होम /न्यूज /जीवन शैली /40 बरस पहले स्कूल गईं होती तो IAS बन सकती थी वो 'आया'

40 बरस पहले स्कूल गईं होती तो IAS बन सकती थी वो 'आया'

आया (image: Nestlé India)

आया (image: Nestlé India)

हम सभी के आस-पास अनगिनत नन्ही कमला हैं, जो शिक्षा से वंचित हैं और कहीं न कहीं घरों में काम करके ज़िंदगी गुज़ार रही हैं.

    नेस्ले इंडिया (Nestlé India) के एक एड ने भीतर तक झिंझोड़ के रख दिया है. एड में एक बूढ़ी औरत हाथों में हरी चूड़ियां पहने, सफेदी झलकते बालों की दो चोटी बनाकर लाल रिबन बांधे, स्कूल ड्रेस पहने खड़ी है. तस्वीर के साथ लिखा है, कमला आया क्लास के लिए लेट हो गई लेकिन फिर भी वक्त पर पहुंच गईं.

    'आया' शब्द को हम सभी बचपन में बहुत दफा इस्तेमाल कर चुके हैं. 'आया' वो औरत थी जो कहीं-न-कहीं मां जैसी थी. पर शायद ही हम से किसी को उनका नाम या चेहरा याद हो. नेस्ले इंडिया का 'कमला आया' का पूरे पेज का एड सिर्फ ये नहीं कह रहा कि वो सिर्फ क्लास के लिए लेट हो गई हैं.

    वो लेट हुईं साक्षरता के उस पहलू से रूबरू होने में जो वक्त लेता है. बेशक किसी भी चीज़ को सीखने की कोई उम्र नहीं होती. कुछ ज़िम्मेदारियां, खासकर ऐसी जगहों पर वायज़ औरतें हमेशा अपने सपनों को हकीकत नहीं बना पातीं. नेस्ले इंडिया कमला आया के ऐड के ज़रिए शिक्षा से वंचित बच्चियों के लिए बढ़ावा देने में मदद कर रहा है.

    News18 Hindi

    कमला आया केवल स्कूल के लिए लेट नहीं हुईं, वो हर उस चीज के लिए लेट हो गईं, जो एजुकेशन से होकर जाती है. हो सकता है कि आज से 40 साल पहले अगर पढ़ने का मौका मिलता तो आज कमला आया की जगह उनके गांव की पहली महिला आईएएस अफसर हमारे सामने होती. वो हमारे पोतड़े साफ नहीं करती, बल्कि सिस्टम की गलतियां सुधारतीं.

    News18 Hindi

    नेस्ले ने भारत-भर में 'नन्ही कली' के ज़रिए शिक्षा से वंचित लड़कियों के लिए शिक्षा का समर्थन बढ़ाया है. प्रोजेक्ट 'नन्ही कली' पिछले 20 सालों से इस दिशा में काम कर रहा है और अब इसे बड़े स्तर पर ले जाने के लिए तैयार है.

    हम सभी के आस-पास अनगिनत नन्ही कमला हैं, जो शिक्षा से वंचित हैं और कहीं न कहीं घरों में काम करके ज़िंदगी गुज़ार रही हैं. कल वही कमला आया बनने वाली हैं. उनमें से कुछ वो भी हैं जिन्होंने खुद की पढ़ाई को खत्म करने का फैसला सिर्फ इसलिए किया क्योंकि उनके भाई की पढ़ाई ज्यादा ज़रूरी है.

    Tags: Baby Care, Nestle India

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें