बच्चों को हो रही हैं फुंसियां? न करें नजरअंदाज, हो सकता है एक्ज़िमा

बच्चे के शरीर पर फुंसी एक्ज़िमा भी हो सकती है-Image/pexels-subham-majumder

अगर बच्चे के शरीर पर फुंसिया हैं और ये लम्बे समय तक ठीक नहीं हो रही हैं. तो इसको बिलकुल भी नज़रअंदाज (Ignore) नहीं करना चाहिए. क्योंकि ये एक्ज़िमा (Eczema) भी हो सकता है. जानिए इसके बारे में.

  • Share this:
    Eczema in Children: बच्चों के शरीर पर अक्सर फुंसियां हो जाती हैं खासकर गर्मियों के दिनों में. इसकी कई वजह हो सकती हैं जैसे मौसम बदलना, एनीमिया, इम्यूनिटी कमजोर होना, आयरन की कमी और स्किन पर कैमिकल बेस्ड प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना. इन फुंसियों की वजह से बच्चे को दर्द, जलन, बुखार और सूजन आने जैसी दिक्कत हो सकती है. कई बार लोग इनको ठीक करने के लिए घरेलू इलाज (Home remedies) का सहारा लेते हैं. लेकिन अगर ये फुंसिया लम्बे समय तक बच्चे के शरीर पर बनी रहती हैं. तो इसको नज़रअंदाज (Ignore) नहीं करना चाहिए क्योंकि ये एक्ज़िमा (Eczema) भी हो सकता है. आइये nbt में छपी रिपोर्ट के हवाले से छापा जानते हैं इसके बारे में.

    ये हो सकती है एक्ज़िमा होने की वजह

    बच्चों में एक्ज़िमा होने की कई वजह हो सकती हैं. बच्चे की स्किन पर कैमिकल बेस्ड क्रीम-पाउडर, लोशन जैसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल होना. किसी साबुन के इस्तेमाल से रिएक्शन होना. वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन होना. धूल-मिट्टी और गंदगी के संपर्क में आने की वजह से या सिंथेटिक कपड़े पहनने की वजह से भी ये दिक्कत हो सकती है.  कई बार घर में किसी को एक्ज़िमा की दिक्कत पहले से होने की वजह से भी ये परेशानी हो सकती है.

    ये भी पढ़ें: बच्चों के लिए खिलौने खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान
    इस तरह से पहचाने एक्ज़िमा को 



    बच्चे के गाल, कोहनी, घुटने और घुटने के पीछे के हिस्से पर लाल चकत्ते दिख रहे हों. एड़ियों, गर्दन और कलाई में बार-बार रैशेज़ हो रहे हों. फुंसी में पस और खून आ रहा हो. फुंसी और रैशेज़ वाली जगह पर सूजन दिख रही हो और ये शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल रहा हो. तो आपको इस बात को नज़रअंदाज़ किये बिना डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

    ये भी पढ़ें: बच्चों के कमरे में कभी न रखें ये चीजें, हो सकती हैं खतरनाक

     इस तरह बरतें सावधानी



    वैसे तो आपको शिशु को डॉक्टर को दिखाने के बाद उनकी सलाह पर ही अमल करना चाहिए. लेकिन किसी वजह से अगर आप  बच्चे को डॉक्टर के पास नहीं ले जा पा रहे हैं. तब तक आप जो सावधानी बरत सकते हैं उनमें बच्चे को बिना साबुन के नहलाएं. शरीर पर शैम्पू और तेल जैसी चीज न लगाएं. कॉटन टॉवल से हल्के हाथों से शरीर को सुखाएं. शरीर पर कोई लोशन, क्रीम और पाउडर जैसी चीज़ भी न लगाएं. बच्चे को कॉटन के ढीले कपड़े पहनाएं. बच्चे के नाखूनों को काटते रहें. उसके खिलौनों को धोते और साफ़ करते रहें. बिस्तर मुलायम और सूखा रखें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित है. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
    Published by:Meenal Tingel
    First published: