्तेमाल किया जाता है.
Loading...

मां दूर्गा की पूजा के बाद आरती जरूर करें. आपको बता दें कि आरती इसलिए की जाती है ताकि पूजा के दौरान कोई त्रुटी या कमी रह गई है, तो वह आरती से पूर्ण हो जाए.

मां दुर्गा की पूजा करते वक्त अगरबत्ती की जगह धूप जलाएं. इसे अच्छा माना जाता है. अगरबत्ती बांस और केमिकल से बनाई जाती है, जिसका स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है.

नवरात्रि में देवी मां की पुरानी या खंडित मूर्ति का प्रयोग बिल्कुल भी न करें.

जो लोग नवरात्रि में नौ दिन का व्रत रखते हैं, उनको दिन के समय सोना नहीं चाहिए.

व्रत में मां दुर्गा की आराधना के समय पूजा, आरती एक बार में ही सम्पन्न कर लेना चाहिए. इसे खंड-खंड में न करें.

मान्यता है कि व्रत रहने वाले व्यक्ति को नौ दिनों में नाखून, बाल और दाढ़ी नहीं काटनी चाहिए.

व्रत रहने वाले व्यक्ति को साफ वस्त्र धारण करना चाहिए और प्रित दिन स्नान करना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः Navratri 2019: नवरात्रि पर मां वैष्णो देवी के दरबार पर जरूर टेके मथ्था, भर देती हैं झोली

नवरात्रि के 9 दिनों में देवी मां के इन रूपों की करें पूजा-

शैलपुत्री- 29 सितंबर
ब्रह्मचारिणी- 30 सितंबर
चन्द्रघंटा- 1 अक्टूबर
कूष्माण्डा- 2 अक्टूबर
स्कंदमाता- 3 अक्टूबर
कात्यायनी- 4 अक्टूबर
कालरात्रि- 5 अक्टूबर
महागौरी- 6 अक्टूबर
सिद्धिदात्री- 7 अक्टूबर

(8 अक्टबूर को दशहरा मनाया जाएगा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 28, 2019, 11:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...