होम /न्यूज /जीवन शैली /प्याज, लहसुन सहित इन 5 फूड्स को खाने के बाद रखें ध्यान, बन सकते हैं सांस में बदबू की वजह

प्याज, लहसुन सहित इन 5 फूड्स को खाने के बाद रखें ध्यान, बन सकते हैं सांस में बदबू की वजह

सांसों में बदबू की वजह से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ जाता है. Image-shutterstock.com

सांसों में बदबू की वजह से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ जाता है. Image-shutterstock.com

Food Cause Bad Breath: भोजन के दौरान कई बार हम ऐसी खाद्य सामग्री खा लेते हैं, जिसकी वजह से सांसों में बदबू पैदा हो जाती ...अधिक पढ़ें

    Food Cause Bad Breath: आप ऐसा कभी नहीं चाहेंगे कि सांस की बदबू  (Bad Breath) की वजह से कोई आपके नजदीक रहना पसंद न करे. यह कई बार बेहद शर्मिंदगीभरा भी हो सकता है. कई बार ऐसा होता है कि हम सांसों में बदबू पैदा करने वाला भोजन कर लेते हैं. वहीं, कई बार खाने में मिली ऐसी चीज ले लेते हैं जिसकी
    वजह से सांस में बदबू पैदा हो जाती है. इसे हमारा पूरा दिन बर्बाद हो सकता है. कभी-कभी इस तरह की स्थिति संबंध में भी खटास पैदा कर सकती है. अगर इस तरह की मुश्किल स्थिति से आप बचना चाहते हैं तो हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आप कौन सी चीज खा रहे हैं. अगर ऐसी चीज खाने में आ जाते तो सांसों से बदबू कम करने के उपाय करें. हम आपको ऐसी ही पांच चीजें बताने जा रहे हैं, जिससे आपकी सांसों में बदबू पैदा हो जाती है.

    मीट और मछली

    मछली और मीट के अंदर मौजूद प्रोटीन हमारे पेट में मौजूद एसिड और फायदेमंद बैक्टीरिया को अमीनो एसिड में तब्दील कर देता है. इस प्रक्रिया में बाय प्रोडक्ट के तौर पर अमोनिया का निर्माण होता है, जो कि एक तीक्ष्ण गंध होती है. अमोनिया हमारी रक्तवाहिनियों में एब्जॉर्व होकर ट्रांसपोर्ट होते हुए हमारे फेफड़ों तक पहुंच जाता है.
    इसकी वजह से ही मुंह में से बदबू आने लगती है. अगर मछली खूब मिर्च मसालों और तेल के साथ नहीं पकाई गई हो तो वह मुंह में से बदबू आने की बड़ी वजह बनती है. मिर्च मसाले और तेल उसकी बदबू कम करने के काम आते हैं.
    लहसुन
    लहसुन में बड़ी मात्रा में सल्फर मौजूद होता है. जिसकी बहुत तेज गंध होती है. लहसुन चबाने के बाद मुंह से बहुत तेज दुर्गंध आने लगती है. लहसुन को निगलने से या फिर लहसुन युक्त भोज्य पदार्थ खाने के भी मुंह में से बदबू आती है. यह पेट के अंदर से आती है. रिसर्च के मुताबिक, लहसुन खाने से सल्फर कंपाउंड जिसे एलायल मिथाइल सल्फाइड कहते हैं का निर्माण होता है, जो हमारे पेट में मेटाबॉलाइज नहीं हो पाता है.

    इसे भी पढ़ें: कोरोना संक्रमण के बाद कर रहे हैं रिकवरी? इस हेल्दी फूड चार्ट से बढ़ाएं इम्यूनिटी

    प्याज
    प्याज और लहसुन एलियम पौधे के परिवार से ताल्लुक रखते हैं. लहसुन की तरह ही प्याज में भी बड़ी मात्रा में सल्फूरिक कंपाउंड होता है. कच्चा प्याज खाने की वजह से इसकी वजह से ही मुंह से तेज दुर्गंध आने लगती है. जब प्याज को फ्राई कर खाता जाता है तो उसकी गंध और स्वाद को कम किया जाता है.

    डेयरी प्रोडक्ट्स
    दूध और चीज को खाने से भी मुंह में से दुर्गंध आने लगती है. डेयरी प्रोडक्ट्स में मौजूद अमीनो एसिड हमारे मसूड़ों में मौजूद बैक्टिरिया की वजह से टूट जाता है, जिसकी वजह से सल्फर कंपाउंड का निर्माण होता है. यही मुंह की बदबू का कारण बनता है.

    इसे भी पढ़ें:  Paneer Pulao Recipe: मेहमानों के लिए डिनर में झटपट बनाएं पनीर पुलाव, ये है आसान रेसिपी

    कॉफी
    काम के दौरान खुद को एक्टिव रखने के लिए कई प्रोफेशनल्स कई कप कॉफी पी जाते हैं. कॉफी के बीज सांस की बदबू की वजह बनते हैं. कॉफी में सल्फर कंपाउंड होता है. इसमें कैफीन भी होता है, जो हमारे मुंह की लार को सुखा देता है. इस वजह से मुंह में बैक्टीरिया तेजी से बढ़ने लगते हैं जो बदबूदार सांसों की वजह बनती है.

    Tags: Food, Healthy food, Lifestyle

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें