• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • Raksha Bandhan 2021: राखी सेलिब्रेशन को बनाएं स्पेशल, इको फ्रेंडली राखी से सजाएं भाई की कलाई

Raksha Bandhan 2021: राखी सेलिब्रेशन को बनाएं स्पेशल, इको फ्रेंडली राखी से सजाएं भाई की कलाई

इस बार भाई की कलाई पर बांधें इको फ्रेंडली राखी.

इस बार भाई की कलाई पर बांधें इको फ्रेंडली राखी.

Raksha Bandhan Special: इस बार बाजार में इको फ्रेंडली राखियों की काफी डिमांड है, इसके साथ ही आर्गेनिक गिफ्ट बॉक्स की भी खरीदारी हो रही है.

  • Share this:

    Raksha Bandhan: भाई-बहन के अटूट प्यार और विश्वास का त्यौहार रक्षाबंधन इस बार 22 अगस्त को मनाया जाएगा. सभी घरों में राखी सेलिब्रेशन (Rakhi Celebration) को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं. इस फेस्टिवल को को खास बनाने के लिए इस बार बाजार में इको फ्रेंडली प्रोडक्ट्स की भरमार है. इसमें इको फ्रेंडली राखियों (Eco Friendly Rakhis) से लेकर ऑर्गेनिक गिफ्ट बॉक्स तक, सब कुछ शामिल हैं. ये इको फ्रेंडली प्रोडक्ट्स आसानी से बाजार में उपलब्ध हैं, पर्यावरण के प्रति जागरुकता बढ़ने के बाद इस बार लोगों में इको फ्रेंडली राखियों को लेकर डिमांड भी काफी बढ़ गई है. राखी सेलिब्रेशन में अब काफी कम वक्त रह गया है, ऐसे में इको फ्रेंडली प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन भी मंगवाया जा सकता है.
    ऐसे बनती हैं इको फ्रेंडली राखियां
    भाई की ओर से बहन को हर परिस्थिति में रक्षा का भरोसा दिलाने वाले इस खास बंधन को दोनों के लिए स्पेशल बनाने की कोशिश की जा रही है. इस बार बाजार में तुलसी के बीजों से बनी राखियां भी उपलब्ध हैं. इन इको फ्रेंडली राखियों को खास तरीके से तैयार किया जाता है. इसमें ऑर्गेनिक रंगों, हाथों से बने पेपर का इस्तेमाल किया जाता है. तुलसी के बीजों सहित अन्य बीजों का इस्तेमाल सीड राखियों को बनाने में किया जाता है. सीड राखियों को बनाने के पीछे मकसद पर्यावरण हितैषी होने के साथ ही रक्षाबंधन के त्यौहार को भाई-बहन के लिए यादगार बनाना भी है. राखियों के उपयोग के बाद बीजों को गमले में रोपा जा सकता है, जिससे वे पौधे का रुप ले सकें. बाजार में रिसाइकल होने वाले गिफ्ट बॉक्स भी उपलब्ध हैं.

    यह भी पढ़ें- Raksha Bandhan Puja Thali: राखी पर इन चीजों को पूजा की थाली में सजाना न भूलें


    खुशियों के बीच सेहत का रखें ध्यान
    किसी भी त्यौहार की खुशियां मुंह मीठा किए बिना पूरी नहीं हो सकती है. रक्षाबंधन के खास मौके पर घर पर ही कई प्रकार की मिठाईयां तैयार की जा सकती हैं, जिनकी मिठास ने सिर्फ सबको भाएगी बल्कि इससे किसी भी तरह की मिलावट से भी बचा जा सकेगा. बेसन की चक्की से लेकर जलेबी, गुलाब जामुन तक आसानी से कुछ ही वक्त में तैयार किए जा सकते हैं. मिठाईयों के अलावा ड्रायफ्रूट्स की खीर, फ्रूट क्रीम और हलवा भी आसानी से तैयार किया जा सकता है. ऐसे में राखी सेलिब्रेशन के साथ ही परिवार की सेहत का भी आसानी से ध्यान रखा जा सकता है.

    यह भी पढ़ें- Raksha Bandhan 2021: रक्षाबंधन पर मिठाई की जगह इन चीजों से भी करवा सकते हैं मुंह मीठा


    क्लीन, ग्रीन पर्यावरण के लिए बढ़ाए कदम
    दुनियाभर में तेजी से पर्यावरण में हो रहे बदलाव के दुष्प्रभाव सामने आने लगे हैं. ऐसे में अब यह हमारी जिम्मेदारी बनती है कि इसे बचाने के लिए हम आगे आएं. पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर लोगों में किस तेजी से जागरुकता बढ़ी है, इसकी एक बानगी इस बार इको फ्रेंडली प्रोडक्ट्स की खरीदी के चलते भी दिखाई दे रही है.

    (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन