लाइव टीवी

स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए इस तरह इस्तेमाल करें शिलाजीत

News18Hindi
Updated: February 16, 2020, 9:33 AM IST
स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए इस तरह इस्तेमाल करें शिलाजीत
मर्दानगी बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करें शिलाजीत

शिलाजीत (Shilajit) के सेवन से अल्जाइमर के रोग में काफी फायदा मिलता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2020, 9:33 AM IST
  • Share this:
शिलाजीत (Shilajit)एक चिपचिपा पदार्थ है जो मुख्य रूप से हिमालय की चट्टानों में पाया जाता है. यह धीरे धीरे पौधों के विघटन (decay) से सदियों से बनता है. शिलाजीत का इस्तेमाल आमतौर पर आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया जाता है. यह एक प्रभावी और सुरक्षित सप्लीमेंट (supplement) है जो आपके पूरे स्वास्थ्य के लिए काफी असरदार और बेहतर साबित होता है. आइए वेबसाइट हेल्थलाइन में छपी रिपोर्ट के हवाले से जानते है कि शिलाजीत के सेवन के क्या फायदे हैं....

अल्जाइमर रोग:
शिलाजीत के सेवन से अल्जाइमर के रोग में काफी फायदा मिलता है. अल्जाइमर रोग एक तरह का मस्तिष्क विकार है जिसमें याददाश्त, व्यवहार और सोचने की क्षमता में दिक्कत आती है. हालांकि अल्जाइमर के लिए दवाएं उबलब्ध हैं. लेकिन शिलाजीत की आणविक संरचना के आधार पर, कुछ शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि शिलाजीत अल्जाइमर को बढ़ने से रोकता है और इसे कम करता है.

शिलाजीत के सेवन के फायदे जानें
शिलाजीत के सेवन के फायदे जानें




शिलाजीत का प्राथमिक घटक (primary component) एंटीऑक्सिडेंट है जिसे फुल्विक एसिड के रूप में जाना जाता है. यह शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट टाऊ प्रोटीन के संचय को रोकता है जोकि सेहत के लिए अच्छा होता है . टाऊ प्रोटीन आपके तंत्रिका तंत्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है.

टेस्टोस्टेरोन का कम स्तर:
टेस्टोस्टेरोन एक प्राथमिक पुरुष सेक्स हार्मोन है, लेकिन कुछ पुरुषों में दूसरों की तुलना में इसका स्तर काफी कम होता है. कम टेस्टोस्टेरोन लेवल होने से पुरुषों में यह दिक्कतें सामने आती हैं...
सेक्स ड्राइव ( कामेच्छा) का कम होना.
बाल झड़ना
मांसपेशियों का नुकसान
थकान
शरीर में वसा में वृद्धि
एक क्लिनिकल स्टडी में में, 45 और 55 वर्ष की आयु के बीच पुरुष को एक प्लेसबो दिया गया और आधे को एक दिन में दो बार शुद्ध शिलाजीत की 250 मिलीग्राम (मिलीग्राम) खुराक दी गई. लगातार 90 दिनों के बाद, अध्ययन में पाया गया कि शुद्ध शिलाजीत प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों का प्लेसबो ग्रुपसी की तुलना में काफी अधिक टेस्टोस्टेरोन स्तर था.

शिलाजीत पुरुषों में बांझपन की समस्या से निजात पाने के लिए एक अच्छा सप्लीमेंट है.
शिलाजीत पुरुषों में बांझपन की समस्या से निजात पाने के लिए एक अच्छा सप्लीमेंट है.


बांझपन की समस्या में है फायदेमंद:
शिलाजीत पुरुषों में बांझपन की समस्या से निजात पाने के लिए एक अच्छा सप्लीमेंट है. एक अध्ययन स्रोत में, 60 बांझ पुरुषों के एक समूह ने भोजन के बाद 90 दिनों के लिए दिन में दो बार शिलाजीत लिया. 90 दिनों के बाद , 60 प्रतिशत से अधिक अध्ययन प्रतिभागियों ने कुल शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि देखी. 12 प्रतिशत से अधिक शुक्राणु गतिशीलता में वृद्धि हुई थी. शुक्राणु गतिशीलता एक नमूने में शुक्राणु की क्षमता को पर्याप्त रूप से स्थानांतरित करने के लिए प्रजनन क्षमता का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है.

इसे भी पढ़ें: तेजी से फैल रहा है कोरोना वायरस, आखिर क्यों नहीं मिल रहा है इलाज? 

इसे भी पढ़ें: क्या सांप से फैल रहा है कोरोना वायरस? रिपोर्ट में सामने आई ये बा

इसे भी पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा की जिराफ प्रिंट वाली इस ड्रेस की कीमत जान उड़ जाएंगे होश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए वेलनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 16, 2020, 9:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर