#LoveSexaurDhokha: शादी का जाल बिछाने के लिए प्यार एक नाटक था

एक लड़की से मिलने के बाद लड़के को प्यार हो जाता है. वह शादी के लिए उतावला होता है लेकिन शादी से ऐन पहले उसे शक होता है कि हैसियत में बेहतर लड़की उससे शादी क्यों कर रही है? जासूस के अनुभवों पर विशेष सीरीज़ ‘लव सेक्स और धोखा’.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 7:49 AM IST
#LoveSexaurDhokha: शादी का जाल बिछाने के लिए प्यार एक नाटक था
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 12, 2018, 7:49 AM IST
एक जासूस सिर्फ अपराध की तहकीकात ही नहीं करता, बल्कि वह इंसानी मन और ज़िंदगी की परतों को भी टटोलता है. अपने पेशे में एक जासूस सामान्य दिखने वाले लोगों और रिश्तों के उन रहस्यों का पर्दाफाश करता है जो किसी जुर्म को बुन रहे होते हैं. hindi.news18.com की इस विशेष सीरीज़ में एक जासूस की ज़बानी रिश्तों में जुर्म की कहानी.

पहली मुलाकात में ही अरुण को लगा कि उसे निकी से प्यार हो गया. उसे यह भी महसूस हुआ कि निकी भी उसे चाहने लगी है. एक मैट्रिमोनियल विज्ञापन के ज़रिये दोनों मिले ही थे शादी करने के मकसद से और दोनों की मुलाकातें बेहद कामयाब रहीं लेकिन शादी से ऐन पहले अरुण के कान खड़े हुए और उसे शक हुआ. एक प्रेम प्रसंग तो बन चुका था लेकिन अरुण एक धोखेबाज़ के साथ शादी के रिश्ते में फंसने से बाल-बाल बचा.

#LoveSexaurDhokha: खुलता चला गया एक के बाद एक अफेयर

शादी के बाद मियां बीवी के बीच शक और धोखे की कहानी न लिखी जाए, इसके लिए प्री मैट्रिमोनियल इनवेस्टिगेशन देश के महानगरों में चलन में आ चुकी है और मैट्रिमोनियल जासूस इस काम को अंजाम देते हैं. शक पर आधारित ऐसे केसों की छानबीन कर सच का पता लगाकर लोगों को अक्सर किसी धोखे के तहत हो रही शादी से बचा लिये जाने में कामयाबी मिलती है. ऐसा ही एक केस था अरुण का.

#LoveSexaurDhokha: वो जोधपुर में थी तो फोन कन्नड़ में क्यों कह रहा था आउट आॅफ कवरेज?

दिल्ली में रहने वाला अरुण एक तरक्की करता हुआ प्रोफेशनल था और वह अब शादी करने का फैसला ले चुका था. एक दिन उसने जब एक न्यूज़पेपर में मैट्रिमोनियल एड देखा तो उसकी नज़र एक लड़की के प्रोफाइल पर पड़ी. यह प्रोफाइल उसे आकर्षक लगी क्योंकि एक तो लड़की पढ़ी लिखी और अपने पैरों पर मज़बूती से खड़ी एक बिज़नेसवूमन थी और फिर जाति यानी कास्ट की भी कोई समस्या नहीं थी. अरुण के भीतर भावनाएं उमड़ीं और उसे इस प्रोफाइल में अपनी जीवनसंगिनी की तस्वीर दिखने लगी.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

अरुण ने उस एड में दिए गए कॉंटेक्ट नंबर पर फोन लगाकर इस लड़की के साथ एक कैफेटेरिया में मुलाकात फिक्स की. तय वक्त पर दोनों मिले और अरुण को पता चला कि इस लड़की का नाम निकी था. निकी बेहद हंसमुख स्वभाव की, खूबसूरत और समझदार लड़की थी. ज़्यादा वक्त नहीं लगा अरुण को उसकी तरफ आकर्षित होने में. दूसरी तरफ अरुण के शांत और समझदारी भरे व्यक्तित्व को देखकर निकी भी उसकी तरफ आकर्षित हुई.

निकी : तो क्या लगता है? बात आगे बढ़ेगी?
अरुण : मुझे तो सब ठीक लग रहा है. आप बताइए.
निकी : आई थिंक सो बट.. एक मुलाकात में कुछ तय करना ठीक नहीं है. आपका क्या खयाल है?
अरुण : बेशक. हमें एक दूसरे को कुछ और जानने का वक्त देना चाहिए.

दोनों ने अगली मुलाकात फिक्स की और फिर मिले. इन मुलाकातों में दोनों ने एक दूसरे का बैकग्राउंड जाना. निकी की कहानी यह थी कि वह एक छोटे से कस्बे में एक मध्यम वर्गीय परिवार में पली बढ़ी थी और उसका परिवार अब भी वहीं रहता था. वह अपनी पढ़ाई और फिर करियर बनाने के लिए दिल्ली आई थी. पढ़ाई में अव्वल रहने के बाद उसने अपना करियर शुरू किया और कुछ ही सालों में वह अच्छी खासी बिज़नेसवूमन के तौर पर कामयाब है.

अरुण भी एक मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखता था और वह दिल्ली का ही रहने वाला था. उसकी ज़िंदगी एक सामान्य लड़के की तरह ही थी. अगली कुछ मुलाकातों में अरुण और निकी के बीच प्यार हो गया था और अरुण शादी के लिए एक तरह से उतावला होने लगा था. लेकिन इस प्यार की सच्चाई कुछ और थी. फिर एक दो और मुलाकातों के दौरान निकी ने कुछ फोन कॉल्स अटैंड किए और वह किसी बड़े होटल में कोई मीटिंग होने की बात कहकर चली गई.

निकी की बड़ी कार, उसका आॅफिस और उसकी सोहबत का अंदाज़ा मिल जाने के बाद अरुण को एक बात पहेली लग रही थी कि यह लड़की उस जैसे लड़के से शादी करने के लिए राज़ी क्यों है? अस्ल में, अरुण हर बात में यानी दौलत, रुतबा, हैसियत और लुक्स वगैरह में निकी से कमतर ही था. अब उसे यह समझ में नहीं आ रहा था कि निकी उससे शादी करना क्यों चाहती है. इसके लिए उसने अपने स्तर पर निकी से बातचीत की लेकिन उसे कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

शादी कर लेने से पहले अरुण ने सोचा कि वह तसल्ली कर ले इसलिए उसने एक दोस्त की सलाह पर इस तरह की तफ्तीश करने वाले प्राइवेट डिटेक्टिव से संपर्क किया और अब यह केस शुरू हुआ. ये पूरी कहानी अरुण बता चुका था और इसी आधार पर जासूसी की शुरुआत की जाना था. फिज़िकल और डिजिटल सर्विलांस के साथ ही निकी का पूरा अतीत भी जानना था ताकि किसी नतीजे पर पहुंचा जा सके. अब निकी पर नज़र रखना शुरू किया गया.

निकी आॅफिस जाती, कभी मीटिंग्स के लिए आलीशान होटलों किसी कॉर्पोरेट आॅफिस में जाती और फिर अपने घर पहुंचती. अपने दोस्तों के साथ खाली वक्त में सिनेमा और मॉल्स में शॉपिंग के लिए भी निकी स्पॉट की गई. लेकिन एक हफ्ते तक फॉलो करने में ऐसा कुछ नहीं लगा कि वह गलत है. फिर एक दिन वह शाम को जब अपने घर लौटी तो कुछ देर बाद एक लड़का उसके घर एक बड़ी कार से पहुंचा. यह लड़का रात को उसके घर में दाखिल होने के बाद सुबह घर से गया.

अब पता यह करना था कि यह लड़का कौन था. फिर तफ्तीश शुरू हुई. अब तक निकी के सर्कल से जो बातें निकी के बारे में पता चली थीं, उनके आधार पर तो निकी एक शरीफ और अच्छे चाल चलन की ही लड़की मालूम हो रही थी. अब इस लड़के पर भी नज़र रखी गई और इधर निकी से जुड़े कुछ दस्तावेज़ हासिल करने की जुगत लगाई गई. उसके परिवार का पता मिला और वहां जाकर भी कुछ पूछताछ की गई तो यह समझ में आ गया था कि कुछ न कुछ गड़बड़ ज़रूर है.

दो बातें अटपटी थीं जो शक पैदा कर रही थीं. पहली यह कि बगैर किसी फाइनेंशियल सपोर्ट या मज़बूत बैकग्राउंड के निकी ने बिज़नेस कैसे शुरू किया और इतनी जल्द इतनी तरक्की कैसे कर ली. और दूसरी बात यह कि उस लड़के के साथ निकी का क्या रिश्ता था जो उस रात उसके घर जाते देखा गया था. सर्विलांस और निकी से जुड़े दस्तावेज़ों को जुटाने की जुगत जारी रही और जल्द ही एक बड़ा खुलासा हो गया.


निकी का बिज़नेस अस्ल में निकी का था ही नहीं बल्कि इसमें किसी आदित्य नाम के आदमी का पैसा लगा हुआ था और मालिकाना हक भी आदित्य के ही नाम था. निकी एक तरह से इस बिज़नेस की केयरटेकर या सुपरवाइज़र की तरह थी लेकिन उसका रुतबा और बर्ताव मालिक की तरह था. यह खुलासा होते ही शक होने लगा था कि आदित्य के साथ निकी का कोई न कोई छुपा हुआ संबंध ज़रूर था. कुछ और दिनों के सर्विलांस के बाद आदित्य का भी पता चल गया और अब निकी और आदित्य दोनों निगरानी में थे.

आदित्य वही लड़का था जो उस रात निकी के घर जाते हुए देखा गया था. आदित्य के साथ निकी के अंतरंग संबंधों की बात सामने आई और दोनों हफ्ते में कम से कम एक बार निकी के घर पर साथ रहते हुए देखे गए. अब यह भी पता चल चुका था कि आदित्य का एक बिज़नेस निकी संभालती है और दोनों के बीच प्रेम प्रसंग है. आदित्य ने ही निकी के लिए एक घर खरीदा हुआ है और तमाम ऐशो आराम मुहैया करवा रखा है.

आदित्य की कुछ मजबूरियां थीं. आदित्य शादीशुदा था और उसके ससुराल के साथ बिज़नेस रिलेशन भी थे इसलिए वह अपनी बीवी को तलाक नहीं दे सकता था. नतीजतन उसने निकी के साथ अपने अफेयर को छुपाकर रखा था और एक तरह से निकी को नाजायज़ बीवी के तौर पर उसने दूसरे घर में रखा हुआ था. अब सवाल यह था कि अगर ऐसा है तो निकी दूसरी शादी यानी अरुण के साथ शादी क्यों करना चाहती है.

love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

निकी के परिवार और उस छोटे से कस्बे में जाकर जब निकी को जानने वाले कुछ लोगों से फिर पूछताछ की गई तो यह बात पता चल गई कि निकी के परिवार को कुछ समय पहले ही इस बात का पता चला था कि वह शादीशुदा आदित्य के साथ एक नाजायज़ रिश्ते में रह रही है इसलिए उसका परिवार उससे बेहद नाराज़ था. परिवार और समाज की नज़रों पर एक परदा डालने और आदित्य के साथ अपने रिश्ते को कंटिन्यू करने के लिए निकी शादी करना चाहती थी.

यह शादी निकी के लिए केवल एक नाटक की तरह थी क्योंकि उसका मकसद यही था कि वह किसी मामूली लड़के से शादी कर ले ताकि उसकी आज़ादी पर कोई पाबंदी न लगे. वह लड़का उसके रुतबे और शानो-शौकत में खुश रहे और उस पर कोई रोक टोक न करे. इसी साज़िश के तहत निकी ने अरुण के साथ प्यार का नाटक कर शादी तक बात पहुंचाने का खेल खेला था. अब यह सारी हकीकत अरुण के सामने थी.

पूरा सच जानने के बाद अरुण के होश फाख्ता हो चुके थे और मन के एक कोने में अपनी मूर्खता के लिए खुद को कोस रहा था तो दूसरे कोने में उसे इस बात की तसल्ली भी थी कि वह एक धोखेबाज़ लड़की की चाल में आकर ज़िंदगी के एक अहम फैसले के गलत होने से किसी तरह बच गया.

(यह कहानी दिल्ली की एक प्राइवेट जासूस Bhavna Paliwal के करियर में आए एक केस पर आधारित है जिसके किरदार वास्तविक हैं, बस उनके नाम नहीं.)

ये भी पढ़ें

#LoveSexaurDhokha: पति को उस हालत में पकड़ा जहां सबूत की ज़रूरत नहीं होती
काले जादू के चक्कर में चेले ने अपने गुरु के पूरे परिवार का किया खात्मा
#LoveSexaurDhokha: बीवी कहती थी मुंबई गई है लेकिन रहती गुड़गांव में ही थी
वो बेकसूर था, पहली बार जेल गया था लेकिन पुराने कैदी उसे पहचानते थे!
#LoveSexaurDhokha: बच्चे ने जैसे ही बाप का नाम बताया, गुत्थी सुलझ गई

PHOTO GALLERY : वो अजनबी कह रहा था - 'तुम्हीं तो चाहती थीं कि मैं तुम्हारा रेप करूं!'
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर