अफेयर की उस तस्वीर के बाद बीवी तो रूठी ही, जनता ने भी पल्ला झाड़ा

LoveSexaurDhokha: सियासत में बड़े कद के बावजूद उसे अय्याश कहा जाता था. उसके अफेयर इस तरह सुर्खियों में आए कि राष्ट्रपति बन पाने की उसकी राह बंद हो गई. दूसरी तरफ, वो अपनी बीवी का गुनहगार भी बन गया.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 12, 2019, 9:22 PM IST
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 12, 2019, 9:22 PM IST
'मैंने कुछ ग़लतियां कीं, शायद बड़ी भी लेकिन वो ग़लतियां बुरी कतई नहीं थीं.'
- गैरी हार्ट, अमेरिकी राजनीतिक

लव, सेक्स और धोखा हर सोसायटी का हिस्सा रहा है क्योंकि आखिरकार हर सोसायटी में इंसान और इंसानी जज़्बात ही हैं. लेकिन, सोसायटी के लिहाज़ इन कहानियों में झूठ और सच, रंग और रूप अलग अलग दिखाई देते हैं. ऐसी ही एक हाई प्रोफाइल कहानी है, उस शख्स की, जो अपने अफेयर और फितरतों के खुलासों के कारण राष्ट्रपति बनने की दौड़ से बेदख़ल हो गया. उसकी बीवी सबके सामने तो कहती रही कि उसका पति बेदाग़ है, लेकिन घर की चारदीवारी के बीच तनाव अलग किस्म का बना रहा.

READ: नौकरानी के बच्चे की शक्ल जब घर के मालिक से मेल खाने लगी!

सोसायटी कोई भी हो, कोई बीवी ये बर्दाश्त नहीं करती कि उसका पति उसे धोखा दे. ये कहानी है अमेरिका के गैरी और उसकी बीवी ली के बीच उलझे रिश्ते की जिसमें गैरी की फितरत उलझनों की वजह बनती रही. गैरी 80 के दशक में यूएस की राजनीति में एक कद्दावर राजनीतिक था. डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से अमेरिका के राष्ट्रपति का उम्मीदवार गैरी को बनाए जाने की सुर्खियां थीं.



READ: वो उस 'सेक्स सिम्बल' के लिए बाप भी बनना चाहता था, पति भी

इससे कुछ पहले गैरी की कुछ आदतों के बारे में अफवाहें भी रही थीं और एक बीवी को तो भनक लगना ही थी. गैरी को अय्याश कहा जाने लगा था. ये भी कहा जाने लगा था कि कई लड़कियों और औरतों के साथ उसके संबंध रहे थे. ज़्यादातर होता ये था कि गैरी सिर्फ शारीरिक ज़रूरतों यानी सेक्स के लिए लड़कियों के साथ होता था. ली से वह हमेशा यही कहता था चूंकि वह एक सेलिब्रिटी पॉलीटिशियन था, इसलिए उसके विरोधी कई तरह की अफ़वाहें फैलाते रहते थे.
Loading...

ली हर बार गैरी पर भरोसा करती थी और वह राजनीतिक चालों को भी समझती थी इसलिए अपने पति को बेदाग़ ही समझती थी. लेकिन, 1979 में कुछ ऐसा हुआ था, गैरी के किसी औरत के संबंधों के बारे में एक खुलासा हुआ था और ली बेहद नाराज़ हुई थी. अगले तीन सालों तक ली ने गैरी से बातचीत नहीं की और वह उसे छोड़कर अलग रहने के लिए चली गई थी. फिर काफी मनाने और कसमों वादों के बाद ली 1982 में गैरी के पास लौट आई.

love sex politics, politician love affair, लव सेक्स और सियासत, नेता का अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
गैरी हार्ट.


इस एपिसोड का ज़िक्र मीडिया में किसी ख़ास दिलचस्पी के साथ नहीं हुआ. लेकिन इसके बाद, गैरी की अय्याशियों को लेकर मीडिया में बातचीत होना शुरू हुई. पॉलीटिकल कैंपेन में गैरी के साथ काम कर चुकी महिला अधिकार कार्यकर्ता और फेमिनिस्ट अमांडा ने मीडिया के कुछ खास लोगों को निजी स्तर पर बताना शुरू किया कि गैरी किस किस्म का अय्याश आदमी था.

अमांडा के मुताबिक गैरी के लिए 'औरतें इंसान नहीं थी, सिर्फ इस्तेमाल की चीज़ थीं. उसका बस चलता तो वह कॉलेज की हर लड़की को अपने बिस्तर पर ले जा सकता था. इससे भी ज़्यादा डरावना यह था कि वह पिछली रात हमबिस्तर हुई लड़की को अगले दिन पहचानने तक से इनकार कर देता था और ऐसे मिलता जैसे उसने पहली बार उस लड़की को देखा हो.'

READ: वो उसी डायरेक्टर को चाहती थी, जिसके साथ उसकी एक्ट्रेस बेटी का अफेयर था!

इस तरह की बातें सोसायटी के एक खास हलके में गैरी की 'वूमनाइज़र' इमेज बना रही थीं. यह भी गुपचुप ढंग से कहा गया था कि 1982 से ही गैरी एक और औरत के साथ संबंधों में था, जो एक पॉलीटिकल दलाल समझी जाती थी. बहरहाल, इन तमाम खबरों और अफ़वाहों के बीच गैरी और ली के बीच कुछ सुधर गए थे. ली वापस आ चुकी थी और सब कुछ पहले की तरह करने के लिए कोशिश कर रही थी.

कुछ वक्त बाद 1987 में कहानी ने दूसरा मोड़ लिया. साल 1986-87 के वक्त के दौरान गैरी के एक मॉडल के साथ संबंध होने की खबरें जब मीडिया में आईं तो गैरी ने आक्रामक तेवर अपनाते हुए मीडिया पर आरोप लगाए. मीडिया को बेकायदा ताक झांक करने वाला चोर कह डाला और यह चैलेंज भी उछाला कि मीडिया चाहे तो पूंछ की तरह उसके पीछे लग जाए, लेकिन उसे बोरियत और मायूसी के सिवा कुछ हासिल नहीं होगा क्योंकि अखबार उसकी जैसी छवि समझ बना रहे हैं, वह वैसा है ही नहीं.

love sex politics, politician love affair, लव सेक्स और सियासत, नेता का अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
गैरी हार्ट के अफेयर को मीडिया में सुर्खियां मिलीं.


गैरी का मकसद अस्ल में यह था कि इस तरह के तेवर से मीडिया पीछे हट जाए और राजनीति से जुड़े मुद्दों पर फोकस शिफ्ट हो. इसी दौरान गैरी को राष्ट्रपति के उम्मीदवार के तौर पर चुनने की कवायद भी जारी थी इसलिए गैरी ने ये तेवर दिखाए थे. लेकिन, मीडिया ने गैरी के इस चैलेंज को कबूल करते हुए एक तरह से उसकी चौकीदारी शुरू कर दी.

READ: 70 वर्षीय बुज़ुर्ग के परिवार को मंज़ूर नहीं था उसका प्रेम प्रसंग!

गैरी के वॉशिंगटन के बंगले पर हमेशा रिपोर्टर नज़र रखे रहते और उसके हर मूवमेंट की खबर रखते. तभी, एक अखबार को एक गुमनाम फोन से सूचना मिली कि 29 वर्षीय मशहूर मॉडल डॉना मायामी से वॉशिंगटन सिर्फ गैरी से मिलने जा रही थी. फ्लाइट से ही डॉना का पीछा एक पत्रकार ने किया. फिर पत्रकारों ने उसे गैरी के बंगले में दाखिल होते देखा. यह भी देखा कि 24 घंटे से ज़्यादा डॉना और गैरी लगातार साथ रहे. घर में भी और बाहर भी.

गैरी और डॉना के रिश्ते पर मीडिया में खबरें आना शुरू हुईं. इन खबरों के बीच, गैरी से ली ने बात की तो गैरी का जवाब वही था.

गैरी : मैं कह रहा हूं ना कि ऐसा कुछ नहीं है. मेरा यकीन करो ली, मैं सच कह रहा हूं.
ली : तुम कह रहे हो तो मैं मान रही हूं कि ये सच है. लेकिन इस बार मेरा भरोसा न टूटे गैरी, खयाल रखना.

love sex politics, politician love affair, लव सेक्स और सियासत, नेता का अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
गैरी की प्रेमिका रही डॉना राइस.


इन खबरों का पूरी तरह खंडन किया गया. गैरी ने मीडिया पर भद्दी पत्रकारिता के आरोप लगाकर इन खबरों को कोरी काल्पनिक बकवास करार दिया और कुछ पत्रकारों के खिलाफ और भी सख़्त बयान दिए. अब गैरी, गैरी पर अय्याशियों के आरोप, गैरी के मीडिया पर आरोपों से जुड़ी खबरें अमेरिका पढ़ रहा था और अमेरिका के राष्ट्रपति बनने की दौड़ में शामिल एक उम्मीदवार के चरित्र पर निगाहें गड़ाए हुए था.

मीडिया में खबरों की उथल पुथल के दो हफ्ते बाद पूरी कहानी रोमांचक हो गई. एक अखबार ने गैरी और डॉना के रोमैंटिक पोज़ में साथ होने की एक तस्वीर छापकर सनसनी फैला दी. इस तस्वीर ने उन तमाम कहानियों पर मुहर लगा दी जिनमें दावा किया जा रहा था कि 50 साल के गैरी और डॉना के बीच संबंध थे और दोनों हमबिस्तर हो रहे थे. इस तस्वीर के सोर्स का खुलासा तो बाद में हुआ लेकिन फौरन असर ये हुआ कि गैरी की राजनीतिक संभावना खत्म हो गई.

इन खबरों के कारण डेमोक्रेटिक पार्टी ने गैरी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार न बनाने का फैसला किया. गैरी के नाम की घोषणा पहले हो चुकी थी, लेकिन मीडिया के इस पूरे कैंपेन के बाद पार्टी ने गैरी का नाम वापस लेकर नया नाम घोषित किया. इसकी एक वजह एक सर्वे भी था जिसमें अमेरिका की जनता ने बहुमत से कहा कि उन्हें ऐसा राष्ट्रपति नहीं चाहिए था, जिस पर लोग भरोसा न कर सकें और जो लोगों के सामने सच न बोल सके.

love sex politics, politician love affair, लव सेक्स और सियासत, नेता का अफेयर, love sex or dhokha, detective stories, cheating stories, spouse cheating, shak, doubt, husband and wife, extra marital affairs, how woman cheat on you, tricks of cheating, detective cheating case, real stories of cheating, जासूसी कथाएं, जासूसी कहानियां, वो कैसे देता है धोखा, धोखे की कहानियां, धोखा मिलाना, चीटिंग, साथी ने दिया धोखा, शक, लव सेक्स धोखा, अवैध संबंध, detective story, love sex dhokha, illicit relationship
गैरी और डॉना की इस तस्वीर के बाद दोनों के अफेयर की पुष्टि हुई थी.


इन तमाम घटनाक्रमों के बीच गैरी और ली के रिश्ते में एक तनाव बना हुआ था.

ली : तुमने कहा था, कुछ नहीं है. ये तस्वीर कहां से आ गई फिर? क्या मतलब निकलता है इसका?
गैरी : मैं समझाता हूं. हमारे पॉलीटिकल कैंपेन के लिए डॉना साथ काम कर रही थी इसलिए मैं उससे मिला था. बात और मुलाकात प्रोफेशनल कारणों से हुई थी, पर्सनल कुछ नहीं है.
ली : शट अप गैरी. प्रोफेशनल मुलाकात थी तो एक बोट पर क्यों हो रही थी? 24 घंटे चल रही थी मीटिंग? और वो तुम्हारी गोद में बैठकर तुमसे प्रोफेशनल बातें कर रही थी? सच क्यों नहीं बोलते मुझसे?

पति पत्नी के बीच सवाल जवाब और तनातनी बनी हुई थी लेकिन मीडिया और पब्लिक के सामने ली अपने पति का साथ दे रही थी. 'गैरी ने मुझसे कहा कि ये सारी खबरें, सब कहानियां झूठी हैं. उसे बदनाम किया जा रहा है, उसके खिलाफ प्रोपेगेंडा है. गैरी तीस सालों से मेरा पति है और किसी से भी ज़्यादा मैं उसे जानती समझती हूं. वो मुझसे कह रहा है कि ये झूठ है तो मुझे विश्वास है. और अगर ऐसा हो भी तो सबसे ज़्यादा फर्क मुझे पड़ना चाहिए. जब मैं गैरी के साथ हूं तो किसी और को इस बात से क्या फर्क पड़ता है.'

इस बयान के पीछे एक उम्मीद से इनकार नहीं किया जा सकता था कि शायद गैरी किसी तरह राष्ट्रपति की दौड़ में वापसी कर सके. हालांकि गैरी और ली को करीब से जानने वालों ने कुछ वक्त बाद कहा भी कि गैरी के अफेयर की वजह से दोनों के बीच रिश्ता गड़बड़ा तो चुका था. ज़ाहिर है कोई बीवी अपने पति का अफेयर तो बर्दाश्त कर भी ले लेकिन पति का झूठ, धोखा बर्दाश्त नहीं कर सकती.

(यह कहानी मीडिया में रही खबरों और लेखों पर आधारित है.)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

अपराध की और कहानियों के लिए क्लिक करें

हीर-रांझा: ये है जस्सी के प्यार और कत्ल की वो कहानी, जिस पर बनेगी फिल्म
दूसरी बीवी को मिली एक और सौतन, सौतेली बेटियों संग मिलकर रचा हत्याकांड
बचपन की उस दोस्ती का बदला थी जवानी की ऐसी दुश्मनी!

PHOTO GALLERY : इस बार चापो खोज पाएगा जेल से भागने का रास्ता?
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...