लाइव टीवी

स्पर्म काउंट को बुरी तरह प्रभावित करता है तनाव: स्टडी


Updated: March 26, 2020, 10:55 AM IST
स्पर्म काउंट को बुरी तरह प्रभावित करता है तनाव: स्टडी
स्पर्म काउंट को बुरी तरह प्रभावित करता है तनाव

जैविक तंत्र की रूपरेखा से पता चलता है कि अगर पिता तनाव से परेशान है तो इसका असर गर्भ में पल रहे भ्रूण के मस्तिष्क के विकास को प्रभावित कर सकता है.

  • Share this:
एक अध्ययन के अनुसार, लंबे समय तक भय और चिंता से न केवल एक व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, बल्कि एक आदमी के शुक्राणु पर भी बुरा असर डाल सकता है. Communications नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित हुए शोध के अनुसार, जैविक तंत्र की रूपरेखा से पता चलता है कि अगर पिता तनाव से परेशान है तो इसका असर गर्भ में पल रहे भ्रूण के मस्तिष्क के विकास को प्रभावित कर सकता है.

अमेरिका के मैरीलैंड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने कहा कि पैतृक तनाव का प्रभाव बाह्य कोशिकीय बदलावों के जरिए उनकी संतानों में स्थानांतरित हो सकता है.

एक्स्ट्रासेल्युलर वेसिकल्स छोटे झिल्ली से बने हुए कण होते हैं जो प्रोटीन, लिपिड और न्यूक्लिक एसिड को कोशिकाओं के बीच ले जाते हैं. शोधकर्ताओं ने कहा कि ये वेसिकल्स रिप्रोडक्टिव ट्रैक्ट में बड़ी मात्रा में पैदा होती हैं और शुक्राणु के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं.

अध्ययन के लेखक ट्रेसी बेल ने कहा, 'इतने सारे कारण हैं कि तनाव को कम करना विशेष रूप से अब फायदेमंद है जब हमारे तनाव के स्तर को लंबे समय तक बढ़ाया जाता है और अगले कुछ महीनों तक ऐसा रहेगा,'



बेल ने कहा PTI से कहा कि तनाव को ठीक से मैनेज करने से न केवल मानसिक स्वास्थ्य और अन्य तनाव संबंधी बीमारियों में सुधार आ सकता है, बल्कि रिप्रोडक्टिव सिस्टम (प्रजनन प्रणाली) पर संभावित प्रभाव को कम करने में मदद मिल सकती है. ऐसा करने से जन्म लेने वाले बच्चे पर भी नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हेल्थ & फिटनेस से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 10:09 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर