Home /News /lifestyle /

जानलेवा मोहब्बत: वो मर चुकी थी तो FB पर कमेंट और फोटो कैसे डाल रही थी?

जानलेवा मोहब्बत: वो मर चुकी थी तो FB पर कमेंट और फोटो कैसे डाल रही थी?

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

LoveSexaurDhokha: गोरखपुर के राखी हत्याकांड की कहानी. एक शादीशुदा डॉक्टर के साथ प्यार के बाद होती है गुपचुप शादी. फिर रिश्ता टूटता है. लड़की दूसरी शादी करती है लेकिन इस बीच पुराने रिश्ते के मायने बदल जाते हैं.

'ओके डार्लिंग हम नेपाल में मिलते हैं..' इतना कहकर धर्मेंद्र ने फोन काटकर अपना ड्रिंक एक घूंट में खत्म किया. फिर, साथ बैठे प्रमोद से कहा 'इस बार कोई बेवकूफी नहीं करना है. बहुत जबर मौका है, इस बार उसे आखिरी नींद सुलाना ही है.' कत्ल करने और कत्ल को छुपाने की पूरी प्लैनिंग की गई लेकिन सवाल यह था कि धर्मेंद्र अपनी प्रेमिका या गुप्त पत्नी की हत्या करना क्यों चाहता था?

READ: पति पत्नी और पॉर्न

ये कहानी है एक आदमी की मोहब्बत की, एक औरत के दिलफरेब किरदार की और मोहब्बत के आहिस्ता आहिस्ता बेइंतहा नफरत में बदलने की. अस्ल में, साल 2006 में जब राखी के बाप की सेहत अचानक बहुत बिगड़ी तो गोरखपुर के उस इलाके के नामचीन अस्पताल में दाखिल करवाया गया. यहां डॉ. धर्मेंद्र ने राखी के बाप का इलाज किया और परेशान व फिक्रमंद राखी को भी अच्छी तरह ट्रीट किया.

उस वक्त राखी को डॉ. धर्मेंद्र का बर्ताव अच्छा लगा और डॉ. धर्मेंद्र को भी राखी की खूबसूरती व सरलता भा गई लेकिन तब दोनों को नहीं पता था कि यह बात कितने आगे तक जाएगी. इलाज का सिलसिला तो खत्म हो गया लेकिन धीरे-धीरे दोनों एक-दूसरे के मरीज़ बनने लगे. अब अस्पताल के बाहर दोनों की मुलाकातें होने लगीं. दोनों एक-दूसरे के साथ फ्लर्ट करते. राखी को अच्छा तो लग रहा था लेकिन उसके मन में कहीं संकोच इसलिए था क्योंकि डॉ. धर्मेंद्र शादीशुदा आदमी था.

शादीशुदा आदमी से शादी तक पहुंची बात
प्यार में उम्र की सीमा या जन्म के बंधन तो होते नहीं इसलिए बात कितने दिन तक दब पाती? राखी और डॉ. धर्मेंद्र के बीच नज़दीकियां बढ़ती गईं और सारी हदें धीरे-धीरे टूटने लगीं. अब सवाल खड़े हुए कि इस रिश्ते का अर्थ क्या है? इस रिश्ते का भविष्य क्या होगा?

बीवी की हत्या, प्रेमिका की हत्या, गोरखपुर हत्याकांड, उत्तर प्रदेश समाचार, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

राखी : मैं तो तुम्हें तन-मन से पति मान चुकी हूं धर्मेंद्र, अब तुम्हें ही फैसला करना है. अपनी बीवी को छोड़ सकते हो मेरे प्यार की खातिर या उस बोझिल रिश्ते के लिए मेरा प्यार छोड़ोगे.
धर्मेंद्र : यार, मैं चाहता तो तुम्हें ही हूं लेकिन पारिवारिक और सामाजिक मजबूरियां कुछ ऐसी हैं कि उसे छोड़ नहीं सकता. लेकिन, एक रास्ता है. हम दोनों शादी करेंगे. गुपचुप करेंगे लेकिन कानूनी तौर से तुम मेरी बीवी बनकर रहो इसलिए ये ज़रूरी है. मैं तुम्हें अपनी बीवी होने के सारे सुख और हक देना चाहता हूं ताकि तुम मेरे प्यार को हवस न समझो...

साल 2011 में राखी और धर्मेंद्र ने गोंडा जाकर गुपचुप ढंग से शादी कर ली. दोनों एक-दूसरे की मोहब्बत में बहते हुए चले जा रहे थे. एक रोज़ धर्मेंद्र अक्सर की तरह राखी को तोहफा देने पहुंचा. उसने राखी की आंखें पीछे से मीचकर उसे चौंकाया और फिर कहा कि आंखें बंद कर अपना हाथ आगे करे. जैसे ही राखी ने उमंग के साथ हाथ बढ़ाया तो धर्मेंद्र ने एक चाबी उसके हाथ में रखी. धर्मेंद्र ने गोरखपुर के शाहपुर इलाके में एक मकान खरीदा था और राखी को गिफ्ट कर दिया था.

जब पहली बीवी को पता चला अपने पति का अफेयर
अब राखी वहां रहने लगी. शटल कॉक की तरह धर्मेंद्र अपनी दोनों बीवियों उषा और राखी के बीच सफर करने लगा. गुपचुप मोहब्बत के किस्से फैलते देर भले हो जाए लेकिन छुपते कहां हैं? फिर एक रोज़ उषा को खबर हो ही गई कि धर्मेंद्र और राखी के बीच संबंध पनप रहा था. अब उषा की आए-दिन की नाराज़गी झेलने का वक्त आ चुका था.

उषा : देखो धर्मेंद्र, तुम जानते हो कि ये सब मैं बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करूंगी. और ये भी मत भूलना कि जो भी तुम आज हो, उसके पीछे मेरे खानदान का कितना हाथ है. मुझसे हाथ छुड़ाओगे तो बहुत कुछ छूटेगा. जिस पर अपना मकान लुटा चुके हो ना, अब अपनी उस रखैल को ज़िंदगी से बाहर करो वरना, अंजाम के लिए तैयार रहो.
धर्मेंद्र : तुम गलत समझ रही हो उषा. वो मकान मैंने सिर्फ किराये पर दिया है और सारे दस्तावेज़ हैं. तुम जैसा कहोगी, वैसा ही होगा. मेरा उससे कोई खास संबंध नहीं है. मैं कुछ ही रोज़ में उससे वहां से जाने को कह दूंगा.
उषा : वहां से नहीं धर्मेंद्र, ज़िंदगी से निकाल फेंको उसे. मुझे अगर कभी पता चला कि तुम्हारा किसी तरह का कोई वास्ता है उससे, तो याद रखना, एक ग़लती दूसरी बार काबिले-माफी नहीं होती...

अब हुआ ये कि धर्मेंद्र ने राखी से दूरी बनाना शुरू की. धर्मेंद्र ने कहा कि दुनिया की नज़रों और उषा की नाराज़गी से बचने के लिए ये सब खत्म करना पड़ेगा लेकिन राखी और धर्मेंद्र ने ये भी तय किया कि दोनों रिश्ते को कहीं भले न पहुंचा सके हों, फिर भी एक-दूसरे के टच में हमेशा रहेंगे. अब बेहद सतर्कता और इंतिहाई गुपचुप तरीके से एक-दूसरे के संपर्क में रहे लेकिन इस लुका-छिपी के खेल में मुलाकातें और बातें बहुत कम होने लगीं.

पहले पति से दूरी, दूसरी शादी और रिश्ते में दरार!
राखी को वक्त के साथ ऐसा लगने लगा कि धर्मेंद्र उससे दूरी बढ़ाते जाने की कोशिश में था. राखी ने भी इस दरकते रिश्ते को ज़्यादा तवज्जो न देते हुए नयी शुरुआत करने का मन बनाया. अब राखी के जीवन में मनीष आया. उसके घर वालों को मनीष पसंद भी था और यह तैयारी भी चल रही थी कि मनीष और राखी की शादी करवा दी जाए. इधर, धर्मेंद्र के साथ राखी का रिश्ता नाम मात्र का रह गया था इसलिए राखी ने भी हामी भर दी और साल 2016 में मनीष के साथ जश्न के साथ शादी कर ली.

बीवी की हत्या, प्रेमिका की हत्या, गोरखपुर हत्याकांड, उत्तर प्रदेश समाचार, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
राखी उर्फ राजेश्वरी और आरोपी धर्मेंद्र उर्फ डॉक्टर डीपी सिंह.


नये रिश्ते बन जाने से पुराने नहीं छूटते इसलिए धर्मेंद्र बराबर राखी की ज़िंदगी में बना रहा. अब राखी ने धर्मेंद्र से मतलब निकालना शुरू किया. चूंकि धर्मेंद्र ज़्यादा वक्त नहीं दे पाता था इसलिए उसने राखी को कीमती तोहफे देने का तरीका बनाया था. यही तरीका राखी को दूसरे रास्ते पर ले गया. अब राखी खुद उससे रकम मांगने लगी और ख्वाहिश ज़ाहिर करने लगी कि शाहपुर वाला मकान धर्मेंद्र उसके नाम कर दे.

READ: ब्लैकमेलिंग से तंग डॉक्टर ने करवाई हत्या

प्यार की आड़ में चतुराई का खेल शुरू हो गया. कभी अपने हुस्न तो कभी उषा तक इस रिश्ते की बात पहुंच जाने का डर दिखाकर राखी अक्सर यही कहने लगी कि वह मकान उसे चाहिए. धर्मेंद्र को समझते देर नहीं लगी कि राखी के मन में क्या चल रहा था. उषा तक बात पहुंचती कि धर्मेंद्र का राखी से रिश्ता अब भी जारी था तो धर्मेंद्र को बहुत दिक्कत हो सकती थी. राखी की हरकतें बढ़ती ही जा रही थीं और वह एक तरह से धर्मेंद्र को इमोशनली ब्लैकमेल करने लगी थी.

धर्मेंद्र को एहसास होने लगा था कि वह एक खोखले रिश्ते के दलदल में खुद को बेवजह फंसाने लगा है. वह आज़ाद होना चाहता था लेकिन बात इस कदर बढ़ चुकी थी कि अगर वह राखी से अलग होता तो इस बात का भरोसा उसे नहीं था कि खुद राखी इस रिश्ते का खुलासा उषा के सामने नहीं करेगी. बहुत सोचने के बाद धर्मेंद्र इस नतीजे पर पहुंचा कि उसकी हर मुसीबत की जड़ राखी थी और उसको रास्ते से हटाना ज़रूरी था.

कत्ल की एक के बाद एक साज़िश और फिर...
धर्मेंद्र ने राखी के कत्ल की योजना बनाई. उसे एक रोड एक्सीडेंट में अपनी गाड़ी से मारने की कोशिश की लेकिन ये चाल नहीं चली. फिर उसने कई बार कोशिश की लेकिन उसकी चाल नाकाम हो गई. इधर, राखी को इस बात की भनक नहीं लगी कि धर्मेंद्र ऐसी चालें चल रहा था. वह अपने पति मनीष के साथ एक खुशहाल ज़िंदगी जी रही थी और गुपचुप ढंग से धर्मेंद्र से पूरा फायदा लेने में लगी थी.

इसी दरम्यान, इसी साल जून में मनीष के साथ नेपाल घूमने गई. तभी उसकी बात फोन पर धर्मेंद्र से हुई और धर्मेंद्र ने उससे नेपाल में ही मुलाकात फिक्स की. धर्मेंद्र का इरादा हत्या का था और राखी कुछ सेक्स और कुछ ब्लैकमेलिंग का इरादा किए बैठी थी. राखी ने मनीष को किसी बहाने से वापस भेज दिया और खुद कुछ दिन नेपाल में ही रुक गई. मनीष के जाने के बाद राखी ने धर्मेंद्र से मुलाकात की.


धर्मेंद्र अपने दो साथियों प्रमोद और देशदीपक के साथ राखी से मिलने पहुंचा. सबने मिलकर पार्टी की. इसी दौरान चालबाज़ी से धर्मेंद्र और उसके साथियों ने राखी को नशे की दवा मिला ड्रिंक पिला दिया. राखी अपने पूरे होश में नहीं थी, तभी धर्मेंद्र और दोनों साथी राखी को ड्राइव पर लेकर गए.

राखी : कहां ले जा रहे हो धर्मेंद्र? मुझे होटल जाना है. प्लीज़ मुझे होटल के रूम में ले चलो.
धर्मेंद्र : होटल भी चलेंगे डार्लिंग. एक बड़ी खूबसूरत जगह है, वहां तुम्हारे साथ तस्वीरें खिंचवाने का मन है. बस ज़रा देर में होटल चलेंगे.
राखी : ओके धर्मेंद्र. तुम्हें पता है ना 'आई लव यू...'

पोखरा में एक खतरनाक पहाड़ी के पास गाड़ी रोकने के बाद धर्मेंद्र और उसके साथी राखी को पहाड़ी के छोर तक लेकर गए और फिर राखी को धक्का दे दिया. एक चीख खाई में गूंजी और एक सेकंड में ही बंद हो गई. धर्मेंद्र और उसके दोनों साथियों ने चारों तरफ देखा और इससे पहले कि वहां कोई आता, सब वहां से गायब हो गए.

बीवी की हत्या, प्रेमिका की हत्या, गोरखपुर हत्याकांड, उत्तर प्रदेश समाचार, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

इतना ही नहीं, धर्मेंद्र ने हत्या से पहले राखी का फोन अपने कब्ज़े में ले लिया था. धर्मेंद्र ने इस फोन को गुवाहाटी भिजवाया. गुवाहाटी में अपने एक और साथी की उसने इस फोन से जुड़ा एक और प्लैन समझाया. गुवाहाटी से राखी के फोन से लगातार सोशल मीडिया पर कमेंट और फोटो अपलोड किए जाते रहे. इधर, कुछ दिनों बाद गोरखपुर में राखी के भाई ने राखी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई और मनीष को शक के दायरे में रखा.

पुलिस को राखी के फोन की लोकेशन गुवाहाटी मिल रही थी. एसटीएफ ने कई महीनों की छानबीन में शुरुआत में मनीष को शक के दायरे में लेकर कई बार पूछताछ की लेकिन फिर सुई धर्मेंद्र की तरफ घूमी. धर्मेंद्र के कॉल रिकॉर्ड्स से पता चला कि जब राखी नेपाल में थी, वह भी वहीं था. करीब छह महीने की तफ्तीश के बाद धर्मेंद्र को पकड़कर सख़्ती से पूछताछ की गई तो उसने राखी का कत्ल करने और कत्ल को छुपाने के लिए राखी के फोन से लगातार सोशल मीडिया पर सक्रियता रखने की पूरी कहानी बयान कर दी.

(सच्ची घटनाओं पर आधारित लव सेक्स और धोखे की इस कहानी में किरदारों के नाम वास्तविक हैं.)

अपराध की और कहानियों के लिए क्लिक करें

हत्या की साज़िशों से बचने के बाद उसने कहा 'मैं अब भी अपनी बीवी को चाहता हूं'
LUST Story : मां ने बेटे के मोबाइल पर इंस्टॉल किया वो APP, जिससे टीचर हुई एक्सपोज़
पति का बॉयफ्रेंड, बीवी का इंश्योरेंस, एक कत्ल और गवाह था मोबाइल फोन!

PHOTO GALLERY : मीडिया के लिए सबसे खतरनाक देशों की लिस्ट में भारत

Tags: Extra Marital Affair, Gorakhpur news, Love Sex aur Dhokha, Murder, Nepal, Relationship, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर