• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • कहीं आप तो नहीं कर रहे हैं बच्चों को दवा देने में ये गलतियां?

कहीं आप तो नहीं कर रहे हैं बच्चों को दवा देने में ये गलतियां?

डाक्टर की सलाह के अनुसार ही बच्चों को दवा देनी चाहिए. (Image-Shutterstock)

डाक्टर की सलाह के अनुसार ही बच्चों को दवा देनी चाहिए. (Image-Shutterstock)

Parenting Tips: कई बार अनजाने में माता-पिता बच्चों को दवा देने में कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिससे बच्चे की दिक्कत बढ़ जाती है.

  • Share this:

    Tips for Giving Medicines To Child: बच्चे (Kids) जब बीमार हो जाते हैं तो माता-पिता की रातों की नींद उड़ जाती है. खासकर बदलते मौसम में बच्चे अचानक से बीमार हो जाते हैं. बुखार, खांसी, जुकाम, सिर दर्द, उल्टी, दस्त आदि बीमारियां हो जाने पर पैरेंट्स घबरा जाते हैं. कई बार वो कुछ सोच समझ नहीं पाते और खुद ही उनका इलाज करना शुरू कर देते हैं. माता- पिता बच्चों के बीमार हो जाने पर दवाई देने में छोटी -छोटी गलतियां कर देते हैं. जो उनको बिलकुल नहीं करनी चाहिए. इससे बच्चे की दिक्कत बढ़ सकती है. इसलिए जजरूरी है बच्चे जब बीमार हों तो उनको सबसे पहले डॉक्टर (Doctor) को दिखाएं.

    डॉक्टर के परामर्श के अनुसार कब, कौन सी दवा देनी है, वो देते रहें. आइये जानते हैं कुछ बातें जिससे  पेरेंट्स बच्चों को दवा देने में गलतियां करने से बच सकें

    यह भी पढ़ें: खाना खाने का तरीका भी आंत की सेहत पर डालता है असर, एक्सपर्ट से जानें कैसे

    सही खुराक देना:- बच्चे के बीमार होने पर माता-पिता जिम्मेदारी होती है कि बोतल पर लिखे गए इंस्ट्रक्शन्स के हिसाब से उनको दवा दें. आमतौर पर डाक्टर की सलाह के अनुसार ही बच्चों को दवा देनी चाहिए. फिर अगर बच्चों को डॉक्टर द्वारा दी गई दवा से आराम नहीं मिल रहा है तो फौरन डॉक्टर से मिलकर अपने बच्चे की सारी परेशानियां बतानी चाहिए.

    दवा खुराक को दोहराना:- खांसी आने पर अक्सर ऐसा होता है. पैरेंट्स बच्चों को अगर बार- बर खांसी आ रही है, तो हर बार खांसी का सिरप पिला देते हैं. ताकि बच्चों की खांसी बंद हो सके. ऐसा करने से बचें क्योंकि ज्यादातर कफ सिरप पीने के बाद सुस्ती आती है. जो बच्चे की सेहत के लिए ठीक नहीं है. 

    दर्द से मिले आराम:- बच्चे जब बाहर खेलते हैं या थक-हार कर घर आते हैं, उनको अगर पैर में दर्द हो या सिर दर्द आदि की शिकायत होती है तो अक्सर कुछ पैरेंट्स बच्चों को पेन किलर दे देतें हैं. जो बिल्कुल नहीं करना चाहिए. दर्द निवारक दवा खाने से बच्चों को आगे चल कर गंभीर दिक्कतें हो सकती ंहै. ऐसे में पैरेंट्स बच्चों को घरेलू नुस्खे अपनाकर दर्द से निजात पा सकते हैं. बच्चे का दर्द भी दूर हो जाएगा. 

    यह भी पढ़ें: शरीर में आयरन की कमी से हार्ट से जुड़ी बीमारियों का हो सकता है खतरा – रिसर्च

    सही मात्रा में दवा देना:- कभी-कभी ऐसा होता है कि जो दवायें मीठी होती हैं, बच्चे उनको दिन में या रात में कई बार पी लेते है या खा लेतें हैं. कई बार पैरेंट्स इतना ध्यान भी नहीं दे पाते हैं कि उनके बच्चे ने कितनी बार दवा खा ली. इसलिए माता-पिता बच्चों को ख़ुद दवा दें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज