Home /News /lifestyle /

Navratri 2021: प्रेग्नेंट और स्तनपान कराने वाली महिलाएं नवरात्रि व्रत में रखें इन बातों का ख्याल

Navratri 2021: प्रेग्नेंट और स्तनपान कराने वाली महिलाएं नवरात्रि व्रत में रखें इन बातों का ख्याल

प्रेग्नेंट महिलाओं को कभी भी बिना पानी के व्रत नहीं रखना चाहिए. Image-shutterstock.com

प्रेग्नेंट महिलाओं को कभी भी बिना पानी के व्रत नहीं रखना चाहिए. Image-shutterstock.com

Navratri 2021: गर्भवती (Pregnant) और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नवरात्रि व्रत में आलू, खीर, साबुदाना, पकोड़े जैसे भोजन से परहेज करना चाहिए.

    Navratri 2021: शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर से शुरू हो रही है. नौ दिन तक चलने वाले इस पावन पर्व में मां दुर्गा (Maa Durga) के नौ अलग अलग रूपों की विधि विधान से पूजा-अर्चना की जाती है. नवरात्रि के हर दिन मां के नौ रूपों में से एक को समर्पित होता है. आपको बता दें कि नौ देवियों को 9 दिनों तक भोग लगाया जाता है. कहते हैं कि इस समय भक्त मां दुर्गा के लिए भोग बनाते हैं जिनसे वह प्रसन्न होती हैं और भक्तों की हर मनोकामना पूरी करती हैं. नवरात्रि में भक्त मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए 9 दिनों तक व्रत रखते हैं. वहीं कुछ प्रेग्नेंट महिलाएं भी नवरात्रि का व्रत रखती हैं. लेकिन कई बार अनजाने में नवरात्रि के दौरान कुछ महिलाएं अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देती हैं. लेकिन, उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए. नवरात्रि के दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ खास बातों का ख्याल रखना चाहिए.

    जानें नवरात्रि व्रत में गर्भवती महिलाओं को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए

    -गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नवरात्रि व्रत में आलू, खीर, साबुदाना, पकोड़े जैसे भोजन से परहेज करना चाहिए. दरअसल ये चीजें वजन बढ़ाने में मदद करती हैं. साथ ही इन्हें खाने से कई तरह के कॉम्प्लिकेशन भी उत्पन्न हो सकते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः Durga Puja 2021: 450 साल पहले शुरू हुई थी सिंदूर खेला की परंपरा, जानें कैसे किया जाता है देवी बोरोन

    -कई महिलाएं व्रत के समय नमक नहीं खाती हैं जिससे उनके शरीर में कमजोरी पैदा हो जाती है. साथ ही इसका असर ब्लड प्रेशर पर भी पड़ता है. ऐसा करने से बचें. नवरात्रि व्रत के समय सेंधा नमक का इस्तेमाल करें.

    -प्रेग्नेंट महिलाओं को कभी भी बिना पानी के व्रत नहीं रखना चाहिए. गर्भवती महिलाएं निर्जला व्रत न रखें. व्रत में बार-बार पानी पीते रहें.

    -व्रत रखने के बारे में खुद से ही विचार न करें. इसके बारे में डॉक्‍टर से जरूर पूछें. यदि डॉक्‍टर को लगेगा कि व्रत रखने से आपको और आपके शिशु को तकलीफ नहीं होगी तभी व्रत रखें.

    -किसी भी अवस्‍था में अपने शरीर को तकलीफ न दें. जब आप गर्भवती होती हैं तब आप और आपके बच्‍चे को एनर्जी की बहुत ज्यादा जरूरत होती है. इस दौरान ताजे फल और ऐसी सामग्रियां खाती रहें जो व्रत के समय शरीर को एनर्जी देने के लिए जरूरी हों.

    -कुछ महिलाएं लंबे समय तक व्रत रख लेती हैं. ऐसा करने से शरीर में कमजोरी, एसिडिटी, सिरदर्द और खून की कमी हो जाती है.

    इसे भी पढ़ेंः Navratri 2021: नवरात्रि के 9 दिनों में रखें इन बातों का ख्याल, जानें क्या करें और क्या नहीं

    -कभी भी शरीर के संकेतों को नजरअंदाज न करें. अगर आपको नींद या कमजोरी आ रही है तो अपने शरीर की बात को तुरंत सुनें और डॉक्टर से सलाह लें.

    -व्रत रखते समय केवल ठोस पदार्थों पर ही न टिकी रहें बल्‍कि तरल पदार्थ भी लेती रहें. छाछ, फ्रेश जूस, दूध और ढेरा सारा पानी पीना व्रत के समय बहुत ही जरूरी है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    Tags: Health, Lifestyle, Navratri, Navratri 2021

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर