जन औषधि केंद्रों पर आज से एक रुपये में बिकेगा सैनिटरी नैपकिन

News18Hindi
Updated: August 27, 2019, 8:21 AM IST
जन औषधि केंद्रों पर आज से एक रुपये में बिकेगा सैनिटरी नैपकिन
जन औषधि केंद्रों पर एक रुपये में बिकेगा सैनिटरी नैपकिन

रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री मनसुख मांडविया ने 'पीटीआई भाषा' से साक्षात्कार में कहा कि बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी नैपकिन 'सुविधा' 27 अगस्त से जन औषधि केंद्रों पर सब्सिडी दर पर उपलब्ध होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2019, 8:21 AM IST
  • Share this:
सरकार ने अपने जन औषधि केंद्रों पर बिकने वाले सैनिटरी नैपकिन की कीमत घटाकर एक रुपये प्रति पैड करने की घोषणा की है. वर्तमान में इसका मूल्य ढाई रुपये है. सरकार ने महिला स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाया है. रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री मनसुख मांडविया ने 'पीटीआई भाषा' से साक्षात्कार में कहा कि बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी नैपकिन 'सुविधा' 27 अगस्त से जन औषधि केंद्रों पर सब्सिडी दर पर उपलब्ध होगा.

मांडविया ने कहा कि चार पैड के पैक की कीमत फिलहाल10 रुपये है. मंगलवार से इसका दाम चार रुपये होगा. उन्होंने कहा, "हम कल (मंगलवार) से ओक्सो-बायोडिग्रेडेबल सैनिटरी नैपकिन एक रुपये में पेश कर रहे हैं. सुविधा ब्रांड नाम से ये नैपकिन देशभर के 5,500 जन औपधि केंद्रों में उपलब्ध होगा."

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कीमत में 60 प्रतिशत की कटौती के साथ नरेंद्र मोदी सरकार ने भाजपा की ओर से आम चुनाव 2019 में अपने घोषणा पत्र में किए गए वादे को पूरा किया है. मांडविया ने कहा , " वर्तमान में विनिर्माता उत्पादन लागत पर सैनिटरी नैपकिन की आपूर्ति कर रहे हैं. इसलिए हम , नैपकिन के खुदरा मूल्य को नीचे लाने के लिए सब्सिडी देंगे. "

सब्सिडी पर खर्च को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि यह बिक्री पर निर्भर करेगा. उन्होंने कहा कि सैनिटरी नैपकिन योजना की घोषणा मार्च, 2018 में हुई थी और ये मई, 2018 से जन औषधि केंद्रों पर उपलब्ध हैं.

मांडविया ने कहा , " पिछले एक साल के दौरान जन औषधि केंद्रों से करीब 2.2 करोड़ सैनिटरी नैपकिन की बिक्री की गई है. कीमतों में कमी से हम बिक्री में दोगुना उछाल की उम्मीद है. हम गुणवत्ता , किफायत मूल्य और पहुंच पर ध्यान दे रहे हैं. "

उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब बाजार में सैनिटरी नैपकिन की औसत कीमत छह से आठ रुपये है. यह महिलाओं को सशक्त बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार इन सब्सिडी वाले सैनिटरी नैपकिन की कालाबाजारी को रोकने के लिए हर जरूरी कदम उठाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 27, 2019, 8:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...