#काम की बात : क्‍या पहली बार सेक्‍स का अनुभव तकलीफदेह होता है?

#काम की बात : क्‍या पहली बार सेक्‍स का अनुभव तकलीफदेह होता है?
यह एक ऐसा सवाल है, जो अकसर युवाओं के मन में उठता है.

कुछ सच, कुछ भ्रम, कुछ जिज्ञासा के चलते अकसर युवकों और युवतियों, दोनों को यह चिंता सताती है कि पहली बार सेक्‍स का अनुभव तकलीफदेह हो सकता है.

  • Share this:

    (आज से हम एक नया कॉलम शुरू कर रहे हैं- #काम की बात.  देश के जाने-माने सेक्‍सोलॉजिस्‍ट डॉ. पारस शाह इस कॉलम में आपके सेक्‍स संबंधी सवालों के जवाब देंगे, जिज्ञासाओं को हल करेंगे और समस्‍याओं के समाधान बताएंगे.)

    प्रश्‍न- क्‍या पहली बार सेक्‍स करने में दर्द होता है?

    डॉ. पारस शाह



    उत्‍तर - यह एक ऐसा सवाल है, जो अकसर युवाओं के मन में उठता है. कुछ सच, कुछ भ्रम, कुछ जिज्ञासा के चलते अकसर युवकों और युवतियों, दोनों को यह चिंता सताती है कि पहली बार सेक्‍स का अनुभव तकलीफदेह हो सकता है. इस धारणा को बनाने में हमारे सिनेमा और पत्र-‍पत्रिकाओं का भी योगदान है. लड़कियों में ये डर लड़कों के मुकाबले ज्‍यादा रहता है.

    ये तो हुई मन में उपजने वाली शंकाओं की बात. आइए, अब यह समझने की कोशिश करें कि इस बात में कितनी सच्‍चाई है. ये बात सच है कि पहली बार सेक्स करते समय दर्द होने की आशंका ज्‍यादा होती है, लेकिन ऐसा तभी होता है जब फीमेल पार्टनर का प्राइवेट पार्ट शुष्‍क होता है. इस वजह से दोनों को ज्‍यादा दर्द हो सकता है.

    हमारे यहां सेक्‍स के बारे में ज्‍यादा जानकारी नहीं होती, इसीलिए अकसर नए जोड़ों को यह भी पता नहीं होता कि सेक्‍स से पहले स्‍त्री के यौनांग का वेट यानी गीला होना कितना जरूरी है. यौनांग के गीले होने का अर्थ है कि अब स्‍त्री का शरीर संबंध बनाने के लिए तैयार है. जब शरीर पूरी तरह तैयार हो तो पहली बार संबंध बनाने में भी दर्द नहीं होता या फिर बहुत कम होता है. ये दर्द इतना भी नहीं होता कि इससे डर लगे.

    इसलिए इस डर को अपने मन से निकाल देना चाहिए और संबंध बनाने से पहले फोरप्‍ले पर पर्याप्‍त ध्‍यान देना चाहिए. ऐसा करने से स्‍त्री का शरीर सेक्‍स के लिए तैयार हो जाएगा.

    इसीलिए कहते हैं कि सेक्‍स से पहले फोरप्ले पर ज्यादा से ज्यादा टाइम देना जरूरी है. अगर फोरप्‍ले पर ज्यादा टाइम नहीं दिया गया तो महिला का यौनांग शुष्‍क रहेगा और उसे चरम सुख का अनुभव भी नहीं होगा. इसलिए आप पहली बार सेक्स संबंध बना रहे हों या पचासवीं बार, हड़बड़ाएं नहीं, हर बार फोरप्‍ले के लिए वक्त दें.

    ये भी पढ़ें-  #काम की बात: क्या सेक्स के समय लड़कों को भी पीड़ा हो सकती है?
    #काम की बात: मैं अपने लिंग की लंबाई कैसे बढ़ा सकता हूं?