होम /न्यूज /जीवन शैली /ग्रैंड पैरेंट्स के साथ समय बिताना बच्चों के लिए होता है फायदेमंद, जानिए कैसे

ग्रैंड पैरेंट्स के साथ समय बिताना बच्चों के लिए होता है फायदेमंद, जानिए कैसे

ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने से बच्चों का मनोबल बढ़ता है-Image/Canva

ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने से बच्चों का मनोबल बढ़ता है-Image/Canva

वैसे तो ग्रैंड पैरेंट्स हर फैमली की नींव होते हैं. मगर आजकल की लाइफस्टाइल में ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने का मौका बहुत ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने से बच्चे बड़ों का सम्मान करना सीखते हैं.
साथ रहने से बच्चों में समर्पण और सहयोग की भावना पैदा होती है.

Benefits of spending time with grand parents: आमतौर पर दादा-दादी और नाना-नानी के पुराने किस्से सुनना अपने आप में काफी मजेदार अनुभव होता है. हालांकि, आजकल की बिजी लाइफस्टाइल में बच्चों को ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने का ज्यादा समय नहीं मिल पाता है. लेकिन क्या आप ग्रैंड पैरेंट्स (Grand parents) के साथ रहने के फायदों से वाकिफ हैं? बता दें कि उनके साथ टाइम स्पेंड कर आप अपनी जिंदगी को बेहतर बना सकते हैं.

आज के दौर में खेल, पढ़ाई और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स में वयस्त रहने के कारण बच्चों को ग्रैंड पैरेंट्स के साथ समय बिताने की बिल्कुल फुर्सत नहीं है. वहीं कुछ बच्चों का ग्रैंड पैरेंट्स से मिलना-जुलना ही बड़ी मुश्किल से हो पाता है. हालांकि, आपको जानकर हैरानी होगी किग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहना आपकी पर्सनैलिटी डेवलपमेंट में मददगार हो सकता है. तो आइए हम आपको बताते हैं कि ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने के कुछ फायदे.

ग्रैंड पैरेंट्स के साथ समय बिताने के फायदे

सोशल बनते हैं बच्चे
आजकल की ट्रेंडिंग लाइफस्टाइल में सिर्फ पैरेंट्स के साथ रहने वाले बच्चे अमूमन अन्य लोगों के साथ एडजेस्ट नहीं कर पाते हैं. वहीं ग्रैंड पैरेंट्स के होने से बच्चे न सिर्फ उनके साथ समय बिताते हैं बल्कि उनकी बात भी मानते हैं. साथ ही छुट्टियों में ग्रैंड पैरेंट्स के घर जाने से बच्चे परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भी घुलते-मिलते हैं और सोशल लाइफ को खुलकर इन्जॉय कर पाते हैं.

ये भी पढ़ें: बच्चों के ड्रिंक्स को लेकर सभी पैरेंट्स बरतें ये सावधानियां, नहीं होगी कोई परेशानी

बच्चों में आएगी सम्मान की भावना
ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने से बच्चे बड़ों का सम्मान करना सीखते हैं. ग्रैंड पैरेंट्स अक्सर बच्चों की नादानियों को माफ करके उन्हें सही रास्ता दिखाने का काम करते हैं. जिससे बच्चों की सहनशीलता में इजाफा होता है. साथ हीग्रैंड पैरेंट्स के साथ-साथ बच्चे सभी बड़े-बुजुर्गों को सम्मान की भावना से देखते हैं और उनकी सलाह को नजरअंदाज नहीं करते हैं.

ये भी पढ़ें: बच्चे की ज़िद मानकर आप भी उसका मेकअप कर देते हैं, तो जानें इसके नुकसान

कॉन्फीडेंस में इजाफा
ग्रैंड पैरेंट्स के साथ या ज्वाइंट फैमली में रहने से बच्चों का मनोबल बढ़ता है. ऐसे में बच्चे हर परिस्थिति में खुश रहने की कोशिश करते हैं.

साथ ही मुश्किलों से डरने के बजाए उनका डट कर सामना करने में यकीन रखते हैं. इसके अलावा ग्रैंड पैरेंट्स के साथ रहने से बच्चों में समर्पण और सहयोग की भावना भी पैदा होती है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Child Care, Lifestyle, Parenting

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें