नये कोरोना संक्रमितों में मिल रहे न्यूरोलॉजिकल लक्षण

नये कोरोना संक्रमितों में मिल रहे न्यूरोलॉजिकल लक्षण
कोरोना वायरस के नये लक्षण लोगों में मिलने से डॉक्टर चिंतित हैं.

नये कोरोना संक्रमितों (Corona infected) में बुखार, सूखी खांसी, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ (problem) के लक्षण मिल रहे हैं, जो इसके पहले मरीजों (Patients)में देखने को नहीं मिले.

  • Last Updated: July 15, 2020, 4:26 PM IST
  • Share this:
देश में कोरोना वायरस के रिकार्ड संक्रमित रोज सामने आ रहे हैं. इनसे साथ ही कोरोना वायरस के नये लक्षणों को बारे में डॉक्टरों को पता चला रहा है. ये लक्षण ऐसे हैं, जिनको अभी तक कोरोना संक्रमितों में नहीं देखा गया था. डॉक्टरों ने बताया कि बुखार, सूखी खांसी, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ आदि कोरोना वायरस के लक्षण हैं.

myUpchar से जुड़े डॉ. अजय मोहन बताते हैं कि कोरोना वायरस मुख्य रूप से श्वसन तंत्र को प्रभावित करता है. यह नाक और गले पर भी असर डालता है. भले ही वैज्ञानिक अब तक मानव श्वसन प्रणाली पर कोरोना वायरस के प्रभाव पर केंद्रित रहे हैं, लेकिन ताजा अध्ययनों में सामने आ रहा है कि कोराना वायरस मानव मस्तिष्क पर भी हमला कर सकता है. अध्ययनों  में पता चला है कि कोरोना वायरस से मरीजों को न्यूरोलॉजिकल समस्याएं भी हो सकती हैं, जिसमें चक्कर आना, सिरदर्द और अचेत होना आदि शामिल हैं.

अध्ययन चीन के वुहान में किया गया है. यहां 214 कोरोना वायरस मरीजों के लक्षणों की जांच की गई, जिसमें लगभग आधे गंभीर मामलों में न्यूरोलॉजिकल समस्या थी. अध्ययन किए गए सभी मरीजों में से लगभग एक तिहाई गंभीर और गैर-गंभीर दोनों मामलों में कुछ न्यूरोलॉजिकल लक्षण नजर आए थे.अध्ययन में पाया गया कि 36 मरीजों को चक्कर आए, 28 को सिरदर्द और 16 को अचेत पाया गया. एक गंभीर मामले में एक मरीज में तो सीजर (दौरा) और अटैक्सिया (गतिभंग) की स्थिति देखी गई.



myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. केएम नाधीर का कहना है कि अटैक्सिया से पीड़ित लोगों में गतिविधियां करने में परेशानी, बोलने में मुश्किल, आंखों की गतिविधि में समस्या या निगलने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है. गंभीर स्थिति में संतुलन खोना, हाथ-पैर या बाजुओं का तालमेल गड़बड़ाना आदि शामिल हैं.
अध्ययन में पाया गया कि 19 मरीजों में स्वाद और गंध की पहचान खो दी थी. इससे पहले ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के लक्षणों के आधार पर एक रिपोर्ट तैयार की थी, जिसके मुताबिक स्वाद और गंध का पता न चलना कोरोना वायरस का एक लक्षण हो सकता है. हालांकि, यह भी कहा गया था कि यह एकमात्र लक्षण नहीं होता. ऐसा दूसरे कारणों से भी हो सकता है. विशेषज्ञों ने मुख्य रूप से थकान, लगातार खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ और उल्टी के लक्षण देखने की बात की. लेकिन कुछ मरीजों ने गंध व स्वाद की असमर्थता भी जाहिर की थी. डब्ल्यूएचओ ने बाद में लक्षणों में शामिल किया.

शोधकर्ताओं के मुताबिक गैर-गंभीर संक्रमण वाले मरीजों की तुलना में गंभीर संक्रमण वाले मरीज अधिक उम्र के थे, उनमें पहले से स्वास्थ्य समस्याएं थीं, विशेष रूप से उच्च रक्तचाप. उनमें कोरोना वायरस के कम विशिष्ट लक्षण थे जैसे कि बुखार और खांसी. अधिक गंभीर संक्रमण वाले मरीजों में तंत्रिका संबंधी दिक्कतें थी. उनके मुताबिक इस समय न्यूरोलॉजिकल जटिलताओं को कोरोना वायरस रोग की गंभीरता का नतीजा माना जा सकता है.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, कोविड-19 के खिलाफ इम्यूनिटी कुछ महीनों बाद लुप्त हो जाती है: शोध पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading