नैनीताल की साज़िश फेल हो गई थी, करवाचौथ की शाम G-Talk पर प्रेमिका ने बताई हत्या की ट्रिक

LoveSexaurDhokha: गर्भवती प्रेमिका के संग मिलकर वह नैनीताल में पत्नी के कत्ल की साज़िश रच चुका था लेकिन उसे अंजाम नहीं दे सका. प्रेमिका ने ताने दिए और भड़काया तो उसने पत्नी को गुरुग्राम के फ्लैट की बालकनी से फेंक दिया.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: November 14, 2018, 8:40 PM IST
नैनीताल की साज़िश फेल हो गई थी, करवाचौथ की शाम G-Talk पर प्रेमिका ने बताई हत्या की ट्रिक
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: November 14, 2018, 8:40 PM IST
'यू लूज़र.. एक सिंपल सी साज़िश को अंजाम देते नहीं बना तुमसे..'
'अरे यार, उसे एक्रोफोबिया है, मैं क्या करता..?'
'मुझे कुछ नहीं सुनना. पूरा प्लैन होने के बावजूद तुम.. मुझे तो शक होता है तुम्हारी मर्दानगी पर...' विक्रम कत्ल करने में नाकाम रहा तो शेफाली ने उसे खरी-खोटी सुनाई. प्लैन फेल हो रहा था क्योंकि इस बात को दरकिनार कर दिया गया था कि दीपिका पहाड़ी के किनारे तक नहीं जाएगी, भले ही दीपिका को अपनी हत्या के प्लैन की कोई भनक नहीं थी.



READ : हनीमून पर किडनैपिंग से ठीक पहले खुल गया था पति का राज़

हरियाणा के गुरुग्राम में रहने वाला विक्रम एक छोटी सी छुट्टी मनाने की बात कहकर बीते 24 अक्टूबर को अपनी बीवी दीपिका को नैनीताल लेकर गया. जब पिकनिक के मूड में नैनीताल की एक पहाड़ी के पास दोनों पहुंचे तो दीपिका को घबराहट होने लगी और उसने कसकर विक्रम को पकड़ लिया और वापस चलने को कहा लेकिन विक्रम पहाड़ी के छोर तक जाने लगा.

दीपिका : प्लीज़ विक्रम, यहां से चलो, मुझे बहुत अजीब लग रहा है.
विक्रम : क्या हुआ डार्लिंग? देखो कितना खूबसूरत नज़ारा है, आओ ज़रा उस छोर तक चलते हैं.
Loading...

दीपिका : नहीं विक्रम, मुझे बहुत डर लग रहा है और मैं यहां और नहीं रुक सकती. प्लीज़ चलो यहां से.

दीपिका ने मजबूर किया और विक्रम को वहां से लौटना पड़ा क्योंकि दीपिका एक्रोफोबिया की मरीज़ थी यानी उसे ऊंचाई से बेहद डर लगता था. जब यह बात दीपिका ने बताई तो मन ही मन विक्रम को बेहद अफ़सोस हुआ कि उसे इस बात की थोड़ी जानकारी तो थी लेकिन दीपिका को पहाड़ी से धक्का देकर मार डालने की साज़िश बनाते वक्त उसे यह खयाल ही नहीं आया. बेकार हो गया नैनीताल आना. फिर विक्रम ने यह बात शेफाली को बताई तो वह भड़क गई और उसने विक्रम को झिड़क दिया.

love sex dhokha, illicit relationship, gurugram murder case, husband killed wife, murder in affair, गुरुग्राम हत्याकांड, पत्नी की हत्या, पति ने की हत्या, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story

विक्रम अपनी बीवी को मारना क्यों चाहता था? विक्रम और शेफाली के बीच क्या संबंध था और कैसे? तो कहानी की शुरुआत हुई थी करीब तीन साल पहले जब 2015 में शेफाली और उसके पति ने गुरुग्राम स्थित अंसल वैली व्यू सोसायटी में बना अपना एक फ्लैट विक्रम को बेचा था. उस फ्लैट में विक्रम अपने परिवार के साथ रहने आया और शेफाली का पड़ोसी हो गया. बच्चों को खेलकूद के लिए लाने ले जाने के बहाने उस सोसायटी में ही शेफाली और विक्रम की मुलाकातें होने लगीं.

ऐसे शुरू हुआ था Extra Marital Affair
इन मुलाकातों के कारण दोनों के बीच आकर्षण शुरू हुआ और फिर फ्लर्टिंग भी. शेफाली एक फ्रीलांस पत्रकार और लेखक थी और विक्रम एक इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी में अच्छी पोस्ट पर काम करता था. दोनों एक दूसरे की बातों और व्यक्तित्व से एक दूसरे की तरफ खिंचे और अक्टूबर 2017 तक दोनों के बीच प्यार का अच्छा खासा रिश्ता बन गया. दोनों अकेले में मिलने जुलने लगे. दोनों के जीवनसाथियों को इस बात की कोई भनक तक नहीं थी कि दोनों के बीच शारीरिक और भावनात्मक संबंध किस हद तक बन चुके थे.

विक्रम और शेफाली चुपके से चैटिंग करते. अपनी अंतरंग तस्वीरों को एक खास कॉमन ईमेल अकाउंट पर शेयर करते और अपने खास पलों को लेकर छेड़छाड़ भरी बातचीत करते. सोशल मीडिया पर कई तरह की बातों और शेयरिंग का दौर जारी था. इसी बीच, दोनों ने एक रोमेंटिक छुट्टी प्लैन की और अपने घरों पर झूठ बोलकर विक्रम और शेफाली लेह और लद्दाख घूमने चले गए. यह एक तरह से दोनों प्रेमियों का हनीमून था.

यहां विक्रम और शेफाली खुद को पति पत्नी बताकर होटलों में रुके और तकरीबन एक हफ्ता रोमांस करते हुए बिताया. इस हनीमूननुमा छुट्टी में दोनों ने अपने रिश्ते के भविष्य के बारे में बहुत कुछ सोचा और बातचीत की.

शेफाली : मैं तो नहीं रह सकती अब, क्या तुम रह सकते हो मेरे बगैर?
विक्रम : मेरी हालत भी तुम्हारे ही जैसी है जानेमन.
शेफाली : फिर कब तक ऐसे छुपकर और कभी-कभी मिलते रहेंगे हम? मुझे पूरी तरह तुम्हारी होकर हमेशा तुम्हारे साथ रहना है. तुम क्या कहते हो?
विक्रम : चाहता तो मैं भी यही हूं लेकिन यह मुमकिन कैसे होगा.
शेफाली : एक ही रास्ता है. मैं अपने हसबैंड से तलाक लेती हूं और तुम अपनी बीवी से लो. फिर हम दोनों शादी कर लेंगे और खुलकर एक दूसरे के हो जाएंगे.

शेफाली की इस बात से विक्रम राज़ी हुआ और छुट्टियों से लौटने के बाद मौका देखकर दोनों को अपने घरों पर इस बारे में बात करना थी. शेफाली ने अपने पति के सामने बेबाकी से विक्रम के साथ अफेयर को कबूल किया और तलाक लेने की बात कही. उसका पति कुछ बिगड़ने के बाद तलाक के लिए राज़ी हो गया. लेकिन, इधर जब विक्रम ने दीपिका से तलाक लेने की बात की तो दीपिका ने इनकार कर दिया. तलाक की वजह के तौर पर विक्रम उसे कनविंस नहीं कर सका क्योंकि उसने शेफाली के साथ रिश्ते का खुलासा नहीं किया.

जब काम नहीं आई तलाक की तरकीब तो...
शेफाली अपने पति से तलाक लेने के लिए पूरी तरह तैयार थी लेकिन विक्रम इस तैयारी में फेल हो रहा था. शेफाली ने उसे उकसाया और हर तरह की कोशिश के बावजूद दीपिका को तलाक के लिए जब विक्रम मना नहीं सका तब शेफाली ने तैश में आकर कहा - 'तलाक नहीं हो सकता, तो मार डालो उसे... कुछ भी करो, पीछा छुड़ाओ उससे..' यह बात एक झटके में उछली ज़रूर लेकिन खत्म नहीं हुई. शेफाली ने विक्रम को सचमुच दीपिका का कत्ल करने के लिए उकसाया.

दोनों ने साज़िश रची और उसे पिकनिक के बहाने किसी पहाड़ी से धक्का देकर मार डालने की साज़िश रच ली गई. लेकिन नैनीताल के लिए रवाना होने से पहले योजना पर फाइनल बात करने के लिए विक्रम और शेफाली मिले.

शेफाली : सब क्लियर है ना विकी? घबराना नहीं क्योंकि पहाड़ी से गिरकर कई एक्सीडेंट होते हैं इसलिए किसी को कुछ पता नहीं चलेगा और कुछ साबित नहीं हो पाएगा, समझे?
विक्रम : हां, वो सब तो ठीक है लेकिन वो राज़ की बात तो बता दो. ये किसका है? विक्रम ने शेफाली के पेट पर हाथ रखकर मुस्कुराकर पूछा जो उस वक्त करीब पांच महीने की गर्भवती थी. शेफाली भी मुस्कुराई.
शेफाली : नहीं बताऊंगी. तुम ही गेस कर लो.
विक्रम : यार बता दो, कब तक इस कश्मकश में रखोगी? अच्छा, यही बता दो कि तुम अपने मियां के साथ आखिरी बार कब...
शेफाली : विकी प्लीज़... अब जाओ और प्लैन पर फोकस करो. जब तक हम एक दूसरे के नहीं हो जाते, वैसे भी ये सब बातें बेमानी हैं. तुम समझ रहे हो ना?

फिर विक्रम नैनीताल गया लेकिन वहां दीपिका को पहाड़ी के किनारे तक ले जाने में नाकाम रहा. साज़िश नाकाम होने के चलते शेफाली ने विक्रम को कई किस्म के ताने दिए और उसकी मर्दानगी को आड़े हाथों लिया तो विक्रम ने एक और साज़िश रचने की बात कही और दोनों दीपिका को इस तरह रास्ते से हटाने के बारे में फिर सोचने लगे कि वो शक के दायरे में न आएं.

बीते 26 अक्टूबर को विक्रम और दीपिका नैनीताल से लौटकर गुरुग्राम आए क्योंकि अगले दिन 27 अक्टूबर को करवा चौथ का त्योहार था. विक्रम की लंबी उम्र के लिए दीपिका कामना कर रही थी और उसे पता नहीं था कि वही उसकी ज़िंदगी का आखिरी दिन होने वाला था. घर का काम करते हुए दीपिका को विक्रम के पर्स से मूवी के दो टिकट मिले और दीपिका को शक हो गया. उसने विक्रम से बातचीत की तो पूरा खुलासा हो गया कि विक्रम और शेफाली का रिश्ता किस कदर बढ़ चुका था.

और करवाचौथ की रात पत्नी का कत्ल
'तो इसलिए तलाक चाहते थे तुम...' दीपिका को सब कुछ समझ में आ चुका था और वह विक्रम की बेशर्मी को बर्दाश्त नहीं कर पाई तो उस पर झपटी और दोनों के बीच जमकर हाथापाई हुई. मारपीट के बाद दोनों अलग अलग कमरों में थे लेकिन दीपिका पागलों की तरह चीख रही थी. दीपिका की चीखों के बीच तैश में आ चुके विक्रम ने उस शाम शेफाली को गूगल टॉक मैसेज किया - 'जमकर लड़ने के बाद ये पागलों की तरह चीख रही है.' जीटॉक पर हुई विक्रम पर शेफाली की बातचीत ने एक तरह से कत्ल की भूमिका तैयार की. (देखें चैटिंग इलस्ट्रेशन)

love sex dhokha, illicit relationship, gurugram murder case, husband killed wife, murder in affair, गुरुग्राम हत्याकांड, पत्नी की हत्या, पति ने की हत्या, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story

रात करीब साढ़े नौ बजे तक विक्रम और दीपिका के बीच कई बार झगड़ा हुआ और चीख पुकार मची रही. हाथापाई करते हुए जब दीपिका बालकनी की तरफ पहुंच गई तब विक्रम ने उसे 8वीं मंज़िल की अपनी बालकनी से दीपिका को धक्का देकर नीचे फेंक दिया. इसके बाद उसने शेफाली से फोन पर बातचीत की और विक्रम ने सबूत मिटाने की कोशिश भी की. कुछ देर बाद, पुलिस उस सोसायटी में पहुंची और विक्रम ने रोते हुए बयान दिया कि दीपिका ने खुदकुशी कर ली. पुलिस ने तफ्तीश जारी रखी और अगली सुबह विक्रम हिरासत में था.

love sex dhokha, illicit relationship, gurugram murder case, husband killed wife, murder in affair, गुरुग्राम हत्याकांड, पत्नी की हत्या, पति ने की हत्या, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story

विक्रम से पूछताछ जारी रही लेकिन 32 वर्षीय दीपिका के कत्ल का इल्ज़ाम कबूल करने और कत्ल की वजह बताने में विक्रम ने पुलिस का साथ नहीं दिया. पुलिस को टेक्निकल एक्सपर्ट्स की मदद से पूरी कहानी समझने और फिर ईमेल, चैट्स वगैरह के आधार पर 35 वर्षीय विक्रम से कबूलिया बयान लेने में दो हफ्तों से ज़्यादा का वक्त लगा. जब कहानी खुल गई तो पुलिस ने बैंक अफसर दीपिका की हत्या की साज़िश रचने और सबूत मिटाने के इल्ज़ाम में 35 वर्षीय शेफाली को हाल में गिरफ्तार कर लिया.

(लव सेक्स और धोखे की इस कहानी में घटनाएं एवं किरदार वास्तविक हैं और उनके नाम भी.)

ये भी पढ़ें

एक इंच की SIM न होती, तो क्या कातिलों तक पहुंच पाती पुलिस?
स्कूल फ्रेंड ने WhatsApp पर सोनोग्राम भेजकर लिखा 'तुम्हारी वजह से प्रेगनेंट हूं'
फर्ज़ी थी 'लव जेहाद' की कहानी, कत्ल की वजह थी 'नाजायज़ संबंधों' की उलझन

PHOTO GALLERY : प्राइवेट पार्ट काटकर फुटबॉलर के कत्ल की वजह क्या थी?
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...