होम /न्यूज /जीवन शैली /बच्चों के ड्रिंक्स को लेकर सभी पैरेंट्स बरतें ये सावधानियां, नहीं होगी कोई परेशानी

बच्चों के ड्रिंक्स को लेकर सभी पैरेंट्स बरतें ये सावधानियां, नहीं होगी कोई परेशानी

जूस बच्चों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. (Image-Canva)

जूस बच्चों को नुकसान पहुंचा सकते हैं. (Image-Canva)

कई बार हम अपने बच्चों को कुछ ऐसी ड्रिंक्स पीने को दे देते हैं, जो उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती हैं. आइए ऐसी ही क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

बच्चों के लिए कैफीनेटेड ड्रिंक्स हो सकते हैं नुकसानदायक
बच्चों को पीने के लिए दें दूध
बच्चों के लिए स्मूदी है बेस्ट ऑप्शन

Harmful drinks for kids: अगर आपसे पूछा जाए कि बच्चों को आमतौर पर ब्रेकफास्ट में क्या दिया जाता है, तो अधिकतर पैरेंट्स का जवाब फ्रूट जूस होगा. रीयल जूस जैसी ड्रिंक्स बच्चे के स्वास्थ्य के लिए काफी सेहतमंद माने जाते हैं लेकिन इनमें कुछ ज्यादा पोषण नहीं होता. जूस निकालते समय फल से सारा पोषण खत्म हो जाता है. अगर आप शुगर एड करते हैं तो यह बच्चों में डायबिटीज और मोटापे जैसी समस्या का रिस्क भी बढ़ा देता है. इसलिए हमेशा यह कोशिश करनी चाहिए कि जो भी ड्रिंक बच्चे को दे रहे हैं, वह हेल्दी हैं या नहीं, इस बात का पता जरूर कर लें. ऐसी ही बहुत सारी अन्य ड्रिंक्स भी हैं, जो बच्चों की सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं. आइए उनके बारे में जानते हैं.

ये भी पढ़ें: झूठ बोलने लगे हैं बच्चे? आसान तरीकों से सुधारें ये आदत

नुकसादायक ड्रिंक्स
एशियन पेरेंट्स डॉट कॉम के मुताबिक कैफ़ीन से भरपूर चीजें आपको बच्चे को नहीं देनी चाहिए. अगर आपके बच्चे कॉफी, एनर्जी ड्रिंक्स के ज्यादा शौकीन हैं तो इसकी मात्रा पर कंट्रील करना चाहिए. इससे बच्चे को एंजाइटी, इनसोम्निया और ऐसे ही बहुत सारे डिसऑर्डर का सामना करना पड़ सकता है. कोशिश करें कि आपका बच्चा एरेटेड ड्रिंक्स का सेवन भी कम से कम मात्रा में ही करे. इनमें कार्बन डाइऑक्साइड के साथ बहुत शुगर होती है जो बच्चे की सेहत के लिए नुकसानदायक है. मीठी ड्रिंक्स जैसे पैक्ड जूस, हेल्दी ड्रिंक्स या फिर आइस टी आदि जिन ड्रिंक्स में एडेड शुगर मिली होती है वह बच्चे के लिए किसी भी तरह से हेल्दी नहीं होती इसलिए इन्हें अवॉइड करने की कोशिश करें.

इन बातों का भी रखें ख्याल
बहुत से बच्चे आज के समय एनर्जी पाने के लिए या स्पोर्ट्स के दौरान स्पोर्ट्स ड्रिंक का भी सेवन कर रहे हैं. उन्हें यह लगता है कि पौष्टिक तत्वों के साथ एनर्जी भी मिलेगी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता. ऐसी ड्रिंक्स से बच्चों को कोई खास लाभ नहीं मिलते हैं. टीओआई के मुताबिक बच्चों को अगर कुछ हेल्दी देना चाहते हैं तो कैल्शियम पोटेशियम, फॉस्फोरस और मिनरल्स से भरपूर दूध का एक गिलास रोजाना दें. दूध के लिए आप सोया मिल्क, बादाम मिल्क जैसे विकल्प ले सकते हैं. अगर बच्चा दूध नहीं पीना चाहता तो उसे फलों की स्मूदी या शेक दें. यह बच्चे को जरूर पसंद आएगा. फ्रूट स्मूदी में टेस्ट के लिए आप नट्स और हानी ऐड कर सकते हैं. नेचुरल विकल्प तलाश रहे हैं तो कोकोनट वाटर बच्चों के लिए बढ़िया ऑप्शन है. यह इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस करने में सहायक है.

ये भी पढ़ें:हर जगह कंपटीशन बन रही बच्चों की एंजाइटी का कारण? यहां जानें जरूरी बातें

Tags: Child Care, Lifestyle, Parenting, Parenting tips

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें