Home /News /lifestyle /

why kids lie and how parents can help them to speak truth in hindi pra

इन कारणों से बच्‍चे बोलते हैं झूठ, उन्हें सच बोलने के लिए ऐसे करें मोटिवेट

बच्‍चों के सामने कभी झूठ ना बोलें. Image : Canva

बच्‍चों के सामने कभी झूठ ना बोलें. Image : Canva

अक्‍सर बच्‍चे तब छूट बोलते हैं, जब उन्‍हें लगता है कि सच बोलने पर उन्‍हें डांट पड़ सकती है. इतना ही नहीं, अगर गलती से उनसे कोई चीज़ टूट जाए या कोई गलत काम हो गया है, तो भी उन्‍हें सच बोलने की हिम्‍मत नहीं होती. ऐसे में वे झूठ बोलकर बचने की कोशिश करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Parenting Tips: कई बार बच्चे डांट से बचने के लिए झूठ बोल देते हैं. कुछ बच्चे किसी मुश्किल स्थिति या छोटी-मोटी समस्याओं से बचने के लिए भी झूठ बोलकर या कोई बहाना बनाकर बात से बचने की कोशिश करते हैं. लेकिन, उनकी ये शुरुआती आदतों को समय रहते नहीं संभाला गया, तो उन्‍हें बात-बात पर छूट बोलने की लत लग जाएगी. दरअसल, कई बार माता-पिता या घर के बड़े ये सोचकर उन्‍हें माफ कर देते हैं कि अभी वह बच्‍चा है, जबकि कई माता-पिता गलती होने पर इतना ज्‍यादा उत्‍तेजित होकर डांट या मार लगा लेते हैं कि दहशत की वजह से बच्चे सच नहीं बोल पाते. आपको बता दें कि आपका ये बर्ताव बच्चे को झूठ बोलने के लिए और भी मोटिवेट कर सकता है. हम आपको बताते हैं कि बच्‍चों को झूठ बोलने से किस तरह से रोका जा सकता है और आप सच बोलने के लिए उन्‍हें मोटिवेट कैसे कर सकते हैं.

इन वजहों से बच्‍चे बोलते हैं छूट

-अक्‍सर बच्‍चे इस बात पर झूठ बोलते हैं, जब उन्‍हें लगता है कि सच बोलने पर उनहें डांट पड़ सकती है.

– अगर गलती से उनसे कोई चीज़ टूट गई है या कोई गलत काम हो गया है, तो वे झूठ बोलकर बचने की कोशिश करते हैं.

ये भी पढ़ें: ऐसे करें टीनएजर बच्चों से दोस्ती की शुरुआत, गाइड करना होगा आसान

-जो काम माता-पिता ने करने से मना किया है या जो काम वे हमेशा सिखाते हैं, अगर बच्‍चे ने वही काम कर लिया है, तो पैरेंट्स के सामने अपना इंप्रेशन खराब ना हो, इसके लिए भी बच्‍चे झूठ बोल देते हैं.

-कई बार बच्चे दोस्‍तों की मदद के लिए झूठ बोलते हैं, मसलन पेंसिल बॉक्स दे देना, किसी दोस्त की गलती पर पर्दा डालना आदि.

-कई बार दूसरों की भावनाओं को ठेस ना पहुंचे, इसलिए भी बच्‍चे झूठ बोलकर बात को संभालने का प्रयास करते हैं.

-एक झूठ को छिपाने के लिए भी वे एक के बाद एक झूठ बोलते चले जाते हैं.

ये भी पढ़ें: बच्चों की ऑनलाइन गेम्स खेलने की आदत से हैं परेशान तो ये तरीके आएंगे काम

 बच्चों की झूठ बोलने की आदत ऐसे छुड़ाएं

-बच्‍चों के सामने पैरेंट्स कभी भी झूठ ना बोलें.
-बच्‍चों को बचाने के प्रयास में भी झूठ ना बोलें.
-सबसे पहले उन्हें समझाएं कि झूठ बोलना गलत आदत होती है.
-उन्‍हें बताएं कि झूठ कभी अधिक दिनों तक छिपता नहीं है.
-सच बोलने से हो सकता है कि अभी डांट पड़े, लेकिन बाद की मुश्किलें आसान हो सकती हैं.
-ये बताएं कि उसकी झूठ बोलने की आदत के कारण लोग उन पर विश्‍वास करना छोड़ देंगे.
-बच्चा जब भी झूठ बोले, तो उसे आप तुरंत बता दें कि आप समझ गए हैं कि वह झूठ बोल रहा है.
-जब भी बच्चा कोई गलती करने के बाद उसे स्वीकार करे या सच बोले, तो उसे शाबाशी दें और उसका हौसला बढ़ाएं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.) 

Tags: Lifestyle, Parenting, Parenting tips

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर