लाइव टीवी

सड़क दुर्घटनाओं को लेकर कड़क हुई सरकार, जानिए बचाव को लेकर क्या हो रहा काम?

News18Hindi
Updated: November 29, 2019, 4:12 PM IST
सड़क दुर्घटनाओं को लेकर कड़क हुई सरकार, जानिए बचाव को लेकर क्या हो रहा काम?
यह डियाजियो का जागरूकता अभियान है.

Diageo कंपनी सभी को जागरूक करना चाहती है कि शराब का दुरूपयोग ना किया जाए. शराब पीकर गाड़ी ना चलाएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 4:12 PM IST
  • Share this:
Diageo और नेटवर्क 18 की ओर से रोड टू सेफ्टी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में लोगों को सड़क पर यातायात के नियमों का पालन करने के लिए जागरूक किया गया. इस दौरान डीजीपी यूपी पुलिस ओपी सिंह ने कहा कि लोगों को यातायात के नियमों का पालन पुलिस के डर से नहीं बल्कि अपने प्रति एक जिम्मेदारी को ध्यान में रखकर करना चाहिए. उन्होंने बताया कि लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस कई तरह के जागरूकता अभियान चलाए जाते हैं.

रोड टू सेफ्टी अभियान के चलते Diageo कंपनी सभी को जागरूक करना चाहती है कि शराब का दुरूपयोग ना किया जाए. शराब पीकर गाड़ी ना चलाएं. इसके लिए कई कॉलेजों में वर्कशॉप किए जाते हैं, जिसमें युवाओं को शराब पीकर गाड़ी ना चलाने के बारे में बताया जाता है. हास्य कवी सर्वेश अस्थाना ने अपनी कुछ पंक्तियों के साथ शुरुआत करते हुए कहा कि आज सड़क दुर्घटनाओं का मुख्य कारण है कि लोग 'पहले आप को छोड़कर पहले मैं' की भावना के साथ निकलते हैं. साथ ही उन्होंने सरकार से अनुरोध किया कि यातायात के नियमों का पालन ना करने पर चालान करने से ज्यादा लोगों हेलमेट और ज़रूरी कागज़ात बनाने में लोगों की मदद करे.

हालांकि लोगों को अपनी जन्दगी के प्रति और सजग होते हुए, अपनी सुरक्षा को सबसे पहले रखना चाहिए और नियमों का पालन करना चाहिए. आबकारी मंत्री राम नरेश अग्निहोत्री ने बताया कि आबकारी विभाग भी लोगों को जागरूक करने के लिए कई कार्यक्रम करता है. जिसमें शराब ना पीने और पीने के बाद गाड़ी ना चलाने का सन्देश दिया जाता है.

इस दौरान यूपी के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर अशोक कटारिया ने बताया कि एक्सप्रेसवे पर व सड़कों पर कैमरे लगाए गए हैं, जिससे दुर्घटनाओं को रोका जा सके और उन पर नज़र राखी जा सके. लंबी दूरी के एक्सप्रेसवे पर दोहरी ड्राइवर की सुविधा दी जाती है. जो शराब पीकर गाड़ी चलाते हैं, उनके खिलाफ कार्यवाही की जाती है. साथ ही उन्होंने बताया कि हैल्मेट पहनने वाले 10 में 9 लोग दुर्घटनाओं में अपनी जान बचा पाते हैं, जबकि ना पहनने पर 10 में 9 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है.

लोग नियमों का पालन करें, इसके लिए जुर्माने का शुल्क भी बढ़ाया गया है. हैल्मेट ना पहनने पर जहां पहले 500 रुपए का शुल्क था, अब वहां 1000 रुपए का शुल्क देन पड़ता है, जबकि नए नियमों के मुताबिक अब ये 1500 रुपए का कर दिया गया है. डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि कई लोग केवल जुर्माने की भाषा समझते हैं, इसी को देखते हुए जुर्माना बढ़ाया गया है. जिससे कम से कम लोग अपने पैसे बचाने के चक्क्र में ही सही, लेकिन अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें. वहीं समाजसेवक सर्वेश अस्थाना ने कहा कि सड़कों पर फुटपाथ को इतना ऊंचा किया जाना चाहिए कि उस पर कोई गाड़ी ना चढ़ सके. साथ ही उन्होंने स्कूल बसों को लेकर भी सुरक्षा बढ़ाए जाने की बात कही.



यूपी में यदि सालभर के आंकड़ों पर नज़र डालें तो यहां हत्याओं से 4 गुना ज्यादा मौतें सड़क दुर्घटनाओं के कारण होती है. इसको रोकने के लिए सरकार की जागरूकता अभियान, कई नए नियम और सख्त नियम लेकर आ रही है जिसके बाद इन दुर्घटनाओं को कम किया जा सकेगा.कार्यक्रम में मौजूद Diageo से जगबीर सिंह सिद्धू ने बताया कि एक बड़ी कंपनी होने के नाते Diageo ने युवाओं को शिक्षित करने की जिम्मेदारी ली है, इसलिए कंपनी अलग अलग कैंपेन के माध्यम से कॉलेजों में कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें अल्कोहल का गलत इस्तेमाल करने से बचने के बारे में जागरूक करती है. उन्होंने कहा कि युवाओं की जिंदगी देश का भविष्य है और ड्रिंक एंड ड्राइव जैसी चीजों से वो अपने जीवन को खतरे में डाल सकते हैं. इस दौरान यह भी बताया गया कि कई बार व होटल में जाकर बार टेंडर्स को भी ट्रेनिंग दी जाती है, कि वो ग्राहकों को ज्यादा शराब न पीने का संदेश दें और यदि कोई ज्यादा पी ले तो उसे गाड़ी चलकर नहीं बल्कि टैक्सी से घर जाने के लिए कहें. ड्रिंक एंड ड्राइव एक बेहद गंभीर समस्या है, जिसे रोकना बहुत ज़रूरी है और Diageo इसे रोकने में हर संभव प्रयास कर रही है.

इस कार्यक्रम में ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर अशोक कटारिया, आबकारी विभाग मंत्री राम नरेश अग्निहोत्री, डीजीपी यूपी पुलिस ओपी सिंह, Diageo से जगबीर सिंह सिद्धू और कवी व समाजसेवी सर्वेश अस्थाना मौजूद रहे. तो, गाड़ी सावधानी से चलाएं और नियमों का पालन करें.

#DriveResponsibily #RoadToSafety #JoinThePack #NeverDrinkAndDrive

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 4:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर