होम /न्यूज /जीवन शैली /इंट्रोवर्ट से करना चाहते हैं दोस्ती? फॉलो करें ये टिप्स, आसानी से हो जाएगी फ्रेंडशिप

इंट्रोवर्ट से करना चाहते हैं दोस्ती? फॉलो करें ये टिप्स, आसानी से हो जाएगी फ्रेंडशिप

इंट्रोवर्ट्स से दोस्ती करने से पहले उनके लिए कोई धारणा न बनाएं. (Image-Canva)

इंट्रोवर्ट्स से दोस्ती करने से पहले उनके लिए कोई धारणा न बनाएं. (Image-Canva)

Befriending introverts: इंट्रोवर्ट्स के लिए ये माना जाता है कि उनसे दोस्ती करना भी आसान नहीं है. ऐसे में आप किसी इंट्रो ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इंट्रोवर्ट्स से दोस्ती करना चाहते हैं तो उनके लिए कम्फर्ट जोन बनाएं.
इंट्रोवर्ट्स से फ्रेंडशिप करने के लिए रुची दिखाएं और धारणा न बनाएं.

Tips to befriend introvert: दोस्ती एक बेहद खूबसूरत रिश्ता है. ये न सिर्फ एक रिलेशन है, बल्कि एक प्यारा एहसास भी है. दोस्तों के बिना जिंदगी अधूरी होती है. भले ही उनसे रोज मिलना न हो पाए मगर उनका लाइफ में मौजूद होना भी खुशी देता है. दोस्ती वो रिश्ता है, जो खून का बेशक नहीं होता लेकिन इसे हम खुद चुनते हैं. कब किससे दोस्ती होगी, ये तो जान पाना मुश्किल का काम है लेकिन कई बार कई ऐसे लोग ज़रूर मिल जाते हैं जो हमें अच्छे लगते हैं और उन्हें हम अपना दोस्य या बेस्ट फ्रेंड बनाना चाहते हैं. ऐसे में कई बार ऐसे लोग भी मिल जाते हैं जो शर्मीले होते हैं या इंट्रोवर्ट होते हैं.

इंट्रोवर्ट्स के लिए ये माना जाता है कि वे जल्दी किसी से मिलते-जुलते नहीं हैं. ऐसे में उनसे दोस्ती करना भी आसान काम नहीं है लेकिन अगर आप किसी इंट्रोवर्ट के अच्छे दोस्त बनना चाहते हैं तो कुछ आसान टिप्स को फॉलो कर और ज़रूरी बातों को ध्यान में रखकर ऐसा कर सकते हैं. जानिए, ये खास टिप्स

ऐसे करें इंट्रोवर्ट्स से दोस्ती

पहले से धारणा न बनाएं
यह मान लेना आसान है कि सभी इंट्रोवर्ट्स शर्मीले, एक कमरे के कोने में बैठने वाले होते हैं लेकिन ऐसा नहीं है. अंतर्मुखता अपने आप में एक स्पेक्ट्रम है यानी सभी इंट्रोवर्ट्स से एक जैसे व्यवहार अपेक्षा नहीं की जा सकती. इसलिए ध्यान रहे कि जिसके साथ आप दोस्ती करना चाहते हैं उसे पहले जानने की कोशिश करें. उसके लिए पहले से ही कोई धारणा न बनाएं.

कम्फर्ट जोन बनाएं
किसी के साथ कम्फर्ट जोन बन जाए तो किसी बात का स्ट्रेस नहीं रहता. अंतर्मुखी यानी इंट्रोवर्ट्स जहां सहज महसूस करते हैं, वहीं आराम से रह पाते हैं. इसके लिए उनकी तरफ देखकर मुस्कुराएं (न ज्यादा, न कम). अपनी बॉडी लैंग्वेज का ध्यान रखें. अपना पोस्चर उनकी ओर रखें, जैसे वे बोलते हैं, वैसे सुनें. उन्हें अपने बारे में बातें बताएं क्योंकि इससे उन्हें इसी तरह की बातचीत करने में आसानी हो सकती है और उन्हें बताएं कि अगर वे बदले में चीजें साझा नहीं करना चाहते हैं तो भी कोई बात नहीं है.

यह भी पढ़ें- लोगों से मिलने या नए दोस्‍त बनाने में आती है दिक्‍कत? इन तरीकों से लाएं पॉजिटिव बदलाव

परवाह दिखाएं
उनसे उनका हाल पूछें. अगर वे बिमार हैं या किसी बात से परेशान दिखाई दे रहे हैं तो उनसे बात करने की कोशिश करें. आपकी केयर के बदले बेशक वे अपनी भावनाएं व्यक्त न कर पाएं लेकिन उन्हें ये अच्छा लग सकता है.

यह भी पढ़ें- कहीं आप इमोशनल एडिक्शन का तो नहीं हो रहे शिकार? जानें इससे उबरने के तरीके

रुचि दिखाएं
ज्यादातर इंट्रोवर्ट्स एक्टिव पार्टिसिपेशन की सराहना करते हैं क्योंकि उन्हें खुद किसी के पास जान कर संपर्क करने और उनसे दोस्ती करने में परेशानी महसूस हो सकती है, जिनसे वे दोस्ती करना चाहते हैं या जो उनके दोस्त बनना चाहते हैं. यह मानते हुए कि आप उनके दोस्त बनना चाहते हैं, कुछ ऐसा होना चाहिए जो आपको उनकी ओर खींचे. उनकी सीमाओं का सम्मान करें और उनके उन पहलुओं पर ध्यान दें जिनकी वजह से आप पहली बार में उनके दोस्त बनना चाहते थे.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Relationship

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें