इन तरीकों से करें सिल्क की साड़ियों की देखभाल, चलेंगी सालों साल

सिल्क की साड़ी की तह समय-समय पर बदलती रहें-Image credit/ (Mandira Bedi/Instagram)

सिल्क की साड़ी की तह समय-समय पर बदलती रहें-Image credit/ (Mandira Bedi/Instagram)

सिल्क की साड़ी को पहनना (Wearing silk saree) जितना आसान है उतना ही मुश्किल है इसकी देखभाल (Difficult to take care) करना.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 12:36 PM IST
  • Share this:
महिलाओं की वॉर्ड्रोब में साड़ियां तो बहुत सारी और कई अलग-अलग फेब्रिक्स की मिल जाएंगी, लेकिन किसी खास मौके पर पहनने के लिए सबसे पहले वो सिल्क की साड़ी का चुनाव ही करती हैं. दरअसल सिल्क की साड़ी पहनने का फैशन किसी भी दौर में पुराना नहीं होता. लेकिन सिल्क की साड़ियों की कीमत और खूबसूरती जितनी स्पेशल होती है उतना ही स्पेशल होता है इनकी देखरेख करना. इनके रख-रखाव में ज़रा सी भी लापरवाही महंगी से महंगी साड़ी की खूबसूरती को पल भर में ख़राब कर सकती है. आइये जानते हैं कि सिल्क की साड़ियों के रख-रखाव में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, जिससे इनकी चमक और खूबसूरती सालों तक बनी रहे.

ज्यादा समय तक हैंगर में न टांगे

सिल्क की साड़ियों को कभी भी ज्यादा समय तक हैंगर में टांगकर न रखें. ऐसा करने से साड़ियों में मोड़ के निशान पड़ सकते हैं. अगर कुछ दिनों के लिए हैंगर में टांगना भी पड़े तो लोहे की जगह प्लास्टिक हैंगर का इस्तेमाल करें और दो-चार दिन में इसकी तह बदलते रहें.

ये भी पढ़ें: लौट रहा पुराने टाइप की ज्वेलरी का फैशन, दे रहा बंजारन लुक


 उतारने के फौरन बाद अलमारी में न रखें


जब भी किसी मौके पर आप सिल्क की साड़ी पहने तो इसको जब उतारना हो, तो उतारने के फ़ौरन बाद अलमारी में न रखें. साड़ी को खोलकर साफ़ जगह पर कुछ देर के लिए पंखे की हवा में रखें जिससे पसीना या किसी भी तरह की नमी साड़ी में न रहने पाए. वरना साड़ी खराब हो सकती है और इस पर निशान पड़ सकते हैं.



पहनने के बाद ड्राईक्लीन करवाएं

सिल्क की साड़ी जब भी पहने तो इसको वापस अलमारी में रखने से पहले ड्राईक्लीन ज़रूर करवाएं. जिससे इसकी चमक लम्बे समय तक बनी रह सकेगी और ये नई जैसी दिखेंगीं. इन साड़ियों को कभी भी घर में धोने की गलती न करें.

ये भी पढ़ें: गर्मी के मौसम में स्टाइलिश दिखने के लिए लड़कियां फ़ॉलो करें ये टिप्स



हमेशा कॉटन के कपड़े या कागज़ में लपेटकर रखें


साड़ी को हमेशा किसी कॉटन के कपड़े में लपेटकर रखें या किसी कॉटन की साड़ी में रखें. कॉटन की साड़ी या कपड़ा न होने की स्थिति में आप इन साड़ियों  को खाकी कागज़ में लपेटकर रख सकती हैं.

समय-समय पर तह बदलती रहें

सिल्क की साड़ियों को एक ही स्थिति में कभी भी न रहने दें. समय-समय पर साड़ी को खोलकर इसकी तह बदलती रहें. इससे साड़ी तह वाली जगह पर कमज़ोर पड़ने से बची रहेगी और जल्दी फटेगी नहीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज