The Misfits: वो उस 'सेक्स सिम्बल' स्टार के लिए बाप भी बनना चाहता था, पति भी

LoveSexaurDhokha: अपने वक्त की सबसे बड़ी स्टार, लेकिन उसकी इमेज सेक्स सिम्बल की थी. दूसरी तरफ, अपने दौर का सबसे कामयाब लेखक था. दोनों के बीच रिश्ते की शुरूआत में ही मीडिया ने इस जोड़ी को 'मिसफिट' यानी बेमेल करार दिया था.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 5, 2019, 8:44 PM IST
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 5, 2019, 8:44 PM IST
'कुत्तों ने मुझे कभी नहीं काटा, सिर्फ इंसानों ने ही धोखा किया.'
- मर्लिन मनरो

एक चकाचौंध से शुरू हुई कहानी, किन अंधेरों में तमाम हो जाने वाली थी? न तो ये उस अदाकारा को अंदाज़ा था, दुनिया के साथ ही एक कामयाब लेखक जिसका दीवाना था, और न ही उस काबिल लेखक को, जिस पर कई फैन्स के साथ वो अदाकारा फिदा थी. हॉलीवुड 1950 के दशक में शबाब पर था और हॉलीवुड की सबसे कामयाब स्टार थी मर्लिन मनरो, जिसे सेक्स सिम्बल कहा जाता था. उन्हीं दिनों मनरो की मुलाकात मशहूर लेखक आर्थर मिलर से हुई और बात बढ़ने लगी.

READ: वो उसी डायरेक्टर को चाहती थी, जिसके साथ उसकी एक्ट्रेस बेटी का अफेयर था!

एक तरफ मनरो की शख़्सियत थी. उसकी एक शादी टूट चुकी थी. उसके बारे में हर तरफ यही कहा जाता था कि वह कितने आदमियों के साथ हमबिस्तर हो चुकी थी, उसे खुद भी नहीं याद था. अपनी फिल्मों में बेवकूफ या इस्तेमाल की जाने वाली या सिर्फ नुमाइश की चीज़ दिखने वाली औरतों के किरदार निभाने वाली मनरो अपनी खूबसूरती और अदाओं के दम पर दुनिया के दिलों पर राज कर रही थी. हॉलीवुड के कई कलाकारों के साथ ही उसका नाम सियासत और सिस्टम के कई नामों के साथ जोड़ा जाता था.



READ: 70 वर्षीय बुज़ुर्ग के परिवार को मंज़ूर नहीं था उसका प्रेम प्रसंग!

दूसरी तरफ मिलर का कद था. मिलर घोषित तौर पर वामपंथी लेखक था और उसके रचे नाटक व स्क्रिप्ट्स मशहूर हो चुके थे. मिलर की शादी चल रही थी, लेकिन नीरस ढंग से. मिलर के लिए उम्र के लिहाज़ से ये 'मिडलाइफ क्राइसिस' का दौर था और ऐसे में हॉलीवुड में फिल्मों में लेखन के काम के चलते उसका सामना मनरो से हुआ. बाकी तमाम लोगों की तरह वह भी मनरो के हुस्न का दीवाना होने से खुद को रोक नहीं सका.
Loading...

READ: पति के सोने के बाद आशिक को घर बुलाती थी

फिल्म निर्माण कंपनी फॉक्स के स्टूडियो में जब मनरो एक नाइटक्लब वाला सीन शूट कर रही थी, तब मनरो को देखने के लिए कई लोग वहां जमा होते थे. काले रंग के स्ट्रैप वाली ड्रेस में जब मनरो ने अपने होंठों को अदा से तिरछा किया तो वहां खड़े कई लोगों के साथ मिलर की सांसें भी तेज़ चलने लगी थीं. लेकिन, अगले ही पल मिलर ने खुद पर काबू पाया.

Marilyn monroe affair, Hollywood thriller, celebrity love affair, हॉलीवुड थ्रिलर, मर्लिन मुनरो का अफेयर, फिल्म स्टार अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
अपनी एक फिल्म के इस सीन से हमेशा पहचानी जाती रहीं मर्लिन मनरो.


मिलर के मन में ऐसे बदली मनरो की इमेज
इस सीन के बाद मनरो को मिलर से मिलवाया गया. दोनों एक दूसरे का नाम सुन चुके थे. मनरो ने पूरे जोश और उत्साह के साथ हाथ मिलाया तो मिलर के शरीर में जैसे एक ऊर्जा सी दौड़ गई. उसे लगा कि अगर हाथ मिलाना है तो ऐसे मिलाना चाहिए. दोनों के बीच बातचीत हुई और दोनों को एक दूसरे से इंप्रैस होने में देर नहीं लगी. मिलर अब तक मनरो को सिर्फ एक सेक्स सिंबल ही समझता था, जैसी उसकी इमेज थी, लेकिन उसे जल्द ही एहसास हुआ कि वह कोई बेअक़्ल और कमज़ोर लड़की नहीं थी.

कुछ दिनों बाद एक पार्टी में मिलर और मनरो ने साथ डांस किया. इस दौरान मिलर के कानों में भीड़ में से एक आवाज़ पड़ी, 'मनरो बहुत भोली है और ये हॉलीवुड उसे कच्चा चबा जाएगा'. ये सुनने के बाद मिलर के मन में बड़ी उथल पुथल मची. मिज़ाज से पुरुषवादी मिलर ने तय किया कि वह मनरो को बर्बाद नहीं होने देगा. उसने अपने मन में ही मनरो को महफूज़ रखने का इरादा किया, ये जानते हुए कि मनरो अपनी फितरत से ही खुद को खतरों में डालने वाली लड़की थी.

प्यार के दौर की शुरूआत
इस वक्त मिलर के एहसास गवाही दे रहे थे कि उसे मनरो से प्यार हो चुका था. मिलर ने अपने मन की बातें मनरो के सामने रखीं तो मनरो को ये सब सुनकर अच्छा लगा कि कोई आदमी उसके बारे में, उसकी केयर के बारे में इस कदर सोच रहा था. इसके बाद दोनों के बीच नज़दीकियां बढ़ीं तो मनरो ने मिलर के सामने कबूल किया कि वह करियर के लिए कई लोगों के साथ हमबिस्तर हो चुकी थी. इस कबूलनामे का मकसद था कि मनरो अपने मन का द्वंद्व ज़ाहिर करना चाहती थी और ये इच्छा भी कि अब वह ऐसा नहीं करना चाहती.

मिलर के कहने पर ही मनरो ने शूटिंग के बाद रात के वक्त लिटरेचर क्लास के लिए वक़्त निकालना शुरू किया. इसी दरमियान, दोनों के बीच दूरी का दौर आया. मिलर को अपने काम से किसी और शहर में कुछ वक्त के लिए शिफ्ट होना पड़ा और दोनों का वास्ता कुछ वक्त के लिए खत्म हो गया. लेकिन दोनों एक दूसरे की यादों में बने रहे.

Marilyn monroe affair, Hollywood thriller, celebrity love affair, हॉलीवुड थ्रिलर, मर्लिन मुनरो का अफेयर, फिल्म स्टार अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
आर्थर मिलर और मर्लिन मनरो.


कुछ साल बाद मनरो की फिल्म 'द सेवन इयर इच' पूरी हो चुकी थी. मनरो खुद के साथ वक्त बिताने के मकसद से न्यूयॉर्क पहुंची. वहां मिलर के साथ उसकी फिर मुलाकात हुई. दुनिया से छुपकर दोनों मिलने लगे. दोनों सेंट्रल पार्क के इलाके के आसपास अगल बगल साइकल चलाते और बतियाते रहते. ये साइकिल मनरो की मौत के सालों बाद तक मिलर ने संभालकर रखी थी.

कुछ ही वक्त में इस तरह छुप छुपकर दोनों के मिलने की खबरें छपने लगीं और दोनों की जोड़ी को एक अखबार में लिखा गया 'The hour-glass and the egghead' यानी 'रेतघड़ी और बुद्धिमान'. अपनी शादी से एक तरह के डिप्रेशन के अलावा मिलर को कुछ नहीं मिल रहा था. 40 की उम्र पार कर चुके मिलर ने अपनी बीवी को बच्चों के साथ छोड़कर नई ज़िंदगी जीने का फैसला किया. मिलर को यही लगता था कि वह मनरो को हासिल करके खुद को तो बचा ही सकता था, मनरो को भी महफूज़ रख सकता था.

रिश्ते का शादी का नाम देने का समय
'मैं जानता हूं कि तुम दक़ियानूसी ख़यालों वाली लड़की नहीं हो...' लेखक मिलर गहरे शब्दों और दार्शनिक अंदाज़ में मनरो को अपने मन की बात समझाकर सब कुछ छोड़कर उसका होने के लिए चल पड़ा. मनरो के लिए ये सब रोमांचक था. 'वो मेरी ज़िंदगी बेहतर बनाने मेरे पास आ रहा है...' मनरो को मिलर के दिमाग से प्यार था और अब एक दोस्त और एक प्रेमी के तौर पर भी वह उसे लुभा रहा था.

रिश्ता कुछ अजीब हो चला था. मिलर जिस तरह मनरो को सुरक्षा देने की कोशिश कर चुका था, उसके चलते पहले मनरो उसे 'पापा' तक कह चुकी थी. कभी टीचर तो कभी गाइड मान चुकी थी. उधर, एक बाप की तरह मनरो को बचाने की इच्छा रखने वाले मिलर के मन में मनरो को एक बीवी की तरह हासिल करने की ख्वाहिश भी थी ताकि वह मन के साथ उसके शरीर को भी भोग सके.

ये तार कैसे उलझ रहे थे और क्या त्रासदी रचने वाले थे? दोनों ने साल 1956 में शादी कर ली और इसके बाद मनरो ने एक बीवी के तौर पर मिलर के परिवार का पूरा खयाल रखने की कोशिश की. उसने यहूदी धर्म भी अपनाया और एक बहू और एक अच्छी बीवी की तरह घर के काम करना भी शुरू किया. लेकिन कुछ ही दिनों में मनरो को एहसास हो गया कि अब वह इस रोल और एक्टिंग से थक चुकी थी. वह घरेलू औरत नहीं, बल्कि एक कलाकार के तौर पर ही जी सकती थी.

Marilyn monroe affair, Hollywood thriller, celebrity love affair, हॉलीवुड थ्रिलर, मर्लिन मुनरो का अफेयर, फिल्म स्टार अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

मनरो को जैसे आवाज़ देते थे कैमरे, लाइट्स...
मनरो जल्द ही अपने पुराने यानी अपने खुद के किरदार में लौटी. मिलर को पहले से पता था कि मनरो ड्रग्स की आदी थी, जिसे वह मनरो की खुद को खतरे में डालने या खुद को मार डालने की फितरत कहता था. मनरो चकाचौंध से ज़्यादा वक्त तक दूर नहीं रह सकती थी क्योंकि ड्रग्स के साथ उसे इस ग्लैमर की भी लत थी. फैमिली की एक पार्टी में मिलर के पूरे परिवार ने असली मनरो को देखा जब वह एक स्किनटाइट और सीथ्रू ड्रेस पहनकर सबके सामने आ गई.

पूरे परिवार से यह बर्दाश्त नहीं हुआ और बात झगड़ों तक पहुंची. इस मनमुटाव के चलते मनरो ड्रग्स की तरफ मुड़ी और इस नशे में वह एक से ज़्यादा बार लिफ्ट में निर्वस्त्र घूमती हुई भी देखी गई और बमुश्किल उसे काबू किया गया. इन तमाम बातों के बावजूद मिलर ने यही कहा कि वह उसका पूरा अतीत भुलाकर उसके भविष्य पर बात करना चाहता था. 'मिलर छोड़ देगा', इस खयाल से डर चुकी मनरो को बड़ी राहत मिली और उसने एक बार फिर रिश्ता बचाने की कोशिश की.

दोनों ने हनीमून प्लैन किया. अस्ल में, एक फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में लंदन की यात्रा थी, जिसमें दोनों ने चेंज और हनीमून को भी क्लब करना मुनासिब समझा. इस यात्रा के दौरान मिलर को कई झटके लगे. मनरो इस यात्रा पर लंदन पहुंची तो 27 सूटकेस थे और मिलर हैरान था. हर जगह फोटोग्राफरों और फैन्स की भीड़ थी. एक पल के लिए भी मिलर के पास मनरो से शांति में दो बातें करने का वक्त नहीं था. हज़ारों लोग हमेशा मनरो पर टूटने के लिए तैयार दिखते थे.

जब सेट पर साथ काम करने पहुंचे पति पत्नी
अब मिलर को समझ में आ रहा था कि एक मेगा स्टार का पति होने का मतलब क्या था. इसके बावजूद मिलर ने खुद को संभाला. कुछ समय बाद दोनों ने साथ में एक फिल्म के लिए काम करना शुरू किया. मिलर ने देखा कि मेगा स्टार बन चुकी मनरो के शूटिंग और सेट पर बड़े नखरे थे. लेट आना, डायलॉग्स याद न करने की वजह से कई रीटेक देना, नशे में रहना और कुछ लोगों के कुछ कहने पर नाराज़ हो जाना. मनरो को सेट पर इस तरह देखकर मिलर फिर हैरान था.

मिलर की मौजूदगी में सेट पर जब अपने बर्ताव के कारण मनरो के झगड़े होते तो उसे उम्मीद रहती कि मिलर उसके पक्ष में बोले, उसका साथ दे लेकिन मिलर की नज़र में मनरो गलत थी इसलिए वह या तो चुप रहता या मनरो के खिलाफ बोलता. इन हालात में मनरो टूट जाती और फिर वही ड्रग्स और नाराज़गी... उस रात तमतमाई हुई घर पहुंची मनरो ने कुर्सी उठाकर शीशे पर दे मारी. सारी चीज़ें उठाकर फेंकीं, तोड़ीं.

मनरो : तुम मेरे पति हो या उस कमीने प्रोड्यूसर के नौकर? तुम्हें मेरा सपोर्ट करना चाहिए था. मुझे हैरेस किया जा रहा था और तुम तमाशा देख रहे थे.
मिलर : ऐसा नहीं है मैरी... तुम्हें भी पता है कि गलत तुम थीं. तुम यही चाहती हो कि तुम्हारी गलती पर पर्दा डाल दिया जाए और आंखें मूंदकर तुम्हारा साथ दिया जाए, ये कैसे मुमकिन है?
मनरो : हां, यही चाहती हूं मैं तो क्या गलत करती हूं. अपने पति से एक औरत क्या ये नहीं चाह सकती? तुम्हीं तो कहते थे कि मैं तुम्हारा खयाल रखूंगा, दुनिया से बचाता रहूंगा... क्या हुए वो सब वादे?

इसी तरह की तनातनी चलती रही और मिलर को तरह तरह के एहसास घेरने लगे. क्या वो मिस्टर मनरो बनकर रह गया है? क्या उसका काम मनरो की देखभाल करना ही है? क्या उसके गुस्से और उसके जानलेवा रवैये को बर्दाश्त करना ही है? क्या उसे अपनी बीवी के लिए 24 घंटे एक मनोचिकित्सक बने रहना है? क्या यही उसकी ज़िंदगी है जिसमें उसके काम के लिए कोई जगह नहीं?


उलझे तारों के टूटने का वक्त
यहां से दोनों के बीच रिश्ता खत्म होता चला गया. मिलर के साथ मनरो का रिश्ता खत्म होता जा रहा था. गर्भपात होने का हादसा भी हुआ था लेकिन तमाम संवेदनाओं के साथ दोनों एक दूसरे के साथ ज़िंदगी बिताने के खयाल से फारिग हो चुके थे. अपने अपने काम में मसरूफ होने के बीच मनरो ने मिलर के बारे में कहा 'मुझे अपनी ज़िंदगी में कुछ शांति, कुछ ठहराव चाहिए था और वो मुझे मिलर से मिला. उसके साथ कुछ वक्त अच्छा गुज़रा और फिर सब कुछ खो गया.' मनरो ने अपनी एक दोस्त से ये भी कहा -

मेरा एक और हिस्सा है, जो बहुत बदसूरत है. मैं चाहती हूं कि लोग मेरी इज़्ज़त करें, मेरे साथ वफ़ादार रहें और यही नहीं होता. मैं चाहती हूं कि कोई मुझे सच्चा प्यार करे - खूबसूरती के साथ मेरी बदसूरती को भी अपनाए. लेकिन सब मेरे ग्लैमर को देखते हैं और मेरी कामयाबी को चाहते हैं. फिर जब उन्हें मेरा दूसरा बदसूरत हिस्सा दिखता है तो भाग जाते हैं. यही मिलर ने किया मेरे साथ.


Marilyn monroe affair, Hollywood thriller, celebrity love affair, हॉलीवुड थ्रिलर, मर्लिन मुनरो का अफेयर, फिल्म स्टार अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship

दोनों ने पर्सनल जीवन में कड़वाहट के दौर में एक फिल्म में साथ काम किया. मिलर ने स्क्रिप्ट लिखी और मनरो ने एक्टिंग की. फिल्म थी 'द मिसफिट्स'. एक तरह से दोनों के जीवन पर ही आधारित थी. ऐसी क्रिएटिव कोशिशों के बावजूद न तो मिलर खुद को समर्पित करने के लिए तैयार था और न मनरो खुद को बदलने के लिए.

1961 में इस पांच साल के रिश्ते का अंत हुआ जब औपचारिक रूप से तलाक हुआ. करीब डेढ़ साल बाद ही अगस्त 1962 में मनरो की संदेहास्पद हालात में मौत हुई और माना गया कि यह खुदकुशी थी. ड्रग्स के ओवरडोज़ के कारण. इस खबर पर कतई हैरान न होते हुए मिलर ने कहा 'मौत को तो वह हमेशा अपने कंधों पर लिये घूमती थी, मैं उसे हमेशा उससे ही बचाना चाहता था'.

मनरो की मौत से सिर्फ चार पांच महीने पहले ही मिलर ने फोटोग्राफर इंगे से शादी कर ली थी. शायद यह भी एक वजह थी कि मनरो अपनी ज़िंदगी में पूरी तरह डिप्रेस्ड हो चुकी थी. अपनी शादी की इस नाकामी पर मनरो के शब्द रह गए - 'मैं हमेशा लॉलीपॉप के ग़लत सिरे पर ही रही.'

(यह कहानी मीडिया में रही खबरों और लेखों पर आधारित है.)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

अपराध की और कहानियों के लिए क्लिक करें

जिस मेले में विवेकानंद ज्ञान दे रहे थे, वहीं शिकार तलाश रहा था ये कातिल
वो उसी डायरेक्टर को चाहती थी, जिसके साथ उसकी एक्ट्रेस बेटी का अफेयर था!
70 वर्षीय बुज़ुर्ग के परिवार को मंज़ूर नहीं था उसका प्रेम प्रसंग!

PHOTO GALLERY : इस बार चापो खोज पाएगा जेल से भागने का रास्ता?
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...