होम /न्यूज /जीवन शैली /क्या इन दिनों आप भी Emotional Flooding का कर रहे सामना? ऐसे भावनाएं करें कंट्रोल

क्या इन दिनों आप भी Emotional Flooding का कर रहे सामना? ऐसे भावनाएं करें कंट्रोल

कई बार इमोशनल फ्लडिंग रिलेशनशिप को भी प्रभावित करने लगता है. (Image : Canva)

कई बार इमोशनल फ्लडिंग रिलेशनशिप को भी प्रभावित करने लगता है. (Image : Canva)

How To Deal With Emotional Flooding- अत्‍यधिक तनाव और स्‍ट्रॉन्‍ग इमोशन 'इमोशनल फ्लडिंग' का काम करते हैं. यह एक भावनात् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इमोशनल फ्लडिंग के दौरान हमारा नर्वस सिस्‍टम आउट ऑफ कंट्रोल हो जाता है.
ऐसे में जरूरी है कि आप ब्रेक लें और शांत होकर खुद को संभालने की कोशिश करें.

Emotional Flooding Coping Strategies: अधिकतर लोग ऐसे स्थिति से कभी ना कभी जरूर गुजरे होंगे, जब उनके इमोशंस उन पर हावी हो गए हों. ऐसी कंडीशन में हम चाहकर भी कुछ सोच नहीं पाते. यहां तक कि हम बात करने में भी सक्षम नहीं रहते. ये इमोशंस इतने स्‍ट्रॉन्‍ग होते हैं कि हमारा नर्वस सिस्‍टम आउट ऑफ कंट्रोल हो जाता है और हम थका हुआ महसूस करने लगते हैं.  यह वह स्थिति होती है जब हमारा हार्ट रेट बढ़ जाता है, चेस्‍ट टाइट महसूस होता है, पसीना आने लगता है और सांस लेने में तकलीफ महसूस होने लगती है. ऐसे इमोशंस को इमोशनल फ्लडिंग कहा जाता है.

जानी मानी बिहेवियर साइंटिस्‍ट और थेरेपिस्‍ट ल्यूसिले शैकलेटन ने इस विषय पर अपने सोशल मीडिया पर बताया कि ऐसे हालात में लोग साफ तरीके से सोच नहीं पाते, सुन नहीं पाते और यहां तक कि कॉम्‍यूनिकेशन में भी परेशानी आने लगती है जिसे वजह से कई बार रिलेशनशिप भी प्रभावित होने लगता है. ऐसे में जरूरी है कि हम थोड़ा ब्रेक लें और शांत होकर वापस बात करने का प्रयास करें.

ऐसे इमोशनल फ्लडिंग को करें कंट्रोल

तुरंत रुक जाएं- अगर आप किसी जरूरी टॉपिक पर बात कर रहे हैं या किसी चीज पर डिस्‍कशन कर रहे हैं और इसके बीच में आप इमोशनल फ्लडिंग महसूस कर रहे हैं तो आप तुरंत थोड़ा ब्रेक ले लें. जब आप बेहतर महसूस करें और शांत हो जाएं तभी बात को दोबारा शुरू करें.

ये भी पढ़ें: कहीं आप इमोशनल एडिक्शन का तो नहीं हो रहे शिकार? जानें इससे उबरने के तरीके

खुद को शांत करने का करें प्रयास- अगर आप बार बार इमोशनल हो जा रहे हैं तो खुद को शांत करने का प्रयास कर सकते हैं. इसके लिए आप थोड़ा वॉक कर लें, चॉकलेट खा लें, हॉट बाथ लें आदि.

गहरी सांस लें- जब भी आपको भारी भारी महसूस हो तो आप तुरंत ब्रेक लें. ब्रेक में आप गहरी सांस लें और एक मिनट तक पूरा सांस बाहर निकालें और भर कर सांस लें.

ये भी पढ़ें: पहली डेट पर जाने से पहले इन 4 बातों का रखें ख्याल, मिलेगा अनोखा एक्सपीरिएंस

खुद में सोचें- आप खुद में यह सोचें कि कुछ बेकार की बातें आपको परेशान कर रही हैं जिसकी वजह से आप अपनी सोच को शेयर नहीं कर पा रहे हैं. ऐसे सोचकर आप उन इमोशन को कंट्रोल कर सकेंगे.

ट्रिगर को पहचानें-आप उन बातों के बारे में सोचें जो आपके इमोशन को ट्रिगर करती है. इस विषय पर आप पहले ही अपने पार्टनर को बता दें. ऐसा करने से आपका पार्टनर इरिटेट नहीं होगा, बल्कि आपकी फीलिंग को समझने का प्रयास करेगा.

Tags: Lifestyle, Relationship

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें