Lunar Eclipse 2019, चंद्र ग्रहण 2019: आज चंद्रग्रहण और गुरु पूर्णिमा साथ, 149 साल बना है दुर्लभ संयोग

Lunar Eclipse 2019, चंद्र ग्रहण 2019: वैज्ञानिकों ने इसे हाफ ब्लड थंडर मून इक्लिप्स (Half Blood Thunder Moon Eclipse) का नाम दिया है.

News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 1:35 PM IST
Lunar Eclipse 2019, चंद्र ग्रहण 2019: आज चंद्रग्रहण और गुरु पूर्णिमा साथ, 149 साल बना है दुर्लभ संयोग
partial lunar eclipse,guru purnima,Lunar Eclipse 2019, चंद्र ग्रहण 2019
News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 1:35 PM IST
Lunar Eclipse 2019, चंद्र ग्रहण 2019: आज रात को साल 2019 का दूसरा चंद्रग्रहण लगेगा. भारत समेत पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, सिंगापुर, फिलिपींस, मलेशिया और इंडोनेशिया के साथ ईरान, इराक, तुर्की और सऊदी अरब में यह चंद्र ग्रहण देखा जा सकेगा. लेकिन सरकार की तरफ से जारी विज्ञप्ति में इस बात का जिक्र है कि भारत में अरुणाचल प्रदेश के उत्तर पूर्वी इलाकों को छोड़कर यह हर जगह देखा जा सकेगा. इस बार का चंद्र ग्रहण आंशिक है. वैज्ञानिकों ने इसे हाफ ब्लड थंडर मून इक्लिप्स (Half Blood Thunder Moon Eclipse) का नाम दिया है. चंद्रग्रहण की शुरुआत1 बजकर 31 मिनट पर होगी जोकि सुबह 4 बजकर 30 मिनट तक रहेगी. आइए जानते हैं चंद्रग्रहण से जुड़ी ख़ास बातें..

इसे भी पढ़ें: चंद्र ग्रहण के दौरान ये काम करने से मिलता है पुण्य!

कुछ ख़ास है ये चंद्र ग्रहण:
आज गुरु पूर्णिमा के दिन ही चंद्रग्रहण भी पड़ रहा है. रात 3 बजे के करीब पृथ्वी की छाया पड़ने से चंद्रमा का आधे से ज्यादा हिस्सा ढंक जाएगा. इससे चंद्रमा लालिमा युक्त नजर आएगा जैसा कि पिछली बार सुपर ब्लड वूल्फ मून चंद्रग्रहण के वक्त नजर आया था. आज भारतवासी भी इस अनोखे नज़ारे को देख पाएंगे.

इसे भी पढ़ें: Chandra Grahan 2019: ऐसे देखें साल का आखिरी चंद्र ग्रहण

पार्शियल ब्लड थंडर मून इक्लिप्स:
इस बार आंशिक चंद्रग्रहण लग रहा है यही वजह है कि वैज्ञानिकों ने इसे हाफ ब्लड थंडर मून इक्लिप्स (Half Blood Thunder Moon Eclipse) का नाम दिया है. यह शानदार नजारा 2 घंटे 58 मिनट तक देखा जा सकेगा. भारत समेत पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, सिंगापुर, फिलिपींस, मलेशिया और इंडोनेशिया के साथ ईरान, इराक, तुर्की और सऊदी अरब में इस अद्भुत खगोलीय घटना के गवाह बनेंगे. भारत में अरुणाचल को छोड़कर यह चंद्र ग्रहण हर जगह देखा जा सकेगा.
Loading...

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 16, 2019, 8:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...