• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • Navratri 2019: नवरात्रि के इन 9 दिनों में कौन से काम करें और क्या करने से बचें

Navratri 2019: नवरात्रि के इन 9 दिनों में कौन से काम करें और क्या करने से बचें

नवरात्रि में प्रतिदिन मंदिर जाकर देवी मां के दर्शन करें. ऐसा करने से मनोकामना पूरी होती है.

नवरात्रि में प्रतिदिन मंदिर जाकर देवी मां के दर्शन करें. ऐसा करने से मनोकामना पूरी होती है.

देवी मां को प्रसन्न करने के लिए कई तरह उनकी पूजा-अर्चना की जाती है. इस मौके पर कई लोग घर में कलश स्थापित करते हैं और व्रत रखते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नवरात्रि में देवी मां के नौ स्वरूपों की अराधना की जाती है. देवी मां को प्रसन्न करने के लिए कई तरह उनकी पूजा-अर्चना की जाती है. इस मौके पर कई लोग घर में कलश स्थापित करते हैं और व्रत रखते हैं. भारतीय शास्त्रों में नवरात्रि में निर्वहन की जाने वाली परंपराओं का बड़ा महत्व बताया गया है. इन नौ दिनों में कई मान्यताएं और परंपराएं प्रचलित हैं, जिन्हें हमारे बड़े-बुजुर्गों ने हमें सिखाया है. हर कोई चाहता है कि देवी की पूजा पूरी श्रद्धा-भक्ति से हो ताकि परिवार में सुख-शांति बनी रहे. आइए जानते हैं, माता के नौ दिनों में क्या काम करें और क्या न करें.

    इसे भी पढ़ेंः Navratri 2019: नवरात्रि पर देवी मां के इस मंदिर का जरूर करें दर्शन, पूरी होगी मनोकामना

    कौन से काम करें-

    नवरात्रि में प्रतिदिन मंदिर जाकर देवी मां के दर्शन करें. ऐसा करने से मनोकामना पूरी होती है. इसके अलावा इन्हें फूल और जल अर्पित करें. मां की आरती गाएं और धूप-दीप जलाएं.

    नवरात्रि पर हो सके तो पूरे 9 दिन व्रत रखें. अगर आप ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो नवरात्रि शुरू होने के पहले दिन और आखिरी दिन वत्र जरूर रखें. पूजा की जमकर पूजा अर्चना करें. कहते हैं कि नवरात्रि पर देवी मां को पूजने से सफला कदम चूमती है.

    नवरात्रि पर नौ दिनों तक जमकर श्रृंगार करें. इन दिनों में खासकर महिलाओं को श्रृंगार करने के लिए कहा जाता है. मान्यता है कि सजने संवरने से देवी मां खुश होती है. इसके अलावा उत्सव के मौके पर श्रृंगार करने से खुशी का एहसास होता है और जीवन में खुशियां सुख शांति लाती हैं.

    नवमीं और अष्टमीं पर देवी मां की विशेष पूजा करें. इन दिनों में मां की पूजा करने से घर में शामति विराजमान होती है. इसके अलावा आर्थिक संकट भी दूर होता है. घर में पूजा का माहौल होने से सकारात्मकता बढ़ती है.

    नवरात्रि पर क्न्या भोजन जरूर कराएं. इस मौके पर कन्या भोजन कराने से घर में कभी अन्न की कमी नहीं होती. साथ ही भक्तों की मनोकामना भी पूरी होती है.

    देवी मां के नाम पर अखंड ज्योति जलाएं. नवरात्रि के मौके पर देवी मां के लिए अखंड ज्योति जरूर जलाएं. इस समय ऐसा करने से घर से नकारात्मकता दूर होकर सकारात्मकता प्रवेश करती है. घर खुशियों से भर जाता है, भक्तों के दुख दूर होते हैं.

    कौन से काम न करें-

    नवरात्रि के नौ दिनों में नाखून, बाल और दाढ़ी नहीं काटना चाहिए. ऐसा करने से घर से शांति दूर हो जाती है. नवरात्रि में उत्सव का माहौल होता है और ऐसे में इन चीजों को करना नकारात्मकता को दर्शाता है.

    नवरात्रि के दिनों में खाने में छौंक लगाने से बचें. मान्यता है कि इन नौ दिनों में जला हुआ या तड़का लगाया हुआ खाना नहीं खाना चाहिए. इससे घर में बीमारियों का आगमन होता है. साथ ही मस्तिष्क में नेगेटिविटी बढ़ती है.

    इसे भी पढ़ेंः इस तारीख को है शिव चतुर्दशी, करें शिव के इन विशेष मंत्रों का जाप

    नवरात्रि के मौक पर घर में मांसाहारी भोजन न पकाएं. साथ ही हो सके तो प्याज और लहसुन से भी दूर रहें. ऐसा करने से भक्तजन रोग मुक्त होते हैं और घर में शांति बनी रहती है.

    नवरात्रि के 9 दिनों में देवी मां के इन रूपों की करें पूजा-

    शैलपुत्री- 29 सितंबर
    ब्रह्मचारिणी- 30 सितंबर
    चन्द्रघंटा- 1 अक्टूबर
    कूष्माण्डा- 2 अक्टूबर
    स्कंदमाता- 3 अक्टूबर
    कात्यायनी- 4 अक्टूबर
    कालरात्रि- 5 अक्टूबर
    महागौरी- 6 अक्टूबर
    सिद्धिदात्री- 7 अक्टूबर

    (8 अक्टबूर को दशहरा मनाया जाएगा)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज