लाइव टीवी

#LoveSexaurDhokha: जॉब पर नहीं जाती थी बीवी, लेकिन सैलरी बराबर आती थी

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 8:20 AM IST
#LoveSexaurDhokha: जॉब पर नहीं जाती थी बीवी, लेकिन सैलरी बराबर आती थी
सांकेतिक चित्र

दोनों के बीच मोहब्बत हुई फिर लव मैरिज. लव मैरिज कुछ साल प्यार से लबरेज़ रही लेकिन सोशल मीडिया ने बीवी को एक आशिक से मिलवाया और फिर इस बीवी ने प्यार की कहानी में धोखे का प्लॉट लिखा. जासूस के अनुभवों पर विशेष सीरीज़ ‘लव सेक्स और धोखा’.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2018, 8:20 AM IST
  • Share this:
एक जासूस सिर्फ अपराध की तहकीकात ही नहीं करता, बल्कि वह इंसानी मन और ज़िंदगी की परतों को भी टटोलता है. अपने पेशे में एक जासूस सामान्य दिखने वाले लोगों और रिश्तों के उन रहस्यों का पर्दाफाश करता है जो किसी जुर्म को बुन रहे होते हैं. hindi.news18.com की इस विशेष सीरीज़ में एक जासूस की ज़बानी रिश्तों में जुर्म की कहानी.

'प्यार अंधा होता है लेकिन शादी आंखें खोल देती है', एक हास्य कवि की ये पंक्तियां इस कहानी की किसी परत में नज़र आएंगी. एक लड़का एक लड़की को दीवानों की तरह चाहता था और लड़की भी उसे प्यार करती थी. फिर दोनों ने शादी कर ली और शादी के कुछ साल बाद जब लड़के को पता चला कि उसकी माशूका रही बीवी किसी और से शादी करने की फिराक में है तो प्यार से उसका भरोसा उठना ही जायज़ था.

#LoveSexaurDhokha: खुलता चला गया एक के बाद एक अफेयर

यह कहानी तब शुरू हुई थी जब दिल्ली के रहने वाले रियाज़ को ज़ारा से मोहब्बत हो गई थी. रियाज़ ने ज़ारा से मोहब्बत का इज़हार किया और आग दोनों तरफ थी बराबर लगी हुई इसलिए ज़ारा ने भी हां कर दी थी. दोनों लगातार मिलने लगे और एक दूसरे के प्यार में बहते चले गए. इस तरह मिलना और फिर बिछड़ जाना दोनों को नागवार गुज़रता था और दोनों परिवारों में जान पहचान थी तो बात शादी तक ले जाने में कोई अड़चन थी भी नहीं.

#LoveSexaurDhokha: वो जोधपुर में थी तो फोन कन्नड़ में क्यों कह रहा था आउट आॅफ कवरेज?

'प्यार को प्यार ही रहने दो, कोई नाम न दो', यह गीत तो दोनों ने सुना था लेकिन उन्हें इस प्यार को एक रिश्ते में बांधकर इसे शादी का नाम देना मंज़ूर था. कुछ ही दिनों में बात पक्की हो गई और रियाज़ व ज़ारा की शादी हो गई. रियाज़ की ज़िंदगी की खुशी और मकसद बन चुकी थी ज़ारा. वह ज़ारा के लिए दीवाना था और उसकी हर ख्वाहिश पूरी करना चाहता था. ज़ारा जो कहती, रियाज़ खुशी से मान लेता और इसी तरह ज़िंदगी चल रही थी.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship, दिल्ली, Delhi
Loading...

दिल्ली के संभ्रांत मुस्लिम परिवारों से ताल्लुक रखने वाले रियाज़ और ज़ारा की शादी में कुछ साल बाद एक मोड़ आने वाला था लेकिन दोनों ही इस बात से बेखबर थे. रियाज़ अपने दफ्तर जाता और शाम को घर लौटता. पूरे दिन ज़ारा घर के कुछ कामों के बाद या तो टीवी देखा करती या सोशल मीडिया पर सक्रिय रहती लेकिन एक वक्त के बाद वह बोर हो ही जाती. शाम को रियाज़ के लौटने के बाद दोनों सिनेमा, शॉपिंग वगैरह करने तो जाते लेकिन दिन भर की बोरियत के लिए कोई उपाय खोजना था.

एक दिन ज़ारा ने अपनी यही उलझन बताते हुए रियाज़ से कहा कि वह अच्छी-खासी पढ़ी-लिखी है तो वह जॉब भी कर सकती है. चार पैसे तो आएंगे ही लेकिन उसका मकसद यही है कि वह दिन भर किसी काम में बिज़ी रहेगी तो कम से कम बोरियत से तो बच जाएगी. रियाज़ ने सोचा और घर की कुछ बातें तय करने के बाद खुशी से इस बात के लिए हामी भर दी. अब दोनों सुबह अपने अपने आॅफिस निकल जाते और शाम को ही मिलते.

एक महीने बाद ज़ारा को सैलरी मिली और उसने रियाज़ को बताया तो दोनों ने सेलिब्रेट किया. अब यही सिलसिला चल रहा था और ज़ारा को जॉब करते हुए कुछ वक्त हो गया था तभी एक रोज़ रियाज़ की नज़र ज़ारा के मोबाइल फोन पर अचानक पड़ी. उसने कुछ मैसेज पढ़े जो ज़ारा पर शक करने के लिए बहुत जायज़ इशारे थे लेकिन रियाज़ ने उन्हें इग्नोर कर दिया क्योंकि उसे भरोसा था कि ज़ारा और उसकी लव मैरिज हुई है और दोनों एक दूसरे को टूटकर चाहते हैं.


रियाज़ कतई तैयार नहीं था यह मानने के लिए कि ज़ारा उसके साथ कोई फरेब कर सकती है या बेवफ़ा हो सकती है. रियाज़ का यह भरोसा इतना पक्का था कि उसने इस बारे में ज़ारा से कोई बात करना भी ठीक नहीं समझा. इधर, ज़ारा के बर्ताव में उसे कोई तब्दीली भी नहीं दिख रही थी. दोनों के बीच उसी तरह रिश्ता कायम था और दोनों उसी तरह एक दूसरे के साथ खुश थे. कुछ दिन इन तमाम बातों पर गौर करने के बाद वह उन मैसेज के बारे में करीबन भूल चुका था.

फिर एक दिन जब ज़ारा बाथरूम में थी तब रियाज़ की नज़र ज़ारा के एक सोशल मीडिया अकाउंट पर पड़ी और उसने कुछ कमेंट्स पढ़े. अचानक रियाज़ को खयाल आया कि ये कमेंट करने वाला और उस दिन मोबाइल पर मैसेज करने वाला कोई एक ही आदमी है. अब रियाज़ की परेशानी बढ़ने लगी थी और उसे यह समझ ही नहीं आ रहा था कि वह ज़ारा से इस बारे में किस तरह बात करे. इधर, ज़ारा पूरी तरह अनजान थी कि रियाज़ के मन में क्या चल रहा है.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship, दिल्ली, Delhi

इसी कश्मकश में रियाज़ ने महसूस किया कि ज़ारा का बर्ताव तो वैसा ही है लेकिन वह ज़्यादा डिमांडिंग हो गई है. एक दिन बातचीत में ज़ारा ने कहा -

ज़ारा : अच्छा ये बताओ कि मुझे बर्थडे पर क्या तोहफ़ा देने वाले हो?
रियाज़ : अभी सोचा तो नहीं, लेकिन क्या चाहिए जानेमन?
ज़ारा : पिछली साल तो नेकलेस दिया था आपने, इस बार उससे भी ज़्यादा कीमती कुछ.
रियाज़ : अपनी जान दे दूं अगर ज़्यादा कीमती हो तो?
ज़ारा : नहीं, नहीं, ये तो सबसे कीमती है, किसी खास मौके पर ले लूंगी... (ठहाका लगाकर) अच्छा मज़ाक छोड़ो, बताओ ना क्या दोगे?
रियाज़ : आप ही बता दो, जो चाहोगी दे दूंगा.
ज़ारा : प्रॉमिस?
रियाज़ : हां जी, प्रॉमिस.
ज़ारा : अच्छा. मैं सोच रही थी कि कोई फ्लैट गिफ्ट कर दो मुझे या यही वाला मेरे नाम कर दो.
रियाज़ : क्यों? मतलब ये आपका ही तो है, नाम हो न हो क्या फर्क पड़ता है? और नया फ्लैट फौरन तो मुमकिन नहीं है लेकिन मैं सोचूंगा इस बारे में.

उस वक्त तो किसी तरह रियाज़ ने इस बात को टाल दिया लेकिन उसे हैरानी थी कि इस तरह की डिमांड ज़ारा ने रखी ही क्यों? रियाज़ को यही लगता था कि उसने दीवानों की तरह ज़ारा को चाहा और उसकी हर मांग पूरी की है लेकिन फिर भी ज़ारा को हमेशा बहुत कुछ और चाहिए होता है. इस असमंजस में कुछ और दिन गुज़रने के बाद रियाज़ ने तय किया कि उसे सच का पता लगाना ही चाहिए और यह तय करने के बाद रियाज़ ने हमें एप्रोच किया.

रियाज़ ने कहा - 'मुझे लगता है कि यह सब ज़ारा नहीं कर रही है. उसके दिमाग में ये बातें कोई डाल रहा है. वह किसी और के इशारों पर चल रही है, किसी और की ज़बान बोल रही है.' हमने रियाज़ के चाहने पर अगले ही दिन से ज़ारा को फॉलो करने का फैसला किया. अगली सुबह 9 बजे ज़ारा घर से निकलकर अपनी कार से आॅफिस जाने लगी और वहीं से हमारी टीम ने उसे फॉलो करना शुरू किया. कुछ ही दूर जाकर ज़ारा एक दुकान पर रुकी और उसने सिगरेट खरीदी.

अब वह सिगरेट पीते हुए कार चला रही थी. हमने यह देखा तो रियाज़ से इस बारे में पूछा लेकिन उसे नहीं पता था कि ज़ारा सिगरेट पीती है. बल्कि रियाज़ का कहना था कि मुस्लिम परिवार में तो लड़के तक सिगरेट पिएं तो गलत माना जाता है. बहरहाल, ज़ारा के सिगरेट पीते हुए फोटो और वीडियो बनाए गए. फिर तकरीबन एक घंटे बाद ज़ारा की कार साउथ दिल्ली की एक सोसायटी में दाखिल हुई और वह अंदर किसी घर में चली गई.


इस सोसायटी में अजनबियों को एंट्री न होने के कारण हमारी टीम अंदर नहीं जा सकी लेकिन जब सिक्योरिटी और आसपास के लोगों से पूछताछ की गई तो यह पता चल गया कि इस सोसायटी में कोई आॅफिस नहीं था. हमारी टीम इस सोसायटी के बाहर रुककर ज़ारा का इंतज़ार कर रही थी और शाम को ज़ारा वापस निकली और फिर घर चली गई. अब सवाल यह था कि ज़ारा इस सोसायटी में किससे मिलने आई थी और दिन भर यहां कर रही थी?

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship, दिल्ली, Delhi

इस पते पर किसी रिश्तेदार या ज़ारा के दोस्त के रहने के बारे में भी रियाज़ को कुछ मालूम नहीं था. हमने फॉलो जारी रखा और करीब एक हफ्ते तक यही होता कि ज़ारा इस सोसायटी में एक मकान में चली जाती और शाम को लौटती. रोज़ यही देखने के बाद हमारी टीम ने इस सोसायटी में एक फ्लैट किराये पर लिया ताकि सोसायटी के अंदर जाकर ज़ारा पर नज़र रखी जा सके. ऐसा करने से यह पता चल गया कि ज़ारा किस फ्लैट में जाती है और यह भी पक्का हो गया कि वह शाम तक यहीं रहती है.

अब फ्लैट के अंदर क्या होता है, यह जानना था. इसके लिए जब किसी आॅप्शन के कारगर होने की बात समझ नहीं आई तो हमारी टीम ने उस फ्लैट में रहने वाला एक लड़के से दोस्ती गांठी. कुछ ही दिनों में उस लड़के के साथ पास के ही फ्लैट में रहने वाली हमारी टीम के एक इनवेस्टिगेटर से अच्छी दोस्ती हो गई. ऐसा करने में कुछ दिनों का वक्त लगा लेकिन अब वह दिन आ गया जब हमारे इनवेस्टिगेटर ने उस लड़के यानी अमजद को एक पार्टी के लिए बुलाया.

हमारी टीम ने एक 5 स्टार होटल में पार्टी फिक्स की और अमजद को वहीं बुलाया. प्लैन यह था कि उसे शराब पिलाकर सच जानने की कोशिश की जाए. दोस्ती और नशे के माहौल में उससे हम ज़ारा के बारे में जानना चाहते थे. लेकिन, शायद सब्र और मेहनत का फल मीठा होता है इसलिए अमजद उस पार्टी में अकेला नहीं बल्कि ज़ारा के साथ आया. यह तो हमने सोचा ही नहीं था लेकिन इससे अच्छा और क्या हो सकता था.

हमारे और इनवेस्टिगेटर आसपास ही बैठे इस मुलाकात के वीडियो और तस्वीरें बना रहे थे. अमजद और ज़ारा इस पार्टी में शामिल हुए और फिर कुछ ड्रिंक्स का दौर चला. इसके बाद दोनों खुलकर बात करने के मूड में आ गए थे. अब चालाकी से बात बढ़ाई गई और फिर एक सवाल के जवाब में ज़ारा ने अमजद के कंधे से सटते हुए मुस्कुराकर कहा - 'हम दोनों कुछ ही टाइम में शादी करने की सोच रहे हैं'!


ज़ारा के यह कहते ही कहानी दिलचस्प ही नहीं बल्कि हैरतअंगेज़ हो चुकी थी. यह पूरी बातचीत रिकॉर्ड की जा रही थी और पूरा सच जानने के लिए अमजद और ज़ारा से सवाल दर सवाल किए जा रहे थे लेकिन एहतियात के साथ, ताकि दोनों को कोई शक न हो. दोस्ताना माहौल में दोनों धीरे-धीरे सब कुछ बताते चले गए और ज़ारा की बेवफ़ाई की कहानी कुछ इस तरह सामने आई.

ऐसा नहीं था कि ज़ारा ने रियाज़ को धोखा देकर शादी की थी बल्कि वह भी उसे चाहती थी और शादी के कुछ साल तक रियाज़ ही ज़ारा के लिए सब कुछ था. फिर एक दिन सोशल मीडिया के ज़रिये ज़ारा की पहचान अमजद से हुई. अमजद बहुत रईस लड़का था, बड़ा बिज़नेस था और दिखने में भी वह हैंडसम था. अमजद ने फ्लर्ट करना शुरू किया और ज़ारा उसकी तरफ आकर्षित हो गई. रियाज़ जब अपने आॅफिस जाता तब ज़ारा कभी—कभी अमजद से मिलने जाती.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship, दिल्ली, Delhi

धीरे-धीरे दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे. अमजद की शानो-शौकत और प्यार देखकर ज़ारा को भी उससे प्यार होता चला गया. इसके बाद दोनों को लगातार साथ रहने की ज़रूरत महसूस होने लगी तो ज़ारा ने जॉब का बहाना बनाया और जॉब के बहाने ज़ारा रोज़ अमजद से मिलने जाने लगी. दूसरी तरफ जॉब कोई नाटक है, इस बात की भनक रियाज़ को न लगे, इसके लिए भी एक प्लैन था और अमजद चूंकि काफी रईस था इसलिए वह ज़ारा को हर महीने करीब 20 हज़ार रुपये देता जिसे ज़ारा अपनी सैलरी बताती.

यही सिलसिला चल रहा था और अमजद की शह पर ज़ारा चालाकी से रियाज़ की प्रॉपर्टी भी अपने नाम करवाना चाहती थी. लेकिन, ज़ारा के प्यार में दीवाना रियाज़ इस जाल में फंसने से बच गया था. ज़ारा उसे मनाने की लगातार कोशिश में थी, बस उसे यह पता नहीं चला कि रियाज़ जासूसी करवा रहा है और उसके सामने जल्द ही सच आने वाला है. धोखे के प्लॉट पर बुनी गई यह पूरी कहानी हमने वीडियो और तस्वीरों के साथ रियाज़ के सामने रख दी.

यह सब जानने के बाद रियाज़ की हालत बहुत खराब थी. प्यार, लव मैरिज और दीवानगी, कुछ भी उसके काम नहीं आया था और जिस पर वह जान छिड़कता रहा था, उसी के हाथों फरेब का शिकार रियाज़ सिवाय रोने और मायूस होने के कर भी क्या सकता था. खुशी की बात बस यही है कि रियाज़ की प्रॉपर्टी पर डाका नहीं पड़ सका और तलाक का केस फाइल करने के लिए उसके पास काफी सबूत थे. यह कहानी कुछ ही हफ्ते पहले की है, जिसमें इस ज़माने में भी दौलत और शानो-शौकत से मोहब्बत हार गई.

(यह कहानी दिल्ली बेस्ड प्राइवेट जासूस Rohit Malik- www.spydetectiveagency.com के करियर में आए एक केस पर आधारित है जिसके किरदार वास्तविक हैं, बस उनके नाम नहीं.)

ये भी पढ़ें

#LoveSexaurDhokha: पति को उस हालत में पकड़ा जहां सबूत की ज़रूरत नहीं होती
काले जादू के चक्कर में चेले ने अपने गुरु के पूरे परिवार का किया खात्मा
#LoveSexaurDhokha: बीवी कहती थी मुंबई गई है लेकिन रहती गुड़गांव में ही थी
वो बेकसूर था, पहली बार जेल गया था लेकिन पुराने कैदी उसे पहचानते थे!
#LoveSexaurDhokha: बच्चे ने जैसे ही बाप का नाम बताया, गुत्थी सुलझ गई

PHOTO GALLERY : वो अजनबी कह रहा था - 'तुम्हीं तो चाहती थीं कि मैं तुम्हारा रेप करूं!'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए LSD से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 11, 2018, 8:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...