होम /न्यूज /जीवन शैली /कपल थेरेपी से रिश्तों में वापस आ सकती है मधुरता ! फायदे जानकर चौंक जाएंगे

कपल थेरेपी से रिश्तों में वापस आ सकती है मधुरता ! फायदे जानकर चौंक जाएंगे

यह थेरेपी रिश्तों की दूरियां कम करने में कारगर है. (Image Canva)

यह थेरेपी रिश्तों की दूरियां कम करने में कारगर है. (Image Canva)

रिश्‍तों की इसी अनबन को सुलझाने के लिए कपल थेरेपी का सहारा लिया जाता है. कपल थेरेपी सेल्‍फ इम्‍प्रूवमेंट के लिए जरूरी ह ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

यह कपल्‍स के बीच मनमुटाव को दूर करने में मदद करती है.
इस थेरेपी में कपल्‍स एक साथ कई एक्टिविटी करते हैं.

Benefits Of Couple Therapy: पति-पत्‍नी या एक कपल का रिश्‍ता बहुत ही नाजुक होता है, जिसमें प्‍यार के साथ तकरार होना भी लाजिमी है. जब तकरार बड़ा रूप ले लेती है तब उसे सुलझाने की जरूरत पड़ती है. रिश्‍तों की इसी अनबन को सुलझाने के लिए कपल थेरेपी का सहारा लिया जाता है. कपल थेरेपी सेल्‍फ इम्‍प्रूवमेंट के लिए जरूरी है. कई बार छोटी-छोटी बातों से रिश्‍तों में दूरी बढ़ जाती है. कई दिनों तक कपल्‍स एक दूसरे से बात नहीं करते. ऐसे में कपल थेरेपी कपल्‍स के बीच की दूरी को कम करने का काम कर सकती है. कपल थेरेपी में कई एक्टिविटीज को शामिल किया जाता है जिससे लाइफ ज्‍यादा इंट्रस्‍टिंग हो सकती है. कपल थेरेपी और इसके बेनिफिट्स के बारे में जान लीजिए.

क्‍या है कपल थेरेपी?
कपल्‍स के बीच होने वाले टकराव को कम करने के लिए इस थेरेपी का प्रयोग किया जाता है. हेल्‍थलाइन के अनुसार कपल थेरेपी कपल्‍स के बीच की दूरी को कम करने और रिश्‍ते में प्‍यार बरकरार रखने का काम करती है. कपल थेरेपी रिश्‍तों को मजबूत बना सकती है. इसमें एक लाइसेंस प्राप्‍त काउंसलर कपल्‍स के बीच समझौता करवाता है और एक साथ की जाने वाली कई एक्टिविटीज को थेरेपी में शामिल कर सकता है. इन एक्टिविटीज के जरिए कपल्‍स के बीच की तकरार और दूरी को कम करने की कोशिश की जाती है.

कपल थेरेपी के बेनिफिट्स
–  कपल्‍स करते हैं एक टीम की तरह काम
–  रिश्‍तों में आती है मधुरता
– बढ़ता है प्‍यार
– क्‍वालिटी टाइम स्‍पेंड करते हैं
–  हर विषय पर करते है बात
–  फिजिकल और इमोशनल बदलाव
–  रिश्‍तों में हानिकार‍क पैटर्न की पहचान करना
–  एक-दूसरे के साथ विश्‍वास का पुनर्निर्माण
–  सेल्‍फ इंप्रूवमेंट
–  बढ़ता है एक-दूसरे का सम्‍मान

इसे भी पढ़ें: रिलेशनशिप में हर वक्‍त दूसरे को ब्‍लेम करना खतरनाकऐसे निकालें हल

कपल्‍स थेरेपी टेक्निक
–  इमोशनली फोकस्‍ड थेरेपी
– नैरेटिव थेरेपी
–  रिलेशनशिप थेरेपी
–  सॉल्‍यूशन फोकस्‍ड थेरेपी

इसे भी पढ़ें: रिलेशनशिप में तनाव से बढ़ सकती है इमोशनल डिस्टेंसिंग, जानिए अन्य वजह

कपल्‍स एक्‍सरसाइज और एक्टिविटी
– एक साथ काम करना
–  प्रशंसा करना
–  पार्टनर की लव लैंग्‍वेज का पता करना
–  जरूरी कन्‍वर्सेशन
–  फिल यॉर इंटिमेसी बकेट
–  पार्टनर योगा
–  म्‍यूजिक एक्टिविटी
– फील गुड टाइम

Tags: Couple, Lifestyle, Relationship

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें