Solar Eclipse 2021: सूर्य ग्रहण के दिन दिखेगा 'रिंग ऑफ फायर', जानें समय

जानें क्यों रिंग ऑफ फायर बनता है (credit: shutterstock/ssuaphotos)

Solar Eclipse 2021: यह साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण (Year 2021 First Surya Grahan) है. सूर्य एक चांदी के जगमगाते कंगन या फिर वलय की तरह नज़र आता है. इसी स्थिति के कारण रिंग ऑफ फायर (Ring Of Fire) बनता है.

  • Share this:
    Solar Eclipse 2021: सूर्य ग्रहण ज्येष्ठ मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या की तिथि यानी कि 10 जून, गुरुवार को लग रहा है. यह साल 2021 का पहला सूर्य ग्रहण (Year 2021 First Surya Grahan) है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य ग्रहण वृष राशि और मृगशिरा नक्षत्र में लगेगा. खगोल वैज्ञानिकों का कहना है कि यह पूर्ण सूर्य ग्रहण है. हालांकि सूर्य ग्रहण भारत में आंशिक रूप से ही देखा जा सकेगा. आंशिक सूर्य ग्रहण को खंडग्रास, कंकणाकृति भी कहा जाता है. इस स्थिति में सूर्य एक चांदी के चमकते कंकण या फिर वलय के आकर में दिखाई देता है. इसे 'रिंग ऑफ फायर' (Ring Of Fire) या वलयाकार ग्रहण भी कहते हैं. आइए जानते हैं कि आखिर क्यों 'रिंग ऑफ फायर' बनता है और सूर्य ग्रहण का समय क्या है....

    यह भी पढ़ें: Solar Eclipse 2021: साल का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून को, क्या लगेगा सूतक? जानें समय



    'रिंग ऑफ फायर' बनने की वजह:
    खगोल वैज्ञानिकोंके अनुसार, अमावस्या के दिन सूर्य और पृथ्वी के बीच जब चंद्रमा आ जाता है तो ही सूर्य ग्रहण लगता है. ऐसे में चंद्रमा की छाया पूरी तरह से सूर्य को ढंक लेती है, तब ये स्थिति पूर्ण सूर्य ग्रहण कहलाती है. किन्तु जब सूर्य की छाया आकार में चंद्रमा से बड़ी होती है, और चंद्रमा की छाया सूर्य की छाया को पूरी तरह से ढंक नहीं पाती है तो ऐसे में सूर्य एक चांदी के जगमगाते कंगन या फिर वलय की तरह नज़र आता है. इसी स्थिति के कारण रिंग ऑफ फायर बनता है.

    यह भी पढ़ें: Solar Eclipse 2021: सूर्य ग्रहण के दौरान भूलकर भी ना करें ये काम, उठाना पड़ सकता है नुकसान



    सूर्य ग्रहण का समय:
    सूर्य ग्रहण 10 जून, गुरुवार को दोपहर 1 बजकर 42 मिनट से शाम के 6 बजकर 41 मिनट तक रहेगा. चूंकि भारत में ग्रहण आंशिक है. इसलिए सूतक काल मान्य नहीं होगा और कोई भी शुभ या धार्मिक कार्य बंद नहीं किए जाएंगे. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)