• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • करोल बाग में फ्रंटियर होटल के पनीर बटर मसाला, दाल मखनी का लें 'स्पेशल टेस्ट'

करोल बाग में फ्रंटियर होटल के पनीर बटर मसाला, दाल मखनी का लें 'स्पेशल टेस्ट'

साल 1958 से इस रेस्तरां का संचालन किया जा रहा है. यहां सभी डिश देसी घी में तैयार होती हैं.

साल 1958 से इस रेस्तरां का संचालन किया जा रहा है. यहां सभी डिश देसी घी में तैयार होती हैं.

Delhi Food Joints: पंजाबी खाने में मशहूर पनीर बटर मसाला और दाल मखनी जैसी डिशेस का अनोखा स्वाद लेना चाहते हैं तो करोल बाग में स्थित फ्रंटियर होटल एक बार जरूर जाएं. यहां आपके पसंद का स्वाद मिलेगा.

  • Share this:

    (डॉ. रामेश्वर दयाल)

    Delhi Food Joints: शुरुआती दौर में दिल्ली की राजनीति में पंजाबियत का लंबा दौर रहा है. लेकिन दिल्ली की बढ़ती आबादी और भौगोलिक विस्तार ने इस दौर को पीछे धकेल दिया है और अब दिल्ली में सर्व-जन की राजनीति हो रही है. लेकिन हम आपको यह भी बताते चलें कि दिल्ली के खानपान में भी पंजाबियत का शानदार तड़का चलता रहा है. दिल्ली कितनी भी बदल गई हो, राजधानी में पंजाबी खाना आज भी उसी शान से नाम कमा रहा है, जैसे पहले था. संभावना है कि पंजाबी खानपान का दौर आगे भी जारी रहेगा. दिल्ली में कहीं भी चले जाइए, आपको हर जगह पंजाबियत से भरपूर खानपान मिलेगा.

    आज हम आपको ऐसे ही रेस्तरां में ले जा रहे हैं जिसका पंजाबी खाना सालों से मशहूर है. इस रेस्तरां का शानदार पनीर बटर मसाला और जानदार दाल मखनी खा लेंगे तो मन भी उमंग की हिलोर लेने लगेगा. विशेष बात यह है कि इस रेस्तरां में सारा खाना देसी घी में तैयार किया जाता है.

    पिसे काजू व मगज की तरी से बनता है पनीर बटर मसाला

    करोल बाग में विदेशी सामानों की ग्रे मार्केट गफ्फार मार्केट में पहुंचेंगे तो आपको कोई भी ‘न्यू फ्रंटियर होटल’ के बारे में बता देगा. यह बहुत पुराना होटल (रेस्तरां) है और इलाके में खानपान को लेकर बहुत मशहूर है. एक रेस्तरां में भोजन की जो विभिन्न वैरायटी होती है, वह सब यहां मौजूद है. लेकिन असली जलवे तो पनीर बटर मसाला और दाल मखनी के हैं. गाढ़ी (Rich) तरी में बना पनीर बटर मसाला खाकर
    देखिए, आनंद की अनुभूति होगी. पिसे हुए काजू और मगज में खास मसाले मिलाकर इसे तैयार किया जाता है. ऊपर से पनीर के मोटे टुकड़े व मक्खन के साथ क्रीम इस डिश को अलग ही टेस्ट देते हैं.

    यहां की विशेष बात यह है कि इस रेस्तरां में सारा खाना देसी घी में तैयार किया जाता है.

    दाल मखनी में देसी घी-मक्खन व क्रीम का फ्लेवर

    इसी तरह इनकी दाल मखनी शानदार है. महा-राजमा को बिना मसाले व लहसुन, प्याज के करीब छह घंटे मंदी आंच पर उबाला जाता है. डिमांड के अनुसार इसे तैयार किया जाता है. जैसे फ्राई पैन में पहले मक्खन
    और क्रीम डालकर उसमें कटी प्याज, टमाटर व खास मसाले डालकर भूना जाता है. फिर इसमें उबली दाल उंडेली जाती है. अच्छी तरह तैयार होने के बाद इसमें एक बार फिर से मक्खन डाला जाता है और सर्व करते समय फिर से क्रीम व हरा धनिया डाल दिया जाता है. अब इतनी मेहनत से दाल मखनी तैयार होगी तो स्वाद तो अपने आप ही लाजवाब बनकर उभरेगा.

    इस रेस्तरां में दाल मखनी की कीमत 190 रुपये है.

    वर्ष 1958 से देसी घी में बन रही हैं सारी डिश

    इन दोनों डिश को खाने का पूरा मजा उठाना है तो बटर नान या लच्छा पराठा तैयार है. पनीर बटर मसाले की कीमत 260 रुपये और दाल मखनी की कीमत 190 रुपये है. इस रेस्तरां का हैदराबादी नान भी खासा
    नाम कमा रहा है. यह तीखा चटपटा होता है और इसे बिना किसी सब्जी के खाया जा सकता है. हम बता चुके हैं कि इनकी हर डिश देसी घी में तैयार होती है. यह देसी घी पड़ोसी राज्यों की खास डेयरियों से मंगाया जाता है, ताकि स्वाद में कोई फर्क न रह जाए.

    यहां देसी घी पड़ोसी राज्यों की खास डेयरियों से मंगाया जाता है, ताकि स्वाद में कोई फर्क न रह जाए.

    पहले रोटी के साथ दाल फ्री दी जाती थी

    इस रेस्तरां की जिम्मेदारी स्नेहदीप मेहरा के पास है. वह बताते हैं कि वर्ष 1958 में उनके नाना हंसराज जी ने इस रेस्तरां को शुरू किया था. उस वक्त ढाबा था. तब नानाजी दाल रोटी बेचते थे. रोटी की कीमत
    होती थी, दाल फ्री में दी जाती थी. बाद में इस ढाबे को उनके पिताजी बलदेव सिंह ने संभाला. रेस्तरां में सब्जियों, दाल, चावल की करीब 28 वैरायटी है. इसके अलावा 15 प्रकार की रोटी, पराठा, नान आदि मिलेगा. सर्व करते वक्त साथ में अन्य सामान के साथ हरी चटनी भी दी जाती है. रेस्तरां में सुबह 11:30 बजे काम शुरू हो जाता है और रात 11 बजे तक रहता है.

    नजदीकी मेट्रो स्टेशन: करोल बाग

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज