साथी रहेगा नजरों के सामने तो सह सकते हैं ज्यादा दर्द: रिसर्च

News18Hindi
Updated: September 6, 2019, 1:47 PM IST
साथी रहेगा नजरों के सामने तो सह सकते हैं ज्यादा दर्द: रिसर्च
साथी रहेगा नजरों के सामने तो सह सकते हैं ज्यादा दर्द: रिसर्च

इस बात को समझने के लिए शोधकर्ताओं ने रिसर्च में शामिल लोगों के नाखूनों पर प्रेशर डाला और देखा कि जिनका पार्टनर उनके पास था वो कितनी तकलीफ सह पाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2019, 1:47 PM IST
  • Share this:
प्यार एक ऐसा खूबसूरत है जो हर तकलीफ और दुख को आधा कर देता है. यहां तक कि वैज्ञानिकों का भी ऐसा मानना है कि अगर आप अपने साथी के साथ तो किसी भी तरह की तकलीफ और दर्द को आसानी से बर्दाश्त कर लेते हैं. इसे इस तरह से समझ सकते हैं कि आपकी सहन शक्ति कई गुना बढ़ जाती है. वैज्ञानिकों ने रिसर्च के बाद यह निष्कर्ष दिया कि चाहे साथी भले ही आपसे बिलकुल बात न करे या आपको हग न करे या हाथ न थामे लेकिन मुश्किल हालात में अगर वो केवल आपकी आंखों के सामने रहता है तो आपको कोई भी दर्द बर्दाश्त करने में ज्यादा तकलीफ का एहसास नहीं होता है.

इस बात को समझने के लिए शोधकर्ताओं ने रिसर्च में शामिल लोगों के नाखूनों पर प्रेशर डाला और देखा कि जिनका पार्टनर उनके पास था वो कितनी तकलीफ सह पाए. नतीजे चौंकाने वाले थे, वैज्ञानिकों ने पाया कि जिन लोगों का साथी इस दौरान उनके साथ था उन्हें तकलीफ का एहसास कम हुआ बजाए कि उन लोगों के जो अकेले थे. उन्होंने यह भी देखा कि इस दौरान जरूरी नहीं कि दोनों साथी एक दूसरे के करीब रहे हों बल्कि साथी को देखने भर से उनकी तकलीफ काफी कम हो गई.

ऑस्ट्रिया के शोधकर्ताओं ने यह भी देखा कि जब लोगों का साथी उनके प्रति हमदर्दी जताता है तो लोगों को दर्द से निजात मिलने में आसानी रहती है. शायद कभी आपने भी महसूस किया हो कि जब आप बेहद टूटा हुआ महसूस कर रहे थे तो किसी प्रिय की मौजूदगी से आपको तकलीफ से काफी हद तक निजात मिलती है. आप खुद को काफी मजबूत महसूस करते हैं.

इस रिसर्च को लीड करने वाले शोधकर्ता स्टीफन डस्क ने इस सिलसिले में कहा है कि बुरे समय में साथी से बात करने, उसे छूने या देखने भर से ही दर्द और तकलीफ का एहसास काफी हद तक कम हो जाता है. शोधकर्ताओं ने इस 48 जोड़ों को इस शोध में शामिल किया था.  बता दें कि University of Health Sciences, Medical Informatics, आस्ट्रिया के Technology in Hall और University of the Balearic Islands in Palma de Mallorca, Spain, ने इस शोध को किया.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रिश्ते से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 1:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...