अपना शहर चुनें

States

कम उम्र में सफ़ेद हो रहे हैं बच्चे के बाल? ये कारण हो सकते हैं जिम्मेदार

Grey and White Hair In Kids: कम उम्र में बाल सफ़ेद होने की समस्या के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे कि हार्मोनल असंतुलन, ठीक खानपान और जीवनशैली का ना होना...
Grey and White Hair In Kids: कम उम्र में बाल सफ़ेद होने की समस्या के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे कि हार्मोनल असंतुलन, ठीक खानपान और जीवनशैली का ना होना...

Grey and White Hair In Kids: कम उम्र में बाल सफ़ेद होने की समस्या के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे कि हार्मोनल असंतुलन, ठीक खानपान और जीवनशैली का ना होना...

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 13, 2020, 11:16 AM IST
  • Share this:
कई बच्चों के बाल असमय सफ़ेद और ग्रे होने लगते हैं. कम उम्र में पके बाल बेहद अजीब लगते हैं. कम उम्र में बाल सफ़ेद होने की समस्या के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे कि हार्मोनल असंतुलन, ठीक खानपान और जीवनशैली का ना होना. इसके अलावा भी कई कारण बच्चों के कम उम्र में बाल सफ़ेद होने की समस्या के जिम्मेदार हो सकते हैं. आइए मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जानते हैं कि आखिर कम उम्र में बच्चों के बाल सफ़ेद होने की समस्या के पीछे क्या कारण जिम्मेदार होते हैं...

हार्मोनल असंतुलन:
बच्चों में हार्मोन का संतुलन ठीक ना होने की वजह से भी बाल सफ़ेद होने की समस्या सामने आ सकती है. इसके पीछे बच्चों के खापान से जुड़ी आदतें और अनियमित जीवनशैली भी जिम्मेदार हो सकती है.

इसे भी पढ़ें: Baby Massage Benefits: शिशु की मालिश के हैं फायदे अनेक, जानें क्यों बेबी मसाज है जरूरी
तनाव भी है वजह:


बच्चों में तनाव के कारण उनके बालों का समय से पहले सफ़ेद होना भी हो सकता है. हालांकि, यहां तनाव का मतलब मनोवैज्ञानिक तनाव नहीं है. यह जीनोटॉक्सिक तनाव है, जो पर्यावरणीय कारकों के कारण होता है.

स्मोकिंग भी है वजह:
अगर आप स्मोकिंग करते हैं तो अगली बार बच्चों से दूर रहकर ऐसा करें. यदि कोई बच्चा हमेशा धुएं के संपर्क में रहता है, तो इससे बालों का समय से पहले सफ़ेद होने की समस्या हो सकती है. स्मोकिंग भी आपके बच्चे के शरीर में ऑक्सीडेटिव तनाव का कारण बन सकता है, और मेलेनिन के उत्पादन को कम कर सकता है. इसलिए इसे रोकने के लिए बच्चों के पास स्मोकिंग करने से बचना चाहिए.

एनीमिया भी हो सकता है वजह:
आयरन की कमी से एनीमिया हो सकता है, जिसके परिणामस्वरूप बच्चों में थकान और बाल सफेद होने की समस्या सामने आती है. बच्चों में समय से पहले एनीमिया भी बालों के भूरे होने का कारण हो सकता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज