भोली-भाली बीवी को उस 'दलदल' से बचाने के लिए उसने किया कत्ल!

LoveSexaurDhokha: पहले उसे दूसरी बिरादरी की लड़की से प्यार हुआ. प्यार के लिए वह घर जमाई बना, फिर उसकी सास की हकीकत उस पर खुली. कत्ल तक पहुंची हरिद्वार की ये कहानी सुनकर जांच करने वालों के भी होश उड़ गए.

Rajesh Dobriyal | News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 7:06 PM IST
Rajesh Dobriyal | News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 7:06 PM IST
यह कहानी ऐसे आदमी की है जिसने अपनी बीवी को बदनामी के दलदल से बचाने के लिए एक क़त्ल कर दिया. इस कहानी में प्यार है, गुस्सा है, चिंता है, सेक्स और मर्डर भी. धर्मनगरी हरिद्वार में इंटरकास्ट लव मैरिज करने वाले शंकर गिरी को अपनी सास की हत्या के आरोप में पुलिस ने गिरफ़्तार किया तो उसकी कहानी सुनकर खुद पुलिसवाले भी चौंक गए.

READ: बेवफाई व खुदकुशी के दस्तावेज़ बनीं चिट्ठियां

मूलतः उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के रहने वाले शंकर का परिवार कुछ साल पहले उत्तराखंड के हरिद्वार आकर बस गया था. घर में मां-बाप के अलावा तीन भाई और एक बहन हैं. पूरा परिवार मेहनतकश है और सभी कुछ न कुछ काम करके हंसी-ख़ुशी ज़िंदगी बिता रहे थे. काम के सिलसिले में ही शंकर हरिद्वार की मलिन बस्ती धर्मपुरी पहुंचा और टेलर के पास सिलाई सीखने लगा.



READ: बॉयफ्रेंड के धोखे में किसी और के साथ SEX

यहां पड़ोस में ही अपनी मां के साथ अन्नू रहती थी. 23-24 साल की अन्नू से 25-26 साल के शंकर की बातचीत होने लगी और फिर प्यार हो गया. शंकर ने अन्नू से शादी की इच्छा जताई तो उसकी मां लक्ष्मी ने एक शर्त रख दी. शर्त थी कि उसे घर जमाई बनना पड़ेगा. खुद लक्ष्मी एक दुकाननुमा कमरे में रहती थी, जिसे शायद पहले दुकान खोलने के इरादे से ही बनाया गया था और फिर रहने के लिए इस्तेमाल किया जाने लगा.

कुछ ही वक्त के प्यार की ख़ातिर शंकर ने शर्त मान ली. हालांकि हरिद्वार में ही उसका अपना घर इस घर से बेहतर था. पिछले साल अक्टूबर में शंकर और अन्नू की शादी हो गई. लक्ष्मी के मकान में पीछे की तरफ़ पहली मंज़िल पर एक और कमरा था. लक्ष्मी रात को बेटी और दामाद को सोने के लिए उस कमरे में भेज देती थी. शुरूआत में शंकर को कुछ अजीब लगा लेकिन फिर वह राज़ी हो गया.

haridwar news, man killed mother in law, सास की हत्या, हरिद्वार समाचार, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
Loading...

माजरा अस्ल में कुछ और था
एक-डेढ़ महीने में ही शंकर को लक्ष्मी के रंग-ढंग अजीब लगने लगे. शंकर ने देखा कि उनके जाने के बाद लक्ष्मी के पास कुछ आदमियों का आना-जाना शुरू हो जाता था. रात को उसका फ़ोन बजता रहता और आदमी आते-जाते रहते थे.

शंकर को जब पूरा माजरा समझ में आया, तो पहले वह गुस्से से भर उठा. लेकिन, फिर ठंडे दिमाग से उसने अपनी सास लक्ष्मी को समझाने की कोशिश की. उसने अपनी बीवी को भी समझाने की कोशिश की और कहीं और चलकर रहने को कहा लेकिन अन्नू ने अपनी मां को छोड़ने से इनकार कर दिया.


दरअस्ल, अन्नू कुछ दब्बू स्वभाव की थी और हमेशा से अपनी मां के असर में रही थी. एक बार गुस्से में शंकर घर छोड़कर चला गया तो अन्नू भी उदास और खिन्न रहने लगी. लक्ष्मी को बेटी की उदासी के बाद यह डर भी लगा कि शंकर बाहर किसी से उसका राज़ न खोल दे इसलिए वह शंकर को मनाने पहुंची. उसने शंकर से कहा कि अब वह शिकायत का मौक़ा नहीं देगी. लक्ष्मी के इस वादे पर शंकर लौट आया.

कुछ दिन सब ठीक रहा लेकिन फिर वही सब शुरू हो गया. अब तक शंकर को यकीन हो गया था कि लक्ष्मी जिस्मफरोशी के धंधे में थी. लक्ष्मी को समझाने की शंकर की सारी कोशिशें नाकाम हो रही थीं और दूसरी तरफ उसे अपनी मासूम बीवी अन्नू की चिंता सता रही थी. उसे डर था कि बदचलन सास कहीं उसकी बीवी को भी इसी बदनाम धंधे में न धकेल दे.

बेबुनियाद नहीं था शंकर का डर
शंकर गंगाघाट पर शिवलिंग पर दूध चढ़ाने के लिए श्रद्धालुओं को दूध बेचने का काम करता था. वह शाम को लौटता तो देखता कि मां-बेटी दोनों ही घर पर नहीं होतीं. पूछने पर कोई भरोसे लायक जवाब भी नहीं मिलता था.

पिछले दिनों एक रात अन्नू और शंकर जब अपने कमरे में आ गए तो शंकर ने खाना खाने के बाद कपड़े धोए. वह अभी लेटा ही था कि उसे लक्ष्मी के कमरे से कुछ आवाज़ें आईं. उसने उठकर झांका तो देखा कि दो आदमी लक्ष्मी के कमरे से बाहर निकल रहे थे. तमतमाया शंकर उस कमरे में पहुंचा और लक्ष्मी से पूछा कि वो आदमी कौन थे? इस पर लक्ष्मी ने उसे बाहर खदेड़ने की कोशिश की.

haridwar news, man killed mother in law, सास की हत्या, हरिद्वार समाचार, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

शंकर ने लक्ष्मी से कहा कि वह ये सब छोड़ दे क्योंकि वह इतना कमा लेता था कि तीनों लोग आराम से गुज़र बसर कर सकते थे. लेकिन लक्ष्मी ने उसे अपनी कमाई पर पलने वाला दलाल तक कह डाला. शंकर गुस्से से फट गया और कमरे में पड़े हथौड़े से उसने लक्ष्मी पर हमला करना शुरू कर दिया. गुस्सा शांत होने पर वह वहां से निकला और थोड़ी ही देर में गंगा घाट पर चला गया.

20 जनवरी को अन्नू ने पुलिस में अज्ञात के ख़िलाफ़ मां की हत्या की शिकायत की. पुलिस ने मौक़ा-ए-वारदात पर जाकर देखा तो साफ़ नज़र आया कि कोई जबरन नहीं घुसा था और इस वारदात में किसी परिचित का ही हाथ था. हालांकि लूट का मामला दिखाने की गरज़ से शंकर ने वहां सामान उलट-पलट दिया था. अन्नू ने पुलिस को बताया कि उसकी मां के पास न ज़ेवर थे और न कैश.

पुलिस ने पूछताछ की तो शंकर बार-बार बयान बदलने लगा. पुलिस ने शुरूआत से ही उसे संदिग्धों की लिस्ट में डाल दिया. उसकी कॉल डिटेल्स निकलवाई गईं तो पता चला कि जिस समय वह खुद को सोता हुआ बता रहा था तब वह उसी मोहल्ले में रहने वाले अपने दोस्त से बात कर रहा था. इसके अलावा अचानक उसका फ़ोन स्विच ऑफ हो गया था यानी उस समय उसकी लोकेशन मैप से गायब हो गई थी.

इसके बाद पुलिस ने शंकर से सख्ती से पूछताछ की तो वह टूट गया. उसने सारी कहानी पुलिस के सामने उगल दी. पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हथौड़े को भी बरामद कर लिया. 24 जनवरी को हरिद्वार के एएसएसपी ने तीन दिनों के भीतर इस ब्लाइंड मर्डर का खुलासा करने वाले पुलिसकर्मियों की तारीफ़ की.

शंकर अब सलाखों के पीछे है. लक्ष्मी की मौत हो चुकी है और अपने जिस प्यार की चिंता में शंकर ने अपनी सास की जान ली, वह अब मलिन बस्ती धर्मपुरी में अकेली है. शंकर जानता है कि अन्नू भोली है और यह भी कि लक्ष्मी को जानने वाले उसका घर पहचानते हैं. अब जेल में शंकर को यही चिंता है कि अन्नू कैसे खुद को महफूज़ रख सकेगी?

(यह कहानी इस केस के जांच अधिकारी इंस्पेक्टर प्रवीन कोश्यारी से बातचीत पर आधारित है)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

अपराध की और कहानियों के लिए क्लिक करें

बीवियों, महबूबाओं, दोस्तों, दुश्मनों सबकी जासूसी करता था 'बौना'
ये है 'बौने' का 'लॉलीपॉप', अंडरवर्ल्ड में 20 साल चला जिसके नाम का सिक्का!
'शायद मरना ही आसान है' - डॉक्टर को लिखे वो ख़त सुसाइड नोट्स थे?

PHOTO GALLERY : चापो की आशिकी, अय्याशियों और रेप के किस्से
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...