• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • आसान तरीके से करें असली और नकली गुड़ की पहचान

आसान तरीके से करें असली और नकली गुड़ की पहचान

गुड़ में केमिकल मिले हो सकते हैं. (Image:shutterstock)

गुड़ में केमिकल मिले हो सकते हैं. (Image:shutterstock)

Tips to detect chemical in jaggery: आजकल बाजार में केमिकल युक्त गुड़ मिलने लगा है जो हेल्थ के लिए नुकसानदेह है. इसलिए असली गुड़ की पहचान जरूरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    How to detect chemical free jaggery: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक विश्व में 42.2 करोड़ लोगों को डायबिटीज है. डायबिटीज लाइफस्टाइल से संबंधित गंभीर बीमारी है. जब ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है, तब डायबिटीज की बीमारी लग जाती है. गलत खान-पान और ज्यादा मात्रा में चीनी के सेवन को इसके लिए जिम्मेदार माना जाता है. ज्यादा चीनी का सेवन हेल्दी व्यक्ति को भी नुकसान पहुंचा सकता है. बाजार में चीनी के कई विकल्प मौजूद हैं, लेकिन इन विकल्पों में गुड़ सबसे ज्यादा मुफीद है. गुड़ न सिर्फ शुगर के मरीजों के लिए बल्कि हेल्दी लोगों के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है. गुड़ को देसी तरीके से बनाया जाता है. हालांकि, आजकल गुड़ को ज्यादा अच्छा दिखाने के लिए इसमें कुछ केमिकल मिलाए जाने लगे हैं. ये केमिकल शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकते हैं. इसलिए असली गुड़ की पहचान जरूरी है. इंस्टाग्राम पर शेफ पंकज भदौरिया ने असली और नकली गुड़ की पहचान के तरीकों के बारे में बताया है. आप इन टिप्स की मदद से केमिकल युक्त गुड़ को पहचान सकते हैं.

    इसे भी पढ़ेंः शाम के नाश्ते में बच्चों को खिलाएं कमल ककड़ी के क्रिस्पी नगेट्स

    असली गुड़ की पहचान कैसे करें?
    गुड़ में सबसे ज्यादा सोडा का इस्तेमाल किया जाता है. जिस गुड़ में सोडा का इस्तेमाल ज्यादा होगा, वह गुड़ सफेद ज्यादा होगा. इसके अलावा केमिकल के मिले होने के कारण गुड़ देखने में बहुत ज्यादा अच्छा होता है, लेकिन ऐसा गुड़ क्वालिटी में अच्छा नहीं होगा. ऐसे गुड़ में कैल्शियम कार्बोनेट और सोडियम बाइकार्बोनेट मिला हुआ हो सकता है.

    कैल्शियम कार्बोनेट के कारण गुड़ का वजन बढ़ जाता है. जबकि कैल्शियम बाइकार्बोनेट के कारण गुड़ में पॉलिश लुक दिखता है लेकिन यह हेल्थ के लिए नुकसानदेह हो सकता है. असली गुड़ डार्क ब्राउन या काला दिखता है. गांवों में इसी तरह का गुड़ बनाया जाता है.

    इसे भी पढ़ेंः कॉन्टिनेंटल-इंडियन स्ट्रीट फूड खाने का है मन, तो Yellow Bowl का स्वाद चखें

    – केमिकल मिलाया हुआ गुड़ नमकीन और कड़वा होता है.
    – नकली गुड़ में शुगर क्रिस्टल मिलाया जाता है ताकि इसकी मिठास बढ़ जाए.
    – गुड़ अगर पानी में पूरी तरह से न घुले या गुड़ का टुकड़ा पानी के नीचे जम जाए तो ऐसा गुड़ नकली है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज