Home /News /lifestyle /

mental stress can ruin your relationship know how to deal with it in hindi

मानसिक तनाव से बिगड़ सकता है रिश्ता, इन टिप्स को फॉलो कर बचाएं अपना रिलेशनशिप

मानसिक तनाव का असर आपसी रिश्तों पर, साभार-कैनवा

मानसिक तनाव का असर आपसी रिश्तों पर, साभार-कैनवा

रिश्ते हम सभी के लिए ज़रूरी होते हैं. हमारे सुख-दुख के साथ होने के साथ-साथ परिवार और रिश्तेदार हमें मनोबल भी देते हैं. हालांकि रिश्ते बेहतर निभे इसके लिए मानसिक शांति का होना बेहद ज़रूरी है. अगर कोई व्यक्ति मानसिक तौर पर अशांत महसूस करता है, तो उसके रिश्ते बिगड़ने की आशंका बढ़ जाती है. आज हम आपको बताते हैं, इससे बचने के उपाय.

अधिक पढ़ें ...

Mental Stress Can Affect Your Relationship– मानसिक तनाव यानी स्ट्रेस जिंदगी को कई तरह से प्रभावित कर सकता है. स्ट्रेस के कारण कुछ अच्छा नहीं लगता है और हर समय मन चिड़चिड़ा सा रहता है. अगर रिलेशनशिप में हैं और किसी पार्टनर को स्ट्रेस ज़्यादा होता है तो, उसका असर दूसरे पार्टनर पर भी पड़ता है. इसकी वजह से रिश्ता बिगड़ सकता है.

लगातार होती नोक-झोंक की वजह से दूसरा पार्टनर फ्रस्ट्रेट हो सकता है. साइकसेंट्रल के मुताबिक जिस व्यक्ति को ज़्यादा स्ट्रेस होता है, वह अपने पार्टनर को शक भरी नजरों से देखने लगता है और फिर शुरू होता है गलत फहमियों का दौर. इससे रिश्ता डगमगाने लगता है और विश्वास की डोर टूटने लगती है. जब रिश्ते में विश्वास टूट जाए, तो उसे दोबारा बना पाना काफी मुश्किल होता है. आइए जानते हैं स्ट्रेस को कैसे दूर करें, ताकि रिश्ता खराब न हो.

ये भी पढ़ें: झगड़े के बाद पार्टनर के प्रति कैसे कर सकते हैं गुस्सा शांत, जानिए ज़रूरी टिप्स

टिप्स जो तनाव को करें दूर

अगर स्ट्रेस रिश्ते पर हावी हो रहा है, तो आप दोनों कहीं एक साथ आउटिंग पर जा सकते हैं. ऐसे में पार्टनर एक-दूसरे के साथ समय बिता पाएंगे. एक साथ रहने पर एक दूसरे पर विश्वास बनने लगेगा और सारी चीजें दोबारा नॉर्मल होनी शुरू हो जाएंगी.

– हर बात पर पार्टनर पर डायरेक्ट इल्जाम लगाने की बजाए स्थिति को थोड़ी समझदारी से संभालें. जैसे उन्हें भला-बुरा सुनाने से बेहतर है इस तरह बात कहें कि ‘मैं उदास हूं’; ‘तुम्हें बोलने से पहले सोचना चाहिए.’

– अगर पार्टनर से किसी तरह की शिकायत है या फिर अगर आप खुद को नहीं संभाल पा रहे हैं, तो पार्टनर से मदद मांग सकते हैं. उन्हें सीधा अपनी स्थिति के बारे में समझाएं और जो गलत फहमियां चल रही हैं, उसके बारे में भी बताएं.

पार्टनर की बातों को सुनें न कि खुद की रक्षा करने के लिए कोई लड़ाई करें.

ये भी पढ़ें: डेटिंग और रिलेशनशिप दोनों के अंतर को समझ कर ही आगे रखें कदम

– स्ट्रेस की जड़ का पता लगाएं और दोनों पार्टनर एक-दूसरे के साथ बैठकर इसका हल निकालें, ताकि रिश्ते पर प्रभाव न पड़ सके.

– अगर इतने सब करने के बाद भी कोई हल नहीं निकल रहा है, तो कपल काउंसलर के पास जा कर समाधान निकाल सकते हैं.

Tags: Lifestyle, Relationship

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर