भूलकर भी न लें अंगूर या संतरे के रस के साथ दवाई, हो सकती है Blood Pressure और Cholesterol की समस्या, शोध

तो इसलिए अंगूर और संतरे के रस के साथ नहीं लेनी चाहिए दवाई. शोध में हुआ खुलासा

News18Hindi
Updated: March 15, 2019, 4:34 PM IST
भूलकर भी न लें अंगूर या संतरे के रस के साथ दवाई, हो सकती है Blood Pressure और Cholesterol की समस्या, शोध
अंगूर और संतरे के रस के साथ न लें दवाई, भुगतने पड़ सकते हैं नुकसान
News18Hindi
Updated: March 15, 2019, 4:34 PM IST
अगर आप भी जूस के साथ दवाएं लेते हैं तो सावधान हो जाएं. कई तरह के फलों के रस के साथ दवाएं नहीं ली जानी चाहिए. इनमें संतरे का रस, अंगूर का रस और यहां तक कि सेब का रस भी शामिल है. जूस के साथ दवा गटकने की आपकी भी आदत हो तो तुरंत इसे बदल दें. इससे न केवल दवा का असर कम होता है, बल्कि कई बार इससे एलर्जी भी हो सकती है. कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ वेस्टर्न ओंटारियो में यह शोध किया गया. शोध के हवाले से डॉक्टर भी मरीजों को आमतौर पर दवा देते हुए सलाह दे देते हैं लेकिन कई बार मरीज इन निर्देशों की अनदेखी करते हैं और हेल्थ पर असर होता है.

Pre-Workout Diet Plan: जिम जाने या पार्क में दौड़ लगाने से पहले खाएं ये 3 चीजें, तेजी से घटेगा वजन

अंगूर का रस रक्तधारा में जाने वाली दवाओं की मात्रा कम कर देता है. डॉक्टरों ने कॉलेस्ट्रॉल, उच्च रक्तचाप और दिल की धड़कन की दवा लेने वाले मरीजों को अंगूरों का रस न पीने की चेतावनी दे रखी है.





शोध में पता चला है कि अंगूर, संतरे व सेब का रस कैंसर की दवाओं के अलावा कई तरह के एंटीबायोटिक्स का असर कम कर देता है. शोध में कई तरह के जूस के साथ अलग-अलग तरह की दवाएं दी गईं. जिन्होंने यह दवा अंगूर के रस के साथ ली, उनके शरीर ने केवल आधी दवा ही सोखी.

प्रेग्‍नेंसी में शराब पीने से हो सकती हैं ये 300 से ज्‍यादा बीमारियां, रिसर्च में हुआ खुलासा

जूस में मौजूद तत्व दवा के सोखने की क्षमता को प्रभावित करते हैं. कुछ रसायन दवा को ले जाने वाले तत्वों को बाधित कर देते हैं, जिससे दवा के सोखने की क्षमता कम हो जाती है, जबकि कुछ रसायन ड्रग्स मेटाबॉलिज्म एंजाइम जो आम तौर पर दवा को तोड़ने का काम करते हैं, उन्हें बाधित कर देते हैं.
Loading...

आम तौर पर पानी के साथ दवा लेना सुरक्षित होता है. एक घूंट की बजाय एक गिलास बेहतर होता है, क्योंकि यह दवा को घुलने में मदद करता है. ठंडे पानी की बजाए गर्म पानी ज्यादा बेहतर रहता है. जब भी कोई नई दवा शुरू करें तो डॉक्टर से बात कर लें कि उसे किस तरह से खाना चाहिए. क्या जूस के साथ लिया जा सकता है या फिर ठंडे या गुनगुने पानी के साथ लिया जाना चाहिए.
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...