क्या आप भी बैठे-बैठे पैर हिलाते हैं? ये है बीमारी का संकेत

बैठे-बैठे या सोते हुए पैर हिलाने की आदत इस बीमारी की ओर इशारा करती है.

News18Hindi
Updated: May 18, 2018, 2:24 PM IST
क्या आप भी बैठे-बैठे पैर हिलाते हैं? ये है बीमारी का संकेत
पैरों को हिलाना हो सकता है बीमारी का संकेत
News18Hindi
Updated: May 18, 2018, 2:24 PM IST
आपके आसपास भी ऐसे कई लोग होंगे जो बैठकर बात करते हुए जोर-जोर से पैरों को हिलाते रहते हैं. कई बार लेटे हुए पैर हिलाने की आदत कई लोगों में होती है. इस आदत से कोई नुकसान दिखाई नहीं देता लेकिन इसके कई स्वास्थ्यगत नुकसान हैं. और खासतौर पर ये इशारा है शरीर में आयरन की कमी का. इसलिए आप भी ऐसे लोगों को टोककर ही कर्तव्य की इतिश्री न कर लें, बल्कि पूरा चेकअप करवाएं.

यह समस्या लगभग 10 फीसदी लोगों को होती ही है. 35 साल से अधिक उम्र में लोगों में यह अधिक कॉमन है. रेस्टलेस सिंड्रोम नर्वस सिस्टम से जुड़ी बीमारी है. हालांकि पैर हिलाते रहने की कोई और वजह भी हो सकती है. तो एक्सपर्ट से सलाह लिए बिना कोई वजह न मानें.

पैर हिलाने पर व्यक्ति में डोपामाइन हॉर्मोन निकलता है, जिसके कारण उसे ऐसा बार-बार करने का मन करता है. इस समस्या को स्लीप डिसऑर्डर भी कहा जाता है. नींद पूरी न होने पर इंसान थका हुआ महसूस करता है. इसका जांच करने लिए ब्लड टेस्ट किया जाता है.

यह रोग आयरन की कमी के कारण हो जाता है. इसके अलावा किडनी, पार्किंसंस से पीडि़त मरीजों व गर्भवती महिलाओं में डिलीवरी के अंतिम दिनों में हार्मोनल बदलाव भी कारण हो सकते हैं. शुगर, बीपी व हृदय रोगियों में इसका खतरा ज्यादा रहता है.

इस बीमारी के इलाज के लिए आयरन की दवा ली जाती है. बीमारी गंभीर होने पर अन्य दवाएं दी जाती हैं जो सोने से दो घंटे पहले लेनी होती है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर